Submit your post

Follow Us

जोफ्रा आर्चर को वर्ल्ड कप टीम में न शामिल करके इंग्लैंड ने एक चालाकी की है

2.25 K
शेयर्स

इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) ने अपने ही देश में हो रहे वर्ल्ड कप के लिए अपनी 15 सदस्यीय टीम का ऐलान कर दिया है. इसमें सबसे बड़ी अपडेट ये है कि इन 15 प्लेयरों में उस जोफ्रा आर्चर का नाम नहीं है. वही जोफ्रा आर्चर जिन्हें वर्ल्ड कप टीम में लाने के लिए बोर्ड ने काफी प्रयास किए. जोफ्रा के लिए यूके में क्रिकेट खेलने के नियमों में ढील दी गई. मगर इंग्लैंड टीम के कई खिलाड़ियों और कई पूर्व क्रिकेटरों ने जब कहा कि जोफ्रा का इस तरह पैराशूट कैंडिडेट बनकर आना बाकी खिलाड़ियों के लिए सही नहीं है तो ईसीबी जोफ्रा को वर्ल्ड कप टीम सीधे शामिल नहीं किया.

ये है इंग्लैंड की वर्ल्ड कप टीम-

Untitled design (13)

बुधवार यानी 17 अप्रैल को बोर्ड ने वर्ल्ड कप के लिए 15 प्लेयरों के नाम जारी किए और उसमे जोफ्रा आर्चर का नाम नहीं है. मगर साथ बोर्ड ने एक खेल ये कर दिया कि आयरलैंड और पाकिस्तान के खिलाफ हो रहे वनडे और
टी20 मैचों के लिए 17 खिलाड़ियों की जो लिस्ट जारी की उसमें जोफ्रा आर्चर का नाम शामिल है. ये सीरीज 19 मई को खत्म होनी है. और हर देश को अपने फाइनल 15 खिलाड़ियों की लिस्ट आईसीसी को 23 मई तक भेजनी है. यानी उसके बाद टीम में कोई बदलाव नहीं किया जा सकेगा. ईसीबी ने जोफ्रा आर्चर और क्रिस जॉर्डन को इन दो सीरीज में खुद को साबित करने का मौका दिया है. अगर जोफ्रा इसमें कुछ कमाल कर पाए तो ईसीबी को जोफ्रा के खिलाफ उठ रही आवाजों का जवाब देने में सहूलियत होगी.

कैरीबियन देश बारवाडोस में पैदा हुए जोफ्रा इंग्लैंड सिर्फ काउंटी क्रिकेट खेलने आए थे. यहां की क्रिकेट में इतना रच बच गए हैं कि अब यहीं के होकर रह गए हैं. मगर यहां के खिलाड़ियों के लिए जोफ्रा अभी भी बाहरी ही हैं. पहले कोई भी खिलाड़ी 18 साल की उम्र के बाद यदि यूके आता था तो उसे कम से कम 7 साल यहां बिताने होते थे, तभी वो इंग्लैंड के लिए खेलने के योग्य माना जाता था. मगर फिर ईसीबी ने इस रूल को बदल कर 3 साल कर दिया. इस लिहाज से जोफ्रा आर्चर 2015 में यहां आए थे और अब तीन साल यहां पूरे कर चुके हैं. यूके में क्रिकेट के कानूनों में ढील खुद ईसीबी ने दी है.

Untitled design (8)

मगर जब इंग्लैंड के लिए एक भी मैच नहीं खेले जोफ्रा आर्चर का सलेक्शन 2019 वर्ल्ड कप टीम में पक्का माना जा रहा था, अब कई खिलाड़ियों ने टीम में जोफ्रा को लिए जाने पर विरोध जताया है. इसमें सबसे आगे हैं क्रिस वोक्स जिन्होंने कहा कि जोफ्रा आर्चर का टीम में आना नैतिक रूप से सही नहीं होगा. वोक्स ने आगे कहा कि जिस भी इंग्लिश खिलाड़ी की जगह जोफ्रा आंएगे, वो उसके लिए सही नहीं होगा. वोक्स ने कहा कि मैं निजी तौर पर नहीं चाहूंगा कि मेरा कोई भी टीम मेट बाहर जाए. हम लोगों ने कई सालों से साथ क्रिकेट खेला है और इंग्लैंड को कई सीरीज जितवाई हैं. वोक्स के अलावा इंग्लैंड के ही बॉलर डेविड विल्ली ने कहा था कि ये बड़ी अजीब बात है कि कोई वर्ल्ड कप से ठीक पहले आए टीम सलेक्शन के लिए मौजूद हो और देश के लिए खेलने लग जाए. अभी एक हफ्ता पहले टीम के ही खिलाड़ी मार्क वुड ने कहा था कि आर्चर के टीम में आने से टीम का संतुलन बिगड़ जाएगा.

अब इंग्लैंड की इस टीम में जोफ्रा आर्चर का इतना विरोध हो रहा है तो बोर्ड के सामने समस्या ये है कि जोफ्रा को कैसे शामिल करें. ऐसे में आयरलैंड और इंग्लैंड के खिलाफ ये मैच आर्चर के लिए जगह बनाने में मदद कर सकते हैं. साथ ही आईपीएल की राजस्थान रॉयल्स के लिए जोफ्रा आर्चर के साथ इंग्लैंड टीम के वाइस कैप्टन जोस बटलर और बेन स्टोक्स भी खेल रहे हैं जो इंग्लैंड की वर्ल्ड कप टीम में भी हैं और ये दोनों आर्चर के लिए टीम में वो स्वीकार्यता पैदा कर सकते हैं जो बोर्ड नहीं करवा पा रहा है.


लल्लनटॉप वीडियो भी देखें-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Jofra Archer not named in England World Cup squad after resentment from the English players

टॉप खबर

राजीव गांधी के हत्यारे ने संजय दत्त की मुश्किलें बढ़ा दी हैं

जेल में बंद पेरारिवलन ने संजय दत्त से जुड़ी बहुत सी जानकारी इकट्ठी की है.

कठुआ केस के छह दोषियों को क्या सज़ा मिली?

अदालत ने सात में से छह आरोपियों को दोषी माना था. मास्टरमाइंड सांजी राम का बेटा विशाल बरी हो गया.

कठुआ केस में फैसला आ गया है, एक बरी, छह दोषी करार

दोषियों में तीन पुलिसवाले भी शामिल हैं.

पांच साल की बच्ची से रेप किया और फिर ईंटों से कूंचकर मार डाला

उज्जैन में अलीगढ़ जैसा कांड, पड़ोसी ही निकला हत्यारा...

अफगानिस्तान किन गलतियों से श्रीलंका से जीता-जिताया मैच हार गया?

मलिंगा का तो जोड़ नहीं.

क्या चुनावी नतीजे आने के 10 दिनों के अंदर यूपी में 28 यादवों की हत्या हुई है?

28 नामों की एक लिस्ट वायरल हो रही है. लेकिन सच क्या है?

मायावती ने ऐसा क्या कह दिया कि फिलहाल गठबंधन को टूटा मान लेना चाहिए

प्रेस कांफ्रेंस में मायावती ने गठबंधन तोड़ने का सीधा ऐलान तो नहीं किया, लेकिन बहुत कुछ कह गयीं.

चुनाव नतीजे आए दस दिन हुए नहीं, मायावती ने गठबंधन पर सवाल उठा दिए

वो भी तब जब मायावती के पास जीरो से बढ़कर दस सांसद हो गए हैं

अरविंद केजरीवाल ने चुनाव में बंपर वोट खींचने वाला ऐलान कर दिया है

वो ऐसी स्कीम लेकर आए हैं कि दिल्ली-NCR की महिलाएं खुश हो गईं.

आखिर क्या सोचकर मोदी ने UP के इन नेताओं को कैबिनेट में जगह दी है?

इनमें कुछ से पिछली सरकार के दौरान बीच में ही मंत्रालय छीन लिया गया था.