Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

120 कमरे बुक, 100 करोड़ का ऑफर, और क्या-क्या होगा कर्नाटक में सरकार बनाने के चक्कर में?

1.52 K
शेयर्स

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद वहां सरकार बनाने के ‘नाटक’ शुरू हो चुके हैं. कल से बैठकों, बयानों और कयासों का दौर जारी है. कांग्रेस और बीजेपी दोनों ने पूरी ताकत कर्नाटक में झोंक दी है. भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व की तरफ से प्रकाश जावड़ेकर, जेपी नड्डा और अंनत कुमार वहां हैं तो कांग्रेस के अशोक गहलोत, गुलाम नबी आजाद और मल्लिकार्जुन खड़गे बेंगलुरू में सरकार बनाने का गणित बैठा रहे हैं.

रिजल्ट आने के बाद शाम को पहले येदियुरप्पा राज्यपाल वजुभाई वाला से मिलने पहुंचे.

फिर कुमारस्वामी के साथ कांग्रेस के नेता समर्थन की चिठ्ठी लेकर राज्यपाल से मिले. राज्यपाल ने अभी किसी को सरकार बनाने का न्यौता नहीं दिया है.

सरकार बनाने के लिए अब अलग-अलग दांव अजमाए जा रहे हैं. भाजपा जहां कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों पर डोरे डाल रही है. वहीं कांग्रेस-जेडीएस अपने विधायकों की बाडेबंदी में लगी है.

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि कर्नाटक की जनता ने बीजेपी को चुना है. कांग्रेस की पीछे के दरवाजे से सरकार बनाने की कोशिश अनैतिक है.

आज सुबह बीजेपी विधायक दल की बैठक हुई. येदियुरप्पा को विधायक दल का नेता चुना गया. फिर येदियुरप्पा राजभवन जाकर राज्यपाल से मिले हैं. राज्यपाल ने उन्हें इंतजार करने के लिए कहा है. येदियुरप्पा ने कहा कि वो सरकार बनाने जा रहे हैं और बहुमत आराम से हासिल कर लेंगे.

इधर कांग्रेस-जेडीएस के खेमे में भी हलचल जारी है. कभी लिंगायत विधायकों के नाराज होने की खबर आ रही है. कभी बीजेपी द्वारा विधायकों को आ रहे ऑफर की बात हो रही है.

कांग्रेस ने इग्लटन रिसोर्ट में 120 कमरे बुक करा लिए हैं. कांग्रेस का रिसोर्ट दांव गुजरात राज्यसभा चुनाव में चल चुका है.

जेडीएस नेता कुमारस्वामी ने प्रेस कॉंफ्रेंस कर कहा कि उनके विधायकों को बीजेपी 100-100 करोड़ रुपए का ऑफर दे रही है. वो किसी भी कंडीशन में बीजेपी के साथ नहीं जाएंगे और कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाएंगे. वो कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष के साथ राज्यपाल से मिलकर शपथ लेने के बारे में बात करेंगे.

कांग्रेस के बड़े लिंगायत नेता एम बी पाटिल ने कहा कि बीजेपी के छह विधायक उनके संपर्क में हैं.

बेंगलुरू से दूर रहने वाले 4 विधायकों को लेने के लिए कांग्रेस ने हैलीकॉप्टर भेजे हैं. कांग्रेस के 78 में से 74 विधायक बैठक में पहुंचे हैं. एक निर्दलीय विधायक भी इस बैठक में पहुंचा है.

कुल मिलाकर अभी गेंद पूरी तरह राज्यपाल के पाले में है. शाम तक ही कुछ तस्वीर साफ हो पाएगी.


Also Read:

जब एक रहस्यमयी ज्योतिषी ने कुमारस्वामी से कहा – ‘तुम्हारे मुख्यमंत्री बनने का ये सबसे सही समय है’

कर्नाटक के मुख्यमंत्री: एच डी देवेगौड़ा – जिन्हें एक नाटकीय घटनाक्रम ने देश का प्रधानमंत्री बनाया

18वीं सदी का राजा टीपू सुल्तान क्यों 2018 के चुनाव में बन गया मुद्दा?

वो छह सीटें जहां कर्नाटक के मुख्यमंत्री रहे चार नेताओं की इज़्ज़त दांव पर लगी है

कांग्रेस के इस दलित नेता की मुख्यमंत्री बनने की हसरत फिर अधूरी रह गई!

कर्नाटक के मुख्यमंत्री: धरम सिंह – जिनको इंदिरा गांधी ने 1 लाख वोटों से जीती सीट छोड़ने को कहा

इस केस में इंदिरा गांधी जीत जातीं, तो शायद भारत पर हमेशा के लिए कांग्रेस का राज हो जाता!

वीडियो- कर्नाटक में अभी क्या नाटक चल रहा है?

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Karnataka Election 2018: What is going on in Karnataka politics

टॉप खबर

कांवड़ियों पर 'पुष्पवर्षा' के लिए किराए पर आए हेलिकॉप्टर पर तगड़ा खर्च आया

यूपी सरकार की तरफ से ये हेलिकॉप्टर लिया तो गया था कांवड़ियों पर निगरानी के लिए.

मुजफ्फरपुर जैसा देवरिया का केस, कार आती थी, 15 साल से बड़ी लड़कियों को कहीं ले जाती थी

24 बच्चियों को पुलिस ने छुड़ा लिया है, 18 अब भी गायब हैं.

मैच में चीटिंग हुई है: इंग्लैंड के 11 खेल रहे थे, इंडिया का बस एक कोहली

एक ही बल्लेबाज के भरोसे टेस्ट मैच नहीं जीते जाते.

आपके काम की इन 88 चीजों के दाम कम हो गए हैं

और ये फैसला GST काउंसिल की बैठक में किया गया है.

मौत से बदतर वो 7 महीने जिस दौरान 11 साल की विकलांग से 18 लोग लगातार बलात्कार करते रहे

आपको ऐसी खबरें नहीं पढ़नी चाहिए, मूड खराब हो जाता है!

संभल में 35 साल की महिला को मंदिर में जिंदा जलाकर मार दिया गया

यूपी पुलिस फोन उठा लेती तो शायद ज़िंदा बच जाती महिला.

गूगल के इंजीनियर को भीड़ ने पीटकर मार डाला, वजह एक वायरल मैसेज था

ऐसे वायरल मैसेज की वजह से हो चुकी हैं 30 हत्याएं.

पीएम मोदी ने फसलों के दाम 200 से 1827 रुपये तक बढ़ा दिए हैं

कुल 14 फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी हुई है.

सुप्रीम कोर्ट ने भी कह दिया - एलजी नहीं, केजरीवाल हैं दिल्ली के असली बॉस

केजरीवाल ने आखिरकार एलजी को पछाड़ ही दिया.