Submit your post

Follow Us

नौ लोग, छब्बीस कॉल, यूपी पुलिस पहुंची तो पता चला चोरी हुई, लेकिन सपने में

84
शेयर्स

सपना और पुलिस दो शब्द हैं. दोनों अगर मिल जाएं तो क्या-क्या कहानियां बन सकती हैं. ढेरों. जैसे, अपराधी को सपने में पुलिस दिखती है. अपराधी को पकड़ने का सपना पुलिस देखती है. क्राइम सीन पर टाइम से पुलिस पहुंचने का सपना लोग देखते हैं. सज्जन लोग सपने में भी पुलिस के दर्शन नहीं करना चाहते ईटीसी. वैसे अगर इन सबमें उत्तर प्रदेश पुलिस और जोड़ दें तो ये कहानियां सच होने की कगार पर पहुंच जाती हैं. लेकिन सपने और पुलिस की एक और दास्तान सामने आई है. कहानी तक़रीबन फ़िल्मी है, लेकिन ऐसा हुआ है.

# हुआ क्या

उत्तर प्रदेश पुलिस अपने सनातनी रुआब को मेंटेन करने के अलावा भी बहुत से काम करती रहती हैं. पुलिस पर काम के दबाव को कोई नकार नहीं सकता. पुलिस चाहे जहां की हो, काम हमेशा ताबड़तोड़ ही रहता है. प्रदेश में बेहतर पुलिसिंग के लिए सरकारें सोचती करती रहती हैं. उत्तर प्रदेश में ये आम शिकायत रहती थी कि पुलिस फ़िल्मों की तरह हमेशा ‘काम ख़त्म’ होने के बाद आकर काम शुरू करती है.

बेहतर पुलिसिंग की तरफ़ एक बढ़िया कदम है ‘100 डायल’. कहीं कोई भी मामला हो बस अपने फोन से 100 नंबर डायल करें. मामला पुलिस की जानकारी में आ गया. अब इसी सुविधा को कुछ लोगों ने पुलिस के लिए दुविधा बना दिया. उत्तर प्रदेश का एक ज़िला है संभल. एक इलाक़ा है इसी शहर में हयातनगर. एक रात पुलिस को 100 नंबर पर फोन आया. बताने वाले ने बताया कि उसके यहां चोरी हो गई है. चोर सौ से ज़्यादा सूट चुरा ले गया था. ऐसा फोन पर बताया गया.

लखनऊ से हयातनगर पुलिस को निर्देश जारी किए गए. जाकर मामला पता करो. पुलिस आई. ना चोर मिला ना चोरी की कोई घटना हुई.

पुलिस का माथा भन्नाया. फोन करने वाले से पूछा तो उसने बताया ‘सपने में दिखा कि चोरी हुई, उठकर 100 नंबर डायल किया’. लेकिन जब पुलिस ने ‘सख्ती’ बरती. तो भाई ने बताया कि ‘आजकल बीमार चल रहा हूं, दिमाग़ में दवा कि गर्मी चढ़ गई थी’

# पुलिस उठा लाई बंदे को

मोहम्मद नासिर नाम के इस बंदे को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया. पुलिस ने चालान करके नासिर को जेल भेज दिया है.

# हालांकि मामला थोड़ा अलग है 

मामला सिर्फ़ सपने में चोरी देखकर पुलिस को फोन करने का नहीं है. हमने संभल में ‘आज तक’ के संवाददाता से मामले के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि, कुल नौ लोग थे. इन्होंने उस दिन पुलिस को 100 नंबर पर कुल 26 कॉल कीं. इमर्जेंसी के नाम पर हुई ये सारी कॉल झूठी थीं. बिना किसी इमर्जेंसी के पुलिस को परेशान करने की नीयत से फोन किए जा रहे थे. एक जगह पुलिस जल्दी पहुंच गई. और नासिर मिल गया. तब नासिर ने बताया कि आजकल दवा खाने की वजह से दिमाग़ में गर्मी चढ़ जा रही है. इसलिए पुलिस को फ़ोन कर दिया. हालांकि इधर बीच उत्तर प्रदेश पुलिस किस सिरगर्मी से लोगों को ठंडा कर रही है ये किसी से छुपा नहीं है. लेकिन इस मामले में सिर्फ़ गिरफ़्तारी ही हुई है.

# गिरफ़्तार लड़के पर ग्राम प्रधान और पुलिस क्या कहती है

हालांकि ग्राम प्रधान ने बताया कि ‘सूचना ग़लत है, कोई गिरफ़्तार नहीं हुआ’. जब हमने ग्राम प्रधान से उनका नाम पूछा तो कहा गया कि ‘नाम कुछ भी हो, फोन रखो’.

इस मामले में संभल के ASP से हमारी बात हुई. उन्होंने साफ़ सीधा जवाब दिया ‘कुछ नहीं बता पाऊंगा, आप मेरे अधिकारियों से बात करें.


वीडियो देखें:

शाहिद कपूर की मां नीलिमा अज़ीम ने ‘कबीर सिंह’ को शानदार रीमेक बताते हुए एक ठोस बात कही

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Man called Police after dreaming about thieves in U.P, got jail. later said ‘having an issue with medicines.

क्या चल रहा है?

जिस अम्पायर की इंग्लैंड के ख़िलाफ़ हिस्ट्री गड़बड़ है, वही करेगा फाइनल में अम्पायरिंग

लेओ भइय्या, नया झाम संभालो!

WC फाइनल के टिकट पर भारतीयों का कैसा कब्ज़ा है, ये न्यूज़ीलैंड के नीशम का ट्वीट पढ़ समझ जाएंगे

टीम पर इतना भरोसा था कि सारे टिकट खरीदकर बैठ गए थे क्रिकेट फैन्स.

इंडिया बाहर हो गई लेकिन खाली हाथ नहीं आई, जानिये जीते हुए मैचों से कितनी कमाई हुई

9 में से 7 मैच जीतने का हुआ है इंडिया को फ़ायदा.

एबी डिविलियर्स का धमाका, बोले- मैंने वर्ल्डकप टीम में लेने की डिमांड नहीं की थी

रिटायरमेंट पर आलोचना पर कहा- पैसे के लिए नहीं लिया रिटायरमेंट.

कंगना रनौत वाला मामला और बिगड़ गया, अब प्रेस क्लब भी अड़ गया कि माफ़ी तो मांगनी ही होगी

कंगना ने मीडिया के लिए नालायक, नंगे, सस्ते और बिकाऊ जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया था.

ऋषिकेश का मशहूर लक्ष्मण झूला क्यों बंद हो रहा है?

इस ऐतिहासिक पुल को 12 जुलाई से बंद कर दिया गया.

क्या केएल राहुल की जगह मयंक अग्रवाल सेमीफाइनल मुकाबले में खेलने वाले थे?

रवि शास्त्री ने बताया, क्या थी स्ट्रैटजी.

मशहूर फिल्म एक्ट्रेस को कैब ड्राइवर ने गाड़ी से खींचकर निकाला और बदसलूकी की

कैब वाले कस्टमर केयर ने पूछा- 'क्या आपका सेक्शुअल हैरसमेंट हुआ है?'

महाराष्ट्र : चुनाव से तीन महीने पहले मुख्य निर्वाचन अधिकारी बदले गए

क्यों और किस वजह से, इसका जवाब नहीं मिल रहा

धोनी को 7वें नंबर पर क्यों भेजा, कोच शास्त्री और कोहली से ये सवाल पूछा जाने वाला है

टीम इंडिया की रिव्यू मीटिंग होने वाली है. लगेगी क्लास.