Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

कर्नाटक चुनाव के बाद PM मोदी ने सबसे तगड़ा वार कांग्रेस-जेडीएस नहीं, इस पार्टी पर किया है

1.11 K
शेयर्स

कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2018 के नतीजे लगभग स्थिर हो चुके हैं. भाजपा 104 विधायकों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है. लेकिन 78 विधायकों वाली कांग्रेस ने असल फसल काटी है. उसने हाथ मिला लिया है 37 विधायकों वाली जेडीएस से और सरकार बनाने पर दावा ठोंक दिया है. लेकिन जैसी कि भाजपा की परंपरा रही है, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री मोदी दिल्ली में भाजपा के दफ्तर पहुंचे और कार्यकर्ताओं को संबोधित किया.

पहले मिशन 2022 (यूपी चुनाव) के ज़िक्र के साथ अमित शाह का भाषण हुआ और फिर ‘मोदी-मोदी’ के शोर के बीच प्रधानमंत्री ने अपनी बात कही. उसकी खासम-खास बातें हम यहां दे रहे हैं –

#. कर्नाटक में जीत का क्रेडिट दिया अमित शाह को. कहा कि कार्यकर्ता सीखना चाहें कि पार्टी कैसे खड़ी करनी है, तो शाह के जीवन से प्रेरणा लें.

#. भाजपा महज़ उत्तर भारतीयों या हिंदी भाषियों की पार्टी नहीं है. गोआ, महाराष्ट्र, गुजरात, असम वगैरह  गैर हिंदीभाषी राज्य हैं. भाजपा ने इन सभी राज्यों में बढ़िया प्रदर्शन किया है. अब दक्षिण के राज्य कर्नाटक में भी पहले नंबर पर है. कर्नाटक के लोगों ने हमारी बात सुनते हुए भाषा को आड़े नहीं आने दिया.

#. भाजपा कार्यकर्ताओं ने खूब मेहनत से काम किया है. उनके पसीने की महक कमल खिलाती है.

#. कांग्रेस ने देश में संघवाद को चोट पहुंचाने वाली भावना से काम किया है.

#. कर्नाटक में ‘दूसरे तरीके’ से लोकतंत्र को दबाने की कोशिश हुई. कुछ पकड़ा गया, कुछ नहीं पकड़ा गया होगा.

#. मीडिया हर चुनाव को 2019 का सेमिफाइनल बता देता है. बार-बार लोकसभा चुनाव का बिगुल बजा देता है. कुछ लोग इतना ही सोच पाते हैं. हम ऐसा नहीं मानते.

पीएम ने पहले वाराणसी हादसे पर दुख जताया, फिर कर्नाटक पर खुशी और फिर बंगाल पर गुस्सा.
पीएम ने पहले वाराणसी हादसे पर दुख जताया, फिर कर्नाटक पर खुशी और फिर बंगाल पर गुस्सा.

इन बातों के अलावा दो चीज़ें ऐसी थीं कि जिनपर पीएम ने खूब ज़ोर दिया. इसलिए उनका जिक्र हम अलग से कर रहे हैं –

#. पार्टी कर्नाटक की विकास यात्रा में पीछे नहीं हटेगी.

ये शायद इस बात की ओर इशारा था कि भाजपा सरकार बनाने की कोशिश छोड़ने वाली नहीं है.

#. पश्चिम बंगाल में 14 मई को हुई चुनावी हिंसा.

प्रधानमंत्री भाषण के आखिरी पांच मिनिट बंगाल में हुई चुनावी हिंसा के बारे में बोले. उन्होंने कहा कि नामांकन से मतदान तक जिस तरह बलवा हुआ, ‘शासक दल’ (तृणमूल) को छोड़कर जिस तरह कार्यकर्ताओं की हत्या हुई, वो ‘लोकतंत्र की हत्या’ है. इससे निपटने के लिए सिविल सोसायटी और ज्यूडीशियरी को साथ आना चाहिए.

 


कर्नाटक चुनाव पर लल्लनटॉप खबरें यहां पढ़ेंः

कर्नाटक के मुख्यमंत्री: देवेगौड़ा – जिन्हें एक नाटकीय घटनाक्रम ने देश का प्रधानमंत्री बनाया
कर्नाटक के मुख्यमंत्री: एस एम कृष्णा – कांग्रेस ने जिसे मुख्यमंत्री बनाया वो 87 की उम्र में BJP सदस्य बना
क्लर्क से कर्नाटक का मुख्यमंत्री बनने तक की येदियुरप्पा की कहानी
कर्नाटक के मुख्यमंत्री: धरम सिंह – जिनको इंदिरा गांधी ने 1 लाख वोटों से जीती सीट छोड़ने को कहा
वीडियो- साथ आने के बावजूद सरकार बना पाएंगे JDS Congress?

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Karnataka Election 2018: Besides praising Amit Shah and congratulating BJP cadre, PM Modi issues a stinging remark against poll violence in Bengal

टॉप खबर

नहीं रहे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी

93 साल की उम्र में एम्स में ली अंतिम सांस.

कांवड़ियों पर 'पुष्पवर्षा' के लिए किराए पर आए हेलिकॉप्टर पर तगड़ा खर्च आया

यूपी सरकार की तरफ से ये हेलिकॉप्टर लिया तो गया था कांवड़ियों पर निगरानी के लिए.

मुजफ्फरपुर जैसा देवरिया का केस, कार आती थी, 15 साल से बड़ी लड़कियों को कहीं ले जाती थी

24 बच्चियों को पुलिस ने छुड़ा लिया है, 18 अब भी गायब हैं.

मैच में चीटिंग हुई है: इंग्लैंड के 11 खेल रहे थे, इंडिया का बस एक कोहली

एक ही बल्लेबाज के भरोसे टेस्ट मैच नहीं जीते जाते.

आपके काम की इन 88 चीजों के दाम कम हो गए हैं

और ये फैसला GST काउंसिल की बैठक में किया गया है.

मौत से बदतर वो 7 महीने जिस दौरान 11 साल की विकलांग से 18 लोग लगातार बलात्कार करते रहे

आपको ऐसी खबरें नहीं पढ़नी चाहिए, मूड खराब हो जाता है!

संभल में 35 साल की महिला को मंदिर में जिंदा जलाकर मार दिया गया

यूपी पुलिस फोन उठा लेती तो शायद ज़िंदा बच जाती महिला.

गूगल के इंजीनियर को भीड़ ने पीटकर मार डाला, वजह एक वायरल मैसेज था

ऐसे वायरल मैसेज की वजह से हो चुकी हैं 30 हत्याएं.

पीएम मोदी ने फसलों के दाम 200 से 1827 रुपये तक बढ़ा दिए हैं

कुल 14 फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी हुई है.