Submit your post

Follow Us

लड़की को ज़बरदस्ती बीजेपी की टोपी पहना रहे थे, मना किया तो बदतमीज़ी की

2.41 K
शेयर्स

मेरठ कॉलेज ने दो स्टूडेंट्स को रेस्टिकेट कर दिया है. आरोप है कि इन्होंने एक छात्रा का उत्पीड़न किया. दोनों छात्रों के खिलाफ छात्रा ने शिकायत दर्ज कराई थी. छात्रा का आरोप है कि बीजेपी की टोपी पहनने से इनकार करने पर उसके साथ बदतमीजी की गई. सोशल मीडिया पर पोस्ट वायरल होने के बाद ये कार्रवाई की गई है.

क्या है मामला

मेरठ कॉलेज की छात्रा ने दो अप्रैल को कई ट्वीट किए. छात्रा ने लिखा,

कल (एक अप्रैल) मैं कॉलेज ट्रिप के लिए आगरा गई थी. 55 स्टूडेंट्स में मैं अकेली मुस्लिम स्टूडेंट थी. बस में हमारे साथ 4 फैकल्टी मेंबर्स थे. इनमें से दो पुरुष थे. ड्रिंक किए हुए दो छात्रों ने मुझे टारगेट करते हुए बदतमीजी शुरू कर दी. वे अपने साथ बीजेपी की टोपी और कुछ अन्य सामान रखे हुए थे. मुझे टोपी पहनाने के लिए जबरदस्ती करने लगे. जब मैंने टोपी पहनने से इनकार कर दिया तो उन्होंने बदतमीजी शुरू कर दी. उन्होंने मुझे टच की कोशिश की. और ये सब उस बस में हुआ जिसमें दो पुरुष टीचर मौजूद थे. उन्होंने इस घटना को नजरअंदाज किया.

 

meerut

छात्रा ने आगे लिखा, उन्होंने मेरा हाथ खींचा और साथ में डांस करने के लिए जबरदस्ती करने लगे. जब मैंने डांस करने से मना कर दिया तो वे भद्दे कमेंट करने लगे. उन्होंने मेरी बस ट्रिप बर्बाद कर दी. जब कुछ दोस्त मेरे समर्थन में आए तो उन्होंने मेरे दोस्तों के साथ भी बदतमीजी शुरू कर दी. उन्होंने ये सब इसलिए किया क्योंकि मैंने बीजेपी की टोपी पहनने और उनके साथ डांस करने से इनकार कर दिया था. मैं उस बस में अकेली मुस्लिम लड़की थी. उन्होंने किसी और लड़की के साथ ऐसा नहीं किया. यहां तक कि बस में मौजूद लड़कियों ने भी उनका समर्थन किया और इस घटना को इंजॉय किया. उन्होंने मुझे डराने की कोशिश की लेकिन मैंने मजबूती से इसका सामना किया.

मैंने अपनी स्टोरी शेयर की. मैं बताना चाहती थी कि हो क्या रहा है. मैंने किसी राजनीतिक नाटक के लिए ऐसा नहीं किया. मैंने पुलिस से शिकायत नहीं की क्योंकि कॉलेज प्रशासन से शिकायत कर चुकी थी.

क्या कहना है कॉलेज प्रशासन का
दो छात्रों पर कार्रवाई को लेकर कॉलेज के अधिकारियों का कहना है कि शिकायत के बाद हमने तुरंत कार्रवाई की और दोनों आरोपी छात्रों को रेस्टिकेट कर दिया. इनमें से एक पीड़ित छात्रा का दोस्त हो सकता है. हमें नहीं पता कि क्या हुआ था. घटना के बारे में सिलसिलेवार तरीके से बताना बहुत ही मुश्किल है. कॉलेज ट्रिप के दौरान बस में स्टूडेंट्स के साथ टीचर भी थे. बस में अन्य मुस्लिम बच्चे भी थे. हमें नहीं पता कि वाकई में हुआ क्या था. जांच के लिए मामले को आंतरिक शिकायत समिति के पास भेजा जाएगा.

एडिशनल एसपी अखिलेश एन सिंह का कहना है

हमें इस तरह की घटना के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है. अगर इस मामले में शिकायत मिलती है तो कार्रवाई करेंगे.

शशि थरूर ने साधा निशाना

Master
छात्रा के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए कांग्रेस के सीनियर नेता और सांसद शशि थरूर ने निशाना साथा है. उन्होंने लिखा, यदि यह मोदी का नया इंडिया है तो मुझे मेरा पुराना भारत वापस चाहिए.


जिलाधिकारी ने कहा- भाजपा नेता विनोद तिवारी ने तहसीलदार के साथ हाथापाई की

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लल्लनटॉप कहानी लिखिए और एक लाख रुपये का इनाम जीतिए

लल्लनटॉप कहानी कंपटीशन लौट आया है. आपका लल्लनटॉप अड्डे पर पहुंचने का वक्त आ गया है.

BJP नेता से स्कूल ड्रेस ना लेने पर स्कूल टीचर की नौकरी चली गयी!

और बच्चे टीचर को वापिस बुलाने के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं.

पाकिस्तान ने सीज़फायर तोड़ा, भारत ने जवाब में मार गिराए पांच पाकिस्तानी सैनिक और कई आतंकवादी

पाकिस्तान ने भी मान लिया कि भारत ने हमला किया है.

अयोध्या : मुस्लिम पक्ष ने कहा, 'केवल हमसे ही सारे सवाल क्यों पूछे जा रहे?'

इस पर हिन्दू पक्ष ने कोर्ट में क्या कह दिया?

राफेल बनाने वालों ने राजनाथ सिंह से ऐसी बात कह दी कि निर्मला सीतारमण का दिल बैठ जाए

टैक्स को लेकर क्या कह दिया?

हिंदू राष्ट्र की बात करते-करते पाकिस्तान की बात क्यों करने लगे संघ प्रमुख भागवत?

मोहन भागवत ने और भी बहुत कुछ कहा है, जो संघ के पुराने विचारों से मेल नहीं खाता.

'राम-राम' नहीं कहा तो अलवर में पति को पीटा, पत्नी के कपड़े उतारने की कोशिश की

पति-पत्नी मुसलमान थे.

भिखारिन के अकाउंट से इतने पैसे मिले कि बैंक भी सकते में है

यहां लाखों नहीं, करोड़ों की बात हो रही है.

क्या है गौतम नवलखा केस, जिसे सुनने से अबतक CJI समेत सुप्रीम कोर्ट के 5 जज इनकार कर चुके हैं

किसी भी जज ने कोई कारण नहीं बताया है, पूर्व जज ने कहा था, कारण बताने से पारदर्शिता बढ़ती है.

टीवी पर शुरू हो रहा है 'दी लल्लनटॉप क्विज' सौरभ द्विवेदी के साथ, पूरी जानकारी पाइए

टीवी के इतिहास का सबसे मस्त क्विज, शनिवार 5 अक्टूबर से.