Submit your post

Follow Us

शादीशुदा महिला को फ्लाइंग किस भेजता था, कोर्ट ने वो सबक सिखाया कि पछता भी नहीं पाएगा

131
शेयर्स

अक्सर लोग अपनों के प्रति प्यार जताने के लिए फ्लाइंग किस करते हैं. लेकिन अगर यह किसी को परेशान करने का जरिया बन जाए. किसी के हरासमेंट के लिए यूज होने लगे फिर क्या होगा. ये होता है अपराध. और अपराध होगा तो उसकी सजा भी मिलेगी. पंजाब के मोहाली की कोर्ट ने ऐसे ही एक मामले में सजा सुनाई है. एक शादीशुदा महिला को फ्लाइंग किस कर परेशान करने के मामले में कोर्ट ने सजा सुनाई है.

क्या है मामला?

एक महिला मोहाली में एक सोसाइटी में रहती थी. महिला का आरोप है कि उनके फ्लैट के ऊपर वाले  फ्लैट में रहने वाला एक व्यक्ति फ्लाइंग किस करके परेशान करता है. उसने ऐसा एक बार नहीं कई बार किया. महिला का कहना है कि उसने आरोपी को ऐसा करने से मना किया लेकिन वह नहीं माना. महिला ने इस बारे में अपने पति को बताया. दोनों ने मिलकर आरोपी को समझाने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं माना. फिर वही हुआ जो होना था. मामला थाने पहुंचा. महिला ने ये भी आरोप लगाया कि एक बार आरोपी ने उसकी बाजू पकड़ने की भी कोशिश की.

लेकिन बात सिर्फ इतनी नहीं है. जिस व्यक्ति पर फ्लाइंग किस के जरिए परेशान करने का आरोप लगा था, उसने भी आरोप लगाया. कहा कि महिला और उसका पति उसके साथ मारपीट करते हैं. दोनों पक्षों की ओर से शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने क्रॉस केस दर्ज किया. मामला कोर्ट पहुंचा. सुनवाई हुई. सबूत नहीं मिलने की वजह से कोर्ट ने महिला और उसके पति को बरी कर दिया. वहीं दूसरी ओर कोर्ट ने फ्लाइंग किस कर महिला को परेशान करने का दोषी पाया. तीन साल की सजा सुनाई. साथ ही तीन हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया. अब आरोपी को जेल जाना होगा. जुर्माना भरना होगा.


न्यूज़ीलैंड में हिंदी बोलने पर लड़की चीखने-चिल्लाने लगी, फिर जो हुआ वो एक सबक है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कांग्रेस और सपा छोड़कर भाजपा में आए नेताओं ने मोदी के बारे में क्या कहा?

वो भी कल लखनऊ में...

कश्मीर में बैन के बाद भी किसकी मेहरबानी से गिलानी इस्तेमाल कर रहे थे फोन-इंटरनेट?

बैन के चार दिन बाद तक गिलानी के पास इंटरनेट और फोन था. प्रशासन को इसकी भनक भी नहीं थी.

पीएम मोदी ने छठवीं बार लाल किले पर फहराया तिरंगा, 92 मिनट के भाषण में नया क्या था?

पीएम मोदी ने अपने कार्यकाल की उपलब्धियां गिनाई.

बीफ़-पोर्क के नाम पर ज़ोमैटो कर्मचारियों को भड़काने वाले लोकल भाजपा नेता निकले!

और एक नहीं, कई हैं ऐसे. देखिए तो...

यूपी के एक और अस्पताल में 32 बच्चों की मौत, डॉक्टरों को कारण का पता नहीं

किसी ने कहा था, "अगस्त में तो बच्चे मरते ही हैं"

भगवान राम के इतने वंशज निकल आए हैं कि आप भी माथा पकड़ लेंगे

अभी राम पर खानदानी बहस हो रही है. खुद ही देखिए...

उन्नाव मामले में भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर अब लंबा फंस गए हैं

सीबीआई ने केस में रोचक खुलासे किए हैं

राष्ट्र के नाम संबोधन में पीएम मोदी ने बताया क्या है उनका 'मिशन कश्मीर'

पीएम मोदी ने लगभग 40 मिनट तक अपनी बात रखी.

जम्मू-कश्मीर के मामले में आत्माओं का भी प्रवेश हो गया है

और एक समय एक "आत्मा" बहुत दुखी हुई थी

मायावती का ऐसा हृदय परिवर्तन कैसे हुआ कि कश्मीर पर सरकार के साथ हो गयीं?

धारा 370 हटवाना चाहती थीं या वजह कुछ और है?