Submit your post

Follow Us

सच में ऋषभ पंत जैसी बैटिंग आज तक कोई भारतीय नहीं कर पाया था?

ऋषभ पंत. इनकी जितनी भी तारीफ की जाए कम ही होगी. क्योंकि ये हैं ही इतने खतरनाक. जब ऋषभ पंत का बल्ला चलता है तो समां बंध जाता है. देखने वालों की मौज हो जाती है और बोलिंग टीम की फौज कम पड़ जाती है. ऐसे वाले ऋषभ पंत शुक्रवार 26 मार्च को एक बार और देखने को मिले. 33वें ओवर में क्रीज पर आए पंत ने इंग्लैंड के गेंदबाजों को जमकर धुना.

शुरुआती 14 गेंदों पर सिर्फ 11 रन बनाने वाले पंत ने अपनी पारी 40 गेंदों पर 77 रन बनाकर खत्म की. पंत ने अपना पहला छक्का अपनी पारी की 15वीं गेंद पर मारा. इस मैच में आदिल रशीद द्वारा फेंकी गई आखिरी गेंद. 38वें ओवर की इस आखिरी गेंद को पंत ने घुटने पर बैठकर मिडविकेट के स्टैंड्स में पहुंचा दिया. आगाज़ हो चुका था.

इस छक्के के बाद उन्होंने पहले अंपायर विरेंदर शर्मा का एक फैसला DRS के जरिए पलटवाया और फिर 41वें ओवर में बेन स्टोक्स को बैक टू बैक छक्के जड़ दिए. अगले ओवर में पंत ने एक बार फिर से विरेंदर शर्मा के खिलाफ सफल DRS लिया और फिर टॉम करन की हाफ-वॉली को डीप स्क्वॉयर लेग के ऊपर से स्टैंड्स में पहुंचाकर अपनी दूसरी फिफ्टी पूरी कर ली.

# Rishabh Pant Six

पंत लगातार छक्कों में डील कर रहे थे और 46वें ओवर की तीसरी गेंद पर उन्होंने सैम करन को तो एक हाथ से छक्का जड़ दिया. अगले ओवर में पंत ने सैम के भाई टॉम पर भी एक हाथ से छक्का मारा.

हालांकि कड़क बैटिंग कर रहे पंत इसी ओवर में आउट भी हो गए. ओवर की पांचवीं गेंद उड़ाने के चक्कर में वह जेसन रॉय को कैच थमा बैठे. पंत ने 40 गेंदों पर 77 रन बनाए. इस पारी में तीन चौके और सात छक्के शामिल रहे. इस पारी के दौरान उनका स्ट्राइक रेट 192.5 का रहा. वनडे क्रिकेट में आज से पहले तक इस स्ट्राइक रेट के साथ किसी भी भारतीय ने इतनी बड़ी पारी नहीं खेली थी.

हां, विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 52 गेंदों पर शतक जरूर जड़ा था लेकिन उस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 192.31 का रहा था. और हां अजित आगरकर ने जब 25 गेंदों पर 67 मारे थे तब उनका स्ट्राइक रेट 268 का था. लेकिन उनकी पारी पंत से 10 रन छोटी थी.


विराट कोहली ने मैच जीतने के बाद धवन के बारे में जो कहा वो सबको सुनना ही चाहिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सुशांत सिंह राजपूत की बहन के खिलाफ़ मुकदमा खारिज करने से सुप्रीम कोर्ट ने साफ़ इंकार कर दिया

सुशांत सिंह राजपूत की बहन के खिलाफ़ मुकदमा खारिज करने से सुप्रीम कोर्ट ने साफ़ इंकार कर दिया

सुशांत को गैरकानूनी दवाइयां देने के मामले में रिया चक्रवर्ती ने केस दर्ज करवाया था.

पंजाब से यूपी की जेल भेजा जाएगा मुख्तार अंसारी, SC में काम कर गई विजय माल्या वाली दलील!

पंजाब से यूपी की जेल भेजा जाएगा मुख्तार अंसारी, SC में काम कर गई विजय माल्या वाली दलील!

यूपी सरकार के बार-बार कहने पर भी मुख्तार को क्यों नहीं भेज रही थी पंजाब सरकार?

लॉकडाउन के दौरान लोन की EMI टाली थी तो ब्याज को लेकर सुप्रीम कोर्ट का ये फैसला पढ़ लीजिए

लॉकडाउन के दौरान लोन की EMI टाली थी तो ब्याज को लेकर सुप्रीम कोर्ट का ये फैसला पढ़ लीजिए

EMI टालने की छूट बढ़ाने और पूरा ब्याज माफ करने पर भी कोर्ट ने रुख साफ कर दिया है.

भारत में कोरोना की सेकेंड वेव पहले से भी ज्यादा खतरनाक?

भारत में कोरोना की सेकेंड वेव पहले से भी ज्यादा खतरनाक?

पिछले 24 घंटे में नवंबर 2020 के बाद अब सबसे ज़्यादा मामले आए हैं.

महाराष्ट्र के गृहमंत्री वसूली कर रहे या राज्य में सरकार गिराने की कोशिश चल रही?

महाराष्ट्र के गृहमंत्री वसूली कर रहे या राज्य में सरकार गिराने की कोशिश चल रही?

मनसुख हीरेन की मौत के बाद क्या सब चल रहा है?

क्या अनिल देशमुख कोरोना पीड़ित होते हुए भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे?

क्या अनिल देशमुख कोरोना पीड़ित होते हुए भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे?

इस पर अब विवाद क्यों हो रहा है?

उद्धव ठाकरे के मंत्री को घेरने वाले परमबीर सिंह कहीं खुद इस 'लेटर बम' का शिकार न हो जाएं!

उद्धव ठाकरे के मंत्री को घेरने वाले परमबीर सिंह कहीं खुद इस 'लेटर बम' का शिकार न हो जाएं!

इस चिट्ठी में परमबीर सिंह पर अंडरवर्ल्ड से कनेक्शन के आरोप लगाए गए हैं.

प्रताप भानु मेहता और अरविंद सुब्रमण्यन के इस्तीफे के बाद अशोका यूनिवर्सिटी ने क्या बयान दिया है?

प्रताप भानु मेहता और अरविंद सुब्रमण्यन के इस्तीफे के बाद अशोका यूनिवर्सिटी ने क्या बयान दिया है?

बयान में यूनिवर्सिटी ने माना है कि कुछ संस्थागत चूक हुई है जिसे सुधार लिया जाएगा.

RSS में नंबर दो बने दत्तात्रेय होसबोले, जिन्होंने दक्षिण भारत में संघ को मजबूत किया

RSS में नंबर दो बने दत्तात्रेय होसबोले, जिन्होंने दक्षिण भारत में संघ को मजबूत किया

संघ के नए सरकार्यवाह बने हैं होसबोले.

वॉट्सऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर केंद्र सरकार ने दिल्ली हाईकोर्ट में क्या कहा है?

वॉट्सऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर केंद्र सरकार ने दिल्ली हाईकोर्ट में क्या कहा है?

विरोध के बाद कंपनी ने कुछ समय तक के लिए इसे टाल दिया है.