Submit your post

Follow Us

कोहली को IPL 2019 की पहली जीत तो मिली मगर भाई की जेब भी कट गई

685
शेयर्स

आखिरकार विराट कोहली की टीम इस आईपीएल सीजन में अपना पहला मैच जीत ही गई. 7 मैचों में पहला मैच जीती. खुद कप्तान कोहली और एबी डिविलियर्स का बल्ला चला और टीम को जीत हासिल हुई. किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मोहाली में बेंगलोर ने 174 के टारगेट को पार कर ये जीत हासिल की. विराट कोहली के लिए अच्छी खबर तो आई मगर साथ ही बुरी खबर भी साथ ही नत्थी थी. और वो ये कि विराट कोहली को 12 लाख रुपए का जुर्माना भी हुआ है. वो इसलिए क्योंकि इस मैच में कोहली की टीम का ओवर रेट स्लो था. ये कोहली की टीम का पहला जुर्म था इसलिए सिर्फ 12 लाख रुपए का जुर्माना किया गया है.

वैसे इस सीजन में कोहली तीसरे ऐसे कप्तान हैं जिन्हें स्लो ओवर रेट के लिए फाइन किया गया है. इनसे पहले मुंबई इंडियंस के रोहित शर्मा औऱ राजस्थान रॉयल्स के अजिंक्य रहाणे पर भी स्लो ओवर रेट के लिए जुर्माना लग चुका है. इस मैच में बेगलोर ने पहले फील्डिंग की और पंजाब को 20 ओवरों में 173/4 के स्कोर पर रोक लिया. उसके बाद टीम के लिए कप्तान कोहली ने 53 गेंदों पर 67 रन और डिविलियर्स ने 38 गेंदों पर 59 रनों की पारी खेलकर टीम को जितवा दिया.

स्लो ओवर रेट का मसला इस बार काफी सामने आ रहा है क्योंकि ज्यादातर टीमें अपने हिस्से के ओवर टाइम से खत्म नहीं कर पा रही हैं और मैच खत्म होने में चार घंटे से ज्यादा का वक्त लग रहा है. इसके पीछे कई कारण हैं जैसे टीमें ड्यू यानी ओस के चलते जल्दी ओवर नहीं खत्म कर पाती हैं और स्ट्रेटीजिक टाइम आउट में भी टाइम जाता है.

IPL Overrates

Capture

इस बारे में पहले ही चेन्नई सुपरकिंग्स के कोच स्टीफन फ्लेमिंग और सरराइजर्स हैदराबाद के कोच टॉम मूडी चिंता जता चुके हैं. जानकार मान रहे हैं कि अंपायरों को इस मामले में सख्ती दिखाने की जरूरत है और कैरीबियन प्रीमियर लीग की तरह अगर कोई टीम स्लो ओवर रेट रखती है तो उनके नेट रन रेट में पॉइंट कम कर दिए जाएं. इसपर टॉम मूडी पहले ही कह चुके हैं कि 12 लाख के फाइन से टीमों पर क्या ही फर्क पड़ता है. यहां टीमों को जिम्मेदारी से खेलना होगा. वहीं दिल्ली के असिस्टेंट कोच मोहम्मद कैफ ने अंपायरों से कहा था कि वो इस पर ध्यान दें कि टीमें जानबूझ कर धीमें फील्डरों को बतौर सबस्टिट्यूट कर रही हैं.

चूंकि ये पहली बार हुआ है इसलिए जुर्माना 12 लाख है. अगली बार ये होने पर कप्तान से 24 लाख रुपए और टीम के हर प्लेयर से करीब 6 लाख रुपए वसूले जाएंगे. अगर तीसरी बार कोई टीम स्लो ओवर रेट की दोषी पाई गई तो कप्तान से 30 लाख रुपए और अगले मैच का बैन के साथ साथ खिलाड़ियों से 12-12 लाख रुपए वसूले जाएंगे. इसलिए हर टीम को इस मामले में सतर्क होने की जरूरत है.


लल्लनटॉप वीडियो देखिए-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

BHU : मुस्लिम संस्कृत शिक्षक ने कहीं और पढ़ाने के लिए आवेदन किया है

एक पत्थर पर लिखी बात संविधान से ज्यादा ज़रूरी?

एक तरफ अमित शाह रैली में बोले नक्सलवाद ख़त्म किया, उधर नक्सलियों ने हमला कर दिया

नक्सलियों ने अमित शाह को गलत साबित कर दिया. चार जवान शहीद हो गए.

कांग्रेस ने अलग से प्रेस कॉन्फ्रेंस क्यों की?

और क्या बोले अहमद पटेल?

महाराष्ट्र में रातों रात बदला गेम, देवेंद्र फडणवीस सीएम और एनसीपी के अजित पवार डिप्टी सीएम बने

शिवसेना ने इसे अंधेरे में डाका डालना बताया.

किसका डर है कि अयोध्या मसले में सुन्नी वक्फ बोर्ड रिव्यू पिटीशन नहीं फ़ाइल कर रहा?

चेयरमैन के ऊपर दो-दो केस!

डूबते टेलीकॉम को बचाने के लिए सरकार 42 हज़ार करोड़ की लाइफलाइन लेकर आई है

तो क्या वोडाफोन आईडिया और एयरटेल बंद नहीं होने वाले हैं?

मालेगांव बम ब्लास्ट की आरोपी प्रज्ञा ठाकुर देश की रक्षा करने जा रही हैं

रक्षा मंत्रालय की कमेटी में शामिल होंगी.

IIT गुवाहाटी के छात्र एक प्रोफेसर के लिए क्यों लड़ रहे हैं?

प्रोफेसर बीके राय लंबे समय से करप्शन के खिलाफ जंग छेड़े हुए हैं.

आर्टिकल 370 हटने के बाद कश्मीर में पत्थरबाजी कम हुई या बढ़ी?

राज्यसभा में सरकार ने आंकड़े बताए हैं.

फोन कंपनियां ये किस बात के लिए हम लोगों से पैसा लेने जा रही हैं?

कॉल और डाटा का पैसा बढ़ने वाला है, पढ़ लो!