Submit your post

Follow Us

पीएम मोदी को यूएई ने सबसे बड़ा सम्मान दिया, पाकिस्तान को बुरा लग गया

790
शेयर्स

24 अगस्त 2019. पीएम मोदी के लिए बड़ा दिन था. यूएई यानी संयुक्त अरब अमीरात ने उन्हें ‘ऑर्डर ऑफ ज़ायद’ से सम्मानित किया. यह यूएई का सबसे बड़ा सम्मान है. यह सम्मान पाने वाले मोदी भारत के पहले प्रधानमंत्री हैं. अबू धाबी के सबसे शक्तिशाली प्रिंस शेख मोहम्मद बिन ज़ायद अल नाहयान ने पीएम मोदी के गले में सोने का मेडल पहनाया. इस सम्मान के बाद मीडिया के लिए फोटो क्लिक करवाते समय शेख मोहम्मद ने कहा,

“आप इसके लायक हैं.”

यूएई ने इस अवॉर्ड की घोषणा इसी साल अप्रैल में की थी. अप्रैल में शेख मोहम्मद ने एक ट्वीट में कहा था-

भारत के साथ हमारे ऐतिहासिक और व्यापक रणनीतिक संबंध हैं. जो मेरे प्रिय मित्र, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वपूर्ण भूमिका से और मज़बूत हुए हैं. उन्होंने इन संबंधों को और बढ़ावा दिया है.

पाकिस्तान ने किया विरोध

यूएई ने पीएम मोदी को ये सम्मान ऐसे समय में दिया है जब कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान से भारत के रिश्ते ठीक नहीं हैं. पाकिस्तान ने पीएम मोदी को सम्मान दिए जाने का विरोध किया है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पाकिस्तान की सीनेट के अध्यक्ष सादिक संजरानी ने यूएई की अपनी आधिकारिक यात्रा रद्द कर दी. संजरानी 25 से 28 अगस्त तक यूएई सरकार के निमंत्रण पर एक संसदीय प्रतिनिधिमंडल के साथ संयुक्त अरब अमीरात की यात्रा करने वाले थे. उन्होंने कहा था कि उनकी यात्रा से कश्मीर के लोगों को दुख पहुंचेगा. हालांकि बाद में ये भी खबरें आईं कि पाकिस्तान के विदेश मंत्री यूएई से बात करेंगे.

विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने पाकिस्तानी मीडिया से बातचीत में कहा कि कोई भी देश किसी भी देश के साथ संबंध रख सकता है. हम उसमें कुछ नहीं कर सकते हैं. उनका फैसला है. देशों के व्यापारिक संबंध होते हैं. विदेश नीति में धार्मिक मसले काम नहीं आते हैं. मैं जल्द ही यूएई जाउंगा और वहां के विदेश मंत्री से मुलाकात करूंगा.

पीएम मोदी को यूएई की ओर से सम्मानित किए जाने का एक मतलब ये भी है कि कश्मीर के मसले पर मुस्लिम देश भारत के साथ हैं. हालांकि भारत कश्मीर के मसले को आंतरिक मामला मनता है.

वॉशिंगटन पोस्ट की खबर के मुताबिक पाकिस्तान के पूर्व जनरल परवेज मुशर्रफ, जिन्होंने 1999 में तख्तापलट कर सत्ता हासिल की थी, उन्हें 2007 में ‘ऑर्डर ऑफ ज़ायद’ अवॉर्ड मिल चुका है.

यूएई के सबसे बड़े सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ ज़ायद’ से रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, महारानी एलिजाबेथ द्वितीय और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी सम्मानित हो चुके हैं. यूएई के संस्थापक शेख ज़ायद बिन सुल्तान अल नाहयान के नाम पर ये अवॉर्ड दिया जाता है.

यूएई ने इस अवॉर्ड की घोषणा अप्रैल में की थी.
यूएई ने इस अवॉर्ड की घोषणा अप्रैल में की थी.

पीएम मोदी की यात्रा से पहले विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा था, इस पुरस्कार का नामकरण यूएई के संस्थापक शेख ज़ा बिन सुल्तान अल नहयान के नाम पर किया गया है. इसका विशेष महत्व है क्योंकि शेख ज़ायद की जन्म शती वर्ष में प्रधानमंत्री को यह सम्मान दिया जाने वाला है. भारत और यूएई के बीच गर्मजोशी से भरा, करीबी और बहुआयामी संबंध रहा है, जो सांस्कृतिक, धार्मिक और आर्थिक रूप से भी जुड़ा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इससे पहले अगस्त 2015 में यूएई की यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच व्यापक सामरिक भागीदारी भी बढ़ी.

यूएई भारत का तीसरा सबसे बड़ा ट्रेड पार्टनर है. दोनों देशों के बीच अरबों डॉलर का द्विपक्षीय व्यापार होता है. पीएम मोदी की यात्रा दोस्ताना द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत करेगी. व्यापक खाड़ी सहयोग परिषद में छह खाड़ी देश शामिल हैं. यहां रहने वाले लगभग 85 लाख भारतीय हर साल करोड़ो डॉलर भेजते हैं.


पीएम मोदी ने बताया, Man vs Wild में बियर ग्रिल्स हिन्दी कैसे समझते थे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

हिंदू राष्ट्र की बात करते-करते पाकिस्तान की बात क्यों करने लगे संघ प्रमुख भागवत?

मोहन भागवत ने और भी बहुत कुछ कहा है, जो संघ के पुराने विचारों से मेल नहीं खाता.

'राम-राम' नहीं कहा तो अलवर में पति को पीटा, पत्नी के कपड़े उतारने की कोशिश की

पति-पत्नी मुसलमान थे.

भिखारिन के अकाउंट से इतने पैसे मिले कि बैंक भी सकते में है

यहां लाखों नहीं, करोड़ों की बात हो रही है.

क्या है गौतम नवलखा केस, जिसे सुनने से अबतक CJI समेत सुप्रीम कोर्ट के 5 जज इनकार कर चुके हैं

किसी भी जज ने कोई कारण नहीं बताया है, पूर्व जज ने कहा था, कारण बताने से पारदर्शिता बढ़ती है.

टीवी पर शुरू हो रहा है 'दी लल्लनटॉप क्विज' सौरभ द्विवेदी के साथ, पूरी जानकारी पाइए

टीवी के इतिहास का सबसे मस्त क्विज, शनिवार 5 अक्टूबर से.

चिन्मयानंद को बचाने के लिए वकील ने कोर्ट में गजब का तर्क दिया है

और ऐसी बात जिसका केस से कोई संबंध नहीं.

योगी का नया ऐप ये काम कर देगा, किसी ने सोचा भी नहीं था

ये क्या बवाल मोल ले लिया योगी जी ने.

चिन्मयानंद और कुलदीप सेंगर के फोन में ऐसा क्या ख़ास है कि पुलिस उलझ गयी है

माथापच्ची हो रही, लेकिन उनका फोन नहीं खुल पा रहा.

13 साल की लड़की 'भाई, भाई' कहते गिड़गिड़ाती रही, लड़के रेप करते रहे, वीडियो बनाते रहे

एक ऐसा बर्बर वीडियो वायरल किया गया, जिसे देखा नहीं जा सकता.

गोरखपुर हादसा : यूपी सरकार ने जांच में कफ़ील खान को क्लीन चिट दे दी

जांच रिपोर्ट में और क्या कहा गया है?