Submit your post

Follow Us

निर्मला सीतारमण ने बताया, सरकारी बैंकों में 6 महीने के भीतर 95700 करोड़ रुपये के फ्रॉड हुए

पार्लियामेंट का विंटर सेशन चल रहा है. जिसमें बीते दिन केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने सरकारी बैंकों में फ्रॉड के मामलों पर बातचीत की. और जो आंकड़े सामने आए, वो चौंकाने वाले थे.

सीतारमण ने 95,700 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की जानकारी दी. जिसमें 5743 मामले शामिल हैं. वित्तमंत्री ने संसद में जानकारी देते हुए कहा,

रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया ने बताया है. कि पब्लिक सेक्टर बैंक (PSB) द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, अप्रैल 2019 से सितंबर 2019 के दौरान 95,760.49 करोड़ रुपये की फर्जीवाड़े के 5743 मामले सामने आए हैं. इन बैंकों में फ्रॉड हुआ है:

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया: 25,400 करोड़

पंजाब नेशनल बैंक: 10,800 करोड़

बैंक ऑफ बड़ौदा: 8,300 करोड़

वित्त मंत्री ने लिखित जवाब में ये बताया कि उन्होंने क्या कदम उठाए हैं:

1. 3 लाख से ज्यादा कंपनियों के बैंक खातों को फ्रीज़ किया गया है.

2. बैंकिंग फ्रॉड करने वाले व्यक्ति की संपत्ति जब्त करने के लिए सरकार इकनॉमिक ऑफेंडर्स एक्ट लेकर आई है.

इस बीच एक और सवाल के जवाब में वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा:

पंजाब और महाराष्ट्र सहकारी (PMC) बैंक के ग्राहकों के लिए निकासी सीमा को बढ़ाकर 50,000 रुपये कर दिए जाने के बाद बैंक के 78 फीसद डिपॉजिटर अपने अकाउंट से पूरे पैसे निकाल सकेंगे. 23 सितंबर, 2019 को PMC बैंक के कुल अकाउंट होल्डर की संख्या 9 लाख 15 हजार थी  थी.

न्यूज़ एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट मुताबिक, मौजूदा वक्त में बैंकों की हालत बेहद खराब हो चुकी है. NPA (नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स) का बोझ इतना ज्यादा बढ़ गया है कि बैंक कर्ज देने के हालात में नहीं हैं. दूसरी तिमाही में कई बैंकों को काफी नुकसान हुआ है. इस नुकसान को इस तरह समझिए:

1. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया को जुलाई-सितंबर तिमाही में करीब 1194 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है.

2. यूको बैंक को करीब 892 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है.

3. दूसरी तिमाही में SBI को फायदा तो जरूर हुआ है, लेकिन 2018 की दूसरी तिमाही के मुकाबले कमाई में करीब 40 फीसद की कमी आई है. SBI को 945 करोड़ का फायदा हुआ है, जबकि पिछले साल कुल 1581 करोड़ का फायदा हुआ था.

3. बैंकों की हालत खराब होने की वजह से ही सरकार ने विलय का फैसला लिया था था. और 6 सरकारी बैंकों को 4 बड़े बैंकों में विलय कर दिया गया था.

पार्लियामेंट का विंटर सेशन 13 दिसंबर को ख़तम हो रहा है. संसद में होने वाली हर जरूरी बहस को हम आप तक पहुंचा रहे हैं.


वीडियो- राजस्थान: सांभर झील में मरते पक्षियों के मामले में गहलोत सरकार पर कोर्ट का सख्त रूख

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी बोले-तबलीगी जमात की वजह से लॉकडाउन बढ़ाना पड़ा

ये भी कहा-तबलीग़ियों का गुनाह हिंदुस्तान के मुसलमानों का का गुनाह नहीं है.

कोरोना का नियम बदला, अब बिना टेस्ट ही घर भेजे जाएंगे कम बीमार मरीज

जानिए क्या है सरकार की नई गाइडलाइंस.

दवा बेची, समाजसेवा की, फिर पता चला ख़ुद ही कोरोना पॉज़िटिव हैं, अब जेल हो गई

बनारस के दवा व्यापारी ने कई लोगों को बांटा कोरोना.

क्या सोशल डिस्टेंसिंग से चूकने की इतनी बुरी सज़ा देगी पुलिस?

किसी एक पुलिसवाले का ऐसा करना बाकियों की मेहनत पर पानी फेर देता है.

उदयपुर में एक ही दिन में कोरोना वायरस के 58 केस सामने आए

राजस्थान में मरीज़ों की संख्या तीन हज़ार से ऊपर पहुंच चुकी है.

सूरत: BJP कार्यकर्ता पर आरोप, घर पहुंचाने के नाम पर मजदूरों से पैसे लिए, टिकट मांगने पर पीटा!

एक अन्य वीडियो में BJP पार्षद के भाई टिकट के ज्यादा पैसे लेते दिखे.

जिस फ़ैक्टरी से निकली गैस ने तबाही मचाई, उसे क्लीयरेंस ही नहीं मिला था!

आबादी के बीच बना रहे थे स्टायरीन प्रोडक्ट.

रेड जोन में भी जल्द से जल्द लॉकडाउन खत्म करने के पक्ष में क्यों हैं मोंटेक सिंह अहलूवालिया?

बोले- लॉकडाउन की वजह से सबसे ज्यादा प्रभावित गरीबों के लिए सरकार योजना लाए.

राहुल गांधी बोले- कोरोना से लड़ाई में एक मजबूत PM काफी नहीं, कई मजबूत CM और DM की जरूरत

कहा- सरकार को 17 मई के बाद लॉकडाउन खोलने के लिए स्ट्रैटेजी तय करनी ही होगी.

थके हुए मज़दूर रेल की पटरी पर सो रहे थे, मालगाड़ी से कुचलकर 16 की मौत

सुबह मजदूरों के शव पटरी पर बिखरे पड़े थे.