Submit your post

Follow Us

PM मोदी के साथ शूटिंग के लिए डिस्कवरी चैनल ने जिम कॉर्बेट को कितना पैसा दिया?

137
शेयर्स

डिस्कवरी चैनल ने भारत के प्रधानमंत्री के साथ एक प्रोग्राम शूट किया. शूटिंग हुई एक नैशनल पार्क में. इस प्रोग्राम के लिए डिस्कवरी ने नैशनल पार्क को कितने रुपये दिए?

नरेंद्र मोदी टीवी का परमानेंट हिस्सा हैं. बतौर प्रधानमंत्री ये स्वाभाविक है. मगर 12 अगस्त, 2019 को जब वो टीवी पर आए, तो ये बिल्कुल अलग था. इस दिन वो डिस्कवरी के ‘मैन वर्सेज़ वाइल्ड’ का हिस्सा थे. बेअर ग्रिल्स के साथ. इस प्रोग्राम की शूटिंग फरवरी में हुई थी. उत्तराखंड के जिम कॉर्बेट पार्क में. अब ख़बर आई है कि डिस्कवरी चैनल ने इस प्रोग्राम के लिए जिम कॉर्बेट को 1.26 लाख रुपये की रकम दी. टाइम्स ऑफ इंडिया में योगेश कुमार की बायलाइन से ये न्यूज़ छपी है. उसी में बताया गया है ये.

PM मोदी के साथ ‘मैन वर्सेज़ वाइल्ड’ के इस एपिसोड का पहला प्रोमा 29 जुलाई को आया था. इसी दिन बेअर ग्रिल्स का भी एक ट्वीट आया. इसमें प्रोग्राम के टीवी पर आने की तारीख बताई गई थी. तब से ही इसपर खूब बातें हो रही हैं.

सोशल मीडिया पर भी और राजनैतिक पार्टियों में भी. कांग्रेस का आरोप है कि इस साल 14 फरवरी को पुलवामा में जब CRPF के कारवां पर आतंकी हमला हुआ था, उसके बाद भी PM मोदी ‘मैन वर्सेज़ वाइल्ड’ के इसी एपिसोड की शूटिंग में लगे हुए थे. हमले के तकरीबन एक हफ़्ते बाद कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक प्रेस कॉनफ्रेंस में कहा-

उस दिन (14 फरवरी को) इस फिल्म की शूटिंग शाम साढ़े छह बजे तक चली. शाम पौने सात बजे प्रधानमंत्री ने चाय-नाश्ता किया. ये बेहद डरावनी बात है कि इतने बड़े हमले के चार घंटे बाद तक मोदी अपनी ब्रैंडिंग, फोटोशूट और चाय-नाश्ते में व्यस्त थे.

कांग्रेस ने अपने आरोपों के समर्थन में एक तस्वीर भी जारी की थी. कहा था, ये सबूत है. बीजेपी ने इसे फर्ज़ी बताया था.

विवाद, आरोप, आलोचना बहुत सारे ऐंगल्स से PM वाला ये एपिसोड चर्चा में रहा. और इसके टीवी पर आ जाने के बाद की तो कोई गिनती नहीं. अभी चौबीस घंटे भी नहीं हुए और आप देखिए. सोशल मीडिया पर कितने मीम्स तैर रहे हैं.


‘जो सोच कश्मीरी लड़कियों के लिए आज दिख रही है, वो 84 के दंगों में सिख औरतों के लिए थी’

जम्मू कश्मीर में कैसे मनाई गई ईद, दुनिया भर की मीडिया में शुक्रवार की क्या ख़बरें चल रही हैं?

आर्टिकल 370 पर फैसले के बाद समझौता रोकना और राजनयिक संबंध खत्म करना पाकिस्तान की भूल

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कांग्रेस और सपा छोड़कर भाजपा में आए नेताओं ने मोदी के बारे में क्या कहा?

वो भी कल लखनऊ में...

कश्मीर में बैन के बाद भी किसकी मेहरबानी से गिलानी इस्तेमाल कर रहे थे फोन-इंटरनेट?

बैन के चार दिन बाद तक गिलानी के पास इंटरनेट और फोन था. प्रशासन को इसकी भनक भी नहीं थी.

पीएम मोदी ने छठवीं बार लाल किले पर फहराया तिरंगा, 92 मिनट के भाषण में नया क्या था?

पीएम मोदी ने अपने कार्यकाल की उपलब्धियां गिनाई.

बीफ़-पोर्क के नाम पर ज़ोमैटो कर्मचारियों को भड़काने वाले लोकल भाजपा नेता निकले!

और एक नहीं, कई हैं ऐसे. देखिए तो...

यूपी के एक और अस्पताल में 32 बच्चों की मौत, डॉक्टरों को कारण का पता नहीं

किसी ने कहा था, "अगस्त में तो बच्चे मरते ही हैं"

भगवान राम के इतने वंशज निकल आए हैं कि आप भी माथा पकड़ लेंगे

अभी राम पर खानदानी बहस हो रही है. खुद ही देखिए...

उन्नाव मामले में भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर अब लंबा फंस गए हैं

सीबीआई ने केस में रोचक खुलासे किए हैं

राष्ट्र के नाम संबोधन में पीएम मोदी ने बताया क्या है उनका 'मिशन कश्मीर'

पीएम मोदी ने लगभग 40 मिनट तक अपनी बात रखी.

जम्मू-कश्मीर के मामले में आत्माओं का भी प्रवेश हो गया है

और एक समय एक "आत्मा" बहुत दुखी हुई थी

मायावती का ऐसा हृदय परिवर्तन कैसे हुआ कि कश्मीर पर सरकार के साथ हो गयीं?

धारा 370 हटवाना चाहती थीं या वजह कुछ और है?