Submit your post

Follow Us

शरद पवार बोले- महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने से बचाना है, तो बस एक ही तरीका है

5
शेयर्स

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) ने कहा है कि वो विपक्ष में बैठेगी. शरद पवार ने साफ किया है कि महाराष्ट्र की अगली सरकार बनाने में NCP और कांग्रेस की कोई भूमिका नहीं होगी. BJP और शिवसेना के बीच जारी मतभेद के बीच ऐसा लग रहा था कि NCP और कांग्रेस साथ मिलकर शिवसेना को समर्थन दे सकते हैं. 6 नवंबर की सुबह शिवसेना के संजय राउत ने शरद पवार से मुलाकात भी की. मगर ऐसा लगता है कि चीजों को लेकर दोनों के बीच सहमति नहीं बन सकी.

यही एक विकल्प है कि शिवसेना-BJP मिलकर सरकार बनाएं…
इस मीटिंग के बाद एक प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर शरद पवार ने ऐलान कर दिया. कि जनता ने कांग्रेस और NCP को विपक्ष की जिम्मेदारी दी है. ऐसे में दोनों पार्टियां यही भूमिका निभाएंगी. उन्होंने शिवसेना और BJP से भी अपील की. कहा कि वो जनता के फैसले का सम्मान करें और जल्द सरकार बनाएं. शरद पवार बोले-

सरकार बनाने में मेरी कोई भूमिका नहीं है. जनता ने हमें विपक्ष में बैठने के लिए चुना है. हम अपनी ये भूमिका सही तरीके से निभाने के लिए तैयार हैं. मैं सरकार बनाने की प्रक्रिया में किसी भी तरह से शामिल नहीं हूं. BJP और शिवसेना को सरकार बनाने के लिए जनमत मिला है. इसीलिए उन्हें जितनी जल्दी हो सके, सरकार बना लेनी चाहिए. यही एक विकल्प है कि शिवसेना और BJP सरकार बनाएं. राष्ट्रपति शासन को रोकने का यही एक विकल्प है. अगर हमारे पास बहुमत होता, तो हम किसी का इंतज़ार नहीं करते.

शरद पवार ने इस संभावना से भी इनकार किया कि शिवसेना NDA से अलग होकर NCP और कांग्रेस के साथ सरकार बना सकती है. संजय राउत से अपनी मीटिंग के बारे में पूछे जाने पर पवार ने कहा कि ये आने वाले राज्यसभा सत्र को लेकर थी. पवार ने उम्मीद जताई कि शिवसेना और BJP आज नहीं तो कल, साथ मिलकर सरकार बना ही लेंगे. उन्होंने कहा-

शिवसेना और BJP के बीच पिछले 25 सालों से गठबंधन है. अब वो कैसे अलग हो सकते हैं. आज नहीं तो कल, वो फिर साथ आएंगे. 

शिवसेना की बात मानने को राज़ी नहीं है BJP
24 अक्टूबर को महाराष्ट्र चुनाव का फैसला आया. इसके बाद से ही शिवसेना और BJP में तनातनी चल रही है. शिवसेना बेहतर डीलिंग चाहती है. 50-50 के उसके फॉर्म्युले पर BJP राजी नहीं. इस सबके बीच छह दिन पहले एकाएक संजय राउत ने शरद पवार से मुलाकात की. ऐसा लगा कि BJP को किनारे हटाकर शिवसेना और NCP-कांग्रेस हाथ मिला सकते हैं. इस बीच 5 नवंबर को BJP की तरफ से भी कहा गया. कि वो पावर शेयरिंग के मसले पर शिवसेना के साथ बातचीत करने को तैयार हैं. मगर BJP की तरफ से ये बात भी स्पष्ट कही गई कि बातचीत का मतलब ये नहीं कि वो मुख्यमंत्री के पद पर किसी तरह का समझौता करेंगे. देवेंद्र फडणवीस के घर हुई BJP नेताओं की मुलाकात के बाद महाराष्ट्र में पार्टी के प्रमुख चंद्रकांत पाटिल ने कहा-

महाराष्ट्र के मतदाताओं ने BJP और शिवसेना को जनाधार दिया है. इसीलिए हम ही सरकार बनाएंगे. शिवसेना ने अपनी तरफ से सरकार बनाने संबंधी कोई प्रस्ताव नहीं दिया है. वो जितनी जल्द हो सके, हमें अपना प्रपोज़ल देंगे. इस विषय में बातचीत के लिए BJP के दरवाजे चौबीस घंटे खुले रहेंगे.

इधर BJP ये कह रही है, उधर शिवसेना के संजय राउत कुछ और ही लाइन पर हैं. उन्होंने कहा कि BJP और शिवसेना के बीच मुख्यमंत्री का पद शेयर करने पर चुनाव से पहले ही आपसी सहमति बन गई थी. राउत का कहना है कि शिवसेना अब इस पर अमल चाहती है. शिवसेना का कहना है कि चुनाव से पहले उसके और BJP के बीच जो तय हुआ था, वो माना जाए. सरकार बनाने के प्रस्ताव पर संजय राउत ने कहा-

नए प्रस्तावों पर समय क्यों खराब करना. हम इसपर बात करना चाहते हैं कि चुनाव से पहले हमारे बीच क्या तय हुआ था. न तो कोई नया प्रस्ताव भेजा है हमने, न हमारे पास ही ऐसा कोई प्रपोज़ल आया है.

कुल मिलाकर महाराष्ट्र का सीन बिल्कुल क्लियर नहीं हो रहा. NCP और शिवसेना के बीच बातचीत बनते-बनते ख़त्म होती दिख रही है. शिवसेना की तरफ से कहा गया था कि अगर NCP के साथ किसी तरह की डील होती भी है, तो शरद पवार मुख्यमंत्री नहीं बनेंगे. ये शिवसेना के स्टैंड से मेल खाती बात है. आख़िरकार इसी CM की कुर्सी को लेकर तो उसका BJP से समझौता नहीं हो पाया है अभी तक.


महाराष्ट्र: क्या 50-50 फॉर्मूला फडणवीस की कुर्सी आदित्य ठाकरे को दिला पाएगा?

अशोक लवासा ने नरेंद्र मोदी को क्लीन चिट नहीं दी, तो उनके खिलाफ जांच बैठा दी गई?

महाराष्ट्र की लातूर रूरल और कादेगांव विधानसभा सीट पर नोटा दूसरे नंबर पर रहा

BJP के महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल का क्या हुआ?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

जिसमें स्टैच्यू ऑफ यूनिटी ने ताजमहल को पीछे छोड़ दिया, उस रिपोर्ट में एक इत्तू सी 'गोची' भी है

आज भी किसी भी अन्य मोन्यूमेंट से कहीं ज़्यादा लोग ताजमहल को ही देखने आते हैं. मगर...

पाकिस्तान या चीन ने ज़हरीली गैस तो नहीं छोड़ी, जिससे इंडिया में पल्यूशन हो गया: बीजेपी नेता

नेता जी का पूरा बयान सुनकर आप सिर पीट लेंगे.

पहली बार एक ही फिल्म में काम करने जा रहे हैं शाहरुख, आमिर और सलमान खान

जो काम देश का कोई फिल्ममेकर नहीं कर पाया, वो आमिर खान ने कर दिया है.

आमिर खान की अगली फिल्म 'लाल सिंह चड्ढा' का मोशन पोस्टर आ गया, इस दिन रिलीज होगी

नया लुक देखकर लग रहा है कुछ धमाकेदार होने वाला है.

लड़की के साथ बदतमीजी करने पर टीचर ने डांटा, लड़के ने भीड़ बुलाकर मास्टर को खूब पिटवाया

ये वारदात है UP की. टीचर को बहुत चोट आई. फ्रैक्चर हो गया है. इस वारदात का एक विडियो भी वायरल है.

ऋषभ ने कभी न सोचा होगा कि विराट कोहली को बड्डे विश करना इतना महंगा पड़ेगा

फैन्स ने न सिर्फ पंत को मधुमक्खी की तरह घेरा बल्कि ट्रोलिंग के डंक मार-मार के उन्हें पस्त भी कर दिया.

उजड़ा चमन से विवाद खत्म हुआ तो फिल्म बाला पर एक और बड़ी मुसीबत आ गई

फिल्म की रिलीज़ में सिर्फ दो दिन बचे हैं और फिल्म बनाने वालों को कोर्ट ने नोटिस भेज दिया

'राधे' फिल्म की शूटिंग से सलमान ने वीडियो शेयर किया, लोग टूट-टाटकर देख रहे हैं

इंटरनेट न बैठ जाए कसम से.

बांदा: सरकारी दफ्तर में कर्मचारी हेलमेट लगाकर काम करते हैं, वजह काफ़ी दुखी करने वाली है

यहां सड़क से ज्यादा कमरे के अंदर हेलमेट लगाना जरूरी है.

ज़िंदा जलाई गई तहसीलदार को बचाने की कोशिश करने वाले ड्राइवर की भी मौत

ड्राइवर के परिवार में आठ महीने की प्रेगनेंट पत्नी और दो साल का एक बेटा है.