Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

श्रीदेवी की इस फिल्म के बारे में बोनी कपूर से माफी क्यों मांग रहे हैं सतीश कौशिक?

309
शेयर्स

साल 1993 में श्रीदेवी की चार फिल्में रिलीज़ हुई थीं. इन चार में से जिस फिल्म की सबसे ज़्यादा चर्चा थी, वो थी ‘रूप की रानी चोरों का राजा’. इस फिल्म में श्रीदेवी के साथ अनिल कपूर और जैकी श्रॉफ भी थे. इसे प्रोड्यूस कर रहे थे बोनी कपूर. सतीश कौशिक ने 1983 में आई शेखर कपूर की फिल्म ‘मासूम’ से अपना ऐक्टिंग करियर शुरू किया था और ऐक्टिंग में लगातार ऐक्टिव थे. ‘रूप की रानी चोरों के राजा’ से वो डायरेक्शन में कदम रखने वाले थे. सतीश इस फिल्म से पहले भी बोनी कपूर की फिल्म ‘मिस्टर इंडिया’ में ऐक्टिंग कर चुके थे. लेकिन फिल्म की रिलीज़ के 25 साल बाद और इसकी लीड हीरोइन श्रीदेवी की मौत के बाद सतीश ने बोनी कपूर से माफी मांगी है.

1987 में रिलीज़ हुई फिल्म 'मिस्टर इंडिया' के 27 साल पूरे होने की खुशी में फिल्म का कास्ट और क्रू.
1987 में रिलीज़ हुई फिल्म ‘मिस्टर इंडिया’ के 27 साल पूरे होने की खुशी में फिल्म का कास्ट और क्रू.

‘रूप की रानी चोरों के राजा’ बेसिकली दो भाइयों के बिछड़कर मिलने और अपने पिता के कातिल से बदला लेने की कहानी थी. इसमें लव स्टोरी भी थी. कुल जमा ये एक रिवेंज ड्रामा थी. इसके तगड़े स्टार कास्ट को देखते हुए इससे बहुत उम्मीदें थीं. इसको बनाने में बोनी कपूर ने दिल खोलकर खर्चा किया था. लेकिन समस्या ये हुई कि फिल्म रिलीज़ हुई और उम्मीदों के बोझ तले टिकट खिड़की पर औंधे मुंह गिर गई. तकरीबन सवा नौ करोड़ रुपए के बजट में बनी इस फिल्म ने पौने तीन करोड़ रुपए के आस-पास का कलेक्शन किया था.

फिल्म 'रूप की रानी चोरों का राजा' का पोस्टर और फिल्म के एक सीन में श्रीदेवी.
फिल्म ‘रूप की रानी चोरों का राजा’ का पोस्टर और फिल्म के एक सीन में श्रीदेवी.

इस फिल्म से प्रोड्यूसर बोनी कपूर को बहुत नुकसान हुआ. इतना नुकसान कि अगले दो साल तक उन्होंने कोई फिल्म प्रोड्यूस नहीं की. 16 अप्रैल, 1993 को रिलीज़ हुई फिल्म ने आज अपने 25 साल पूरे कर लिए हैं. इस मौके पर फिल्म के डायरेक्टर सतीश कौशिक ने ट्विटर पर इस बात की जानकारी देते हुए एक इमोशनल सा माफीनामा ट्वीट किया है. इस ट्वीट में वो अपनी पहली फिल्म को कभी न भूलने वाला बच्चा बताया है. और फिल्म के बॉक्स ऑफिस पर डिजास्टर साबित होने के लिए प्रोड्यूसर साहब से माफी मांगी. उनका ट्वीट देखिए:

इस ट्वीट के बाद लोगों की इस फिल्म की भूली-बिसरी यादें जाग उठीं और उन्होंने सतीश को दिलासा देना शुरू कर दिया. कई लोगों ने बताया कि ये फिल्म भले ही पिट गई लेकिन अपने समय की ये टेक्निकली स्मार्ट फिल्म थी. कुछ लोगों ने इसकी कहानी को अच्छा बताया तो कुछ लोगों ने इस फिल्म में श्रीदेवी के काम की तारीफ की. एक ट्विटर यूज़र ने इसे बुरी फिल्म भी बताया, जिसके जवाब में सतीश कौशिक ने एक और ट्वीट किया. इस ट्वीट में उन्होंने करमबीर नाम के यूज़र को जवाब देते हुए लिखा कि बात अच्छे या बुरे की नहीं है. बात है अपनी गलती और नाकामी स्वीकार करने की. पहले से चाहे आप कितने भी सफल हों ये चीज़ आपकी सफलता और आगे ले जाएगी. देखिए सतीश का वो ट्वीट:


ये भी पढ़ें:

जब शाहरुख को सिर्फ एक सफेद धोती में प्रीति के साथ पानी में गाना शूट करना था
भयानक सा लगने वाला वो विलेन, जो हीरो तो छोड़िए दर्शकों को भी डरा देता था
कौन हैं तारा सुतारिया और अनन्या पांडे, जिनके साथ टाइगर को लेकर ‘स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2’ बन रही है
शाहरुख़ से प्यार करने वाली प्रीती, जिसने आगे चलकर टीवी पर क्रिकेट शो होस्ट किए


वीडियो देखें: वो बॉलीवुड हीरोइन, जिसे डर था कि अमिताभ बच्चन उसे मरवा देंगे 

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Satish Kaushik apologised to the producer of Sridevi film Roop Ki Rani Choron Ka Raja Boney Kapoor after 25 year of its release

टॉप खबर

भारत बंद तो ठीक है, लेकिन इसमें हुई हिंसा और तोड़फोड़ की ज़िम्मेदारी कौन लेगा?

कांग्रेस की अगुवाई में 21 विपक्षी पार्टियों ने किया है भारत बंद.

सवर्णों के भारत बंद में भी हुई हिंसा, पथराव में घायल हो गए सांसद पप्पू यादव

बिहार, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और राजस्थान में दिखा सबसे ज्यादा असर.

धारा 377: समलैंगिकता पर सुप्रीम कोर्ट ने क्रांतिकारी फैसला दिया है

फैसला हाशिए में रह रहे LGBTQ समुदाय के लिए उत्सव का सबब है

कर्नाटक के विधानसभा चुनाव में हार के बाद अब निकाय चुनाव में BJP के साथ क्या हुआ?

कांग्रेस और जेडी-एस अलग-अलग लड़े, मगर फिर भी फायदा नहीं उठा पाई बीजेपी.

इंडिया vs इंग्लैंड: हाथी निकल गया मगर दुम रह गई

इंडिया और जीत के बीच अादिल राशिद आ गए.

कीनन-रुबेन मर्डर केस में जो मेन गवाह था, उसका भी मर्डर हो गया

लड़की छेड़ने का विरोध करने पर कीनन-रुबेन को मार दिया गया था, अब अविनाश को भी वैसे ही मारा गया.

नहीं रहे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी

93 साल की उम्र में एम्स में ली अंतिम सांस.

कांवड़ियों पर 'पुष्पवर्षा' के लिए किराए पर आए हेलिकॉप्टर पर तगड़ा खर्च आया

यूपी सरकार की तरफ से ये हेलिकॉप्टर लिया तो गया था कांवड़ियों पर निगरानी के लिए.

मुजफ्फरपुर जैसा देवरिया का केस, कार आती थी, 15 साल से बड़ी लड़कियों को कहीं ले जाती थी

24 बच्चियों को पुलिस ने छुड़ा लिया है, 18 अब भी गायब हैं.

मैच में चीटिंग हुई है: इंग्लैंड के 11 खेल रहे थे, इंडिया का बस एक कोहली

एक ही बल्लेबाज के भरोसे टेस्ट मैच नहीं जीते जाते.