Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

IND vs NZ : ये पांच चीजें न होतीं तो टीम इंडिया न जीत पाती पांचवां वनडे

5
शेयर्स

इंडिया वर्सेज न्यूजीलैंड. पांचवा और सीरीज का आखिरी वनडे. सीरीज तो टीम जीत चुकी थी. पर चौथे वनडे में हार के बाद भारतीय फैंस का मूड खराब था. जनता हार से नहीं दुखी थी, 92 रन के स्कोर पर ऑलआउट और फिर मिली बुरी वाली हार से दुखी थी. पांचवा वनडे शुरू हुआ तो लगा एक बार फिर बेइज्जती तय है. मगर फिर टीम इंडिया ने वापसी की. एक कंप्लीट टीम परफॉर्मेंस दी और मैच जीत लिया. 35 रनों से. फिर किसी ने कहा है न – अंत भला तो सब भला. तो अंत भला हो गया. और इस भले के पीछे ये 5 वजहें रहीं –

1. रायडू-शंकर की पार्टनरशिप

मैच में टीम इंडिया ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग का फैसला किया. पर जैसे चौथे वनडे में टॉप ऑर्डर ढेर हुआ था. वैसा ही हाल इस मैच में भी हुआ. 18 रन पर चार विकेट हो गए. रोहित, धवन, शुभमन और धोनी वापस जा चुके थे. टीम को एक पार्टनरशिप की सख्त जरूरत थी. तो वो काम किया अंबाती रायडू और विजय शंकर ने. दोनों के बीच 98 रनों की पार्टनरशिप हुई. और इसी पार्टनरशिप की बदौलत टीम ने मैच में वापसी की.

2. पंड्या-जाधव का कैमियो

रायडू मैच के 44वें ओवर में 90 रन पर आउट होकर चले गए तो टीम को अब एक फिनिश की जरूरत थी. तो ये काम कर दिया पहले जाधव और आखिर में पंड्या ने. और पंड्या ने तो बहुत कसके कूटा. पांच छक्के लगाए और अपनी 22 बॉल पर 45 रन की पारी की बदौलत टीम का स्कोर 250 पार पहुंचवा दिया.

पंड्या ने तगड़ी पारी खेली.
पंड्या ने तगड़ी पारी खेली.

3. शमी की वापसी

चौथे वनडे में टीम ने जो एक सबसे बड़ी कमी महसूस की, वो थी मोहम्मद शमी की. सबको यही लगा कि शमी होते तो वो जल्दी शुरुआती विकेट निकालते और मैच जरूर फंसता. सो पांचवे वनडे में शमी लौटे और उन्होंने दोनों ओपनर कॉलिन मुनरो और निकोलस का विकेट निकाला भी. 8 ओवर में 35 रन देकर 2 विकेट निकाले. साबित किया कि बुमराह की जगह उनको मौका देना गलत नहीं था. देखा जाए तो शमी ही इस न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया सीरीज की सबसे बड़ी खोज हैं. उन्हें न्यूजीलैंड सीरीज में मैन ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड भी मिला.

4. बॉलिंग में सबने दिखाया दम

इस मैच में कुल्चा माने कुल्दीप और चाहल की जोड़ी तो नहीं थी. मगर इसकी भरपाई चाहल ने अकेले कर दी. क्या गजब गेंद नचाई है. खास बात ये रही कि उन्होंने 3 विकेट लिए और तीनों एलबीडब्लू आउट किए. ये विकेट थे लैथम, ग्रैंडहोम और एसले के. 10 ओवर में रन भी चाहल ने केवल 41 दिए. कुल मिलाकर इस मैच में बॉलरों ने अपनी पूरी जान लगाई. पंड्या ने तो टेलर का विकेट लिया जिन्हें सबसे खतरनाक माना जाता है. इसी तरह जाधव ने तो केन विलियमसन का विकेट लिया जो टीम के लिए बड़ा ब्रेक था. रही सही कसर न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने खराब शॉट्स खेलकर पूरी कर दी.

5. धोनी-रोहित की जुगलबंदी

अंतिम वजह थी कप्तानी. पर किसकी. रोहित शर्मा की नहीं. महेंद्र सिंह धोनी की. धोनी भले आज बल्ले से नहीं चले. पर उन्होंने स्टंप के पीछे खड़े होकर अपना सारा हुनर लगा दिया. फील्डरों को सेट करने में. बॉलरों को गाइड करके. विलियमसन का विकेट धोनी के दिमाग का ही नतीजा था. उन्होंने ही गेंद जाधव से बाहर रखने को कही थी. तभी विलियमसन का विकेट लेने के बाद जाधव नाच रहे थे और धोनी खिलखिला रहे थे. उधर रोहित भी बिना टोका टाकी अपना काम करते रहे.

महेंद्र सिंह धोनी.
महेंद्र सिंह धोनी.

मैच जीतने के बाद जैसा कि रोहित शर्मा ने कहा भी कि ये एक कंप्लीट टीम परफॉर्मेंस थी. ये सही बात थी. टीम बैलंस्ड भी दिखी और सबने कोशिश भर खेला भी. नतीजा सामने है.


 

लल्लनटॉप वीडियो देखें-

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
IND vs NZ : 5 reasons why Team India won the fifth ODI

क्या चल रहा है?

'65 और '71 की लड़ाई में शामिल सैनिक मांग रहा था भीख, वर्ल्ड कप जिताने वाले इस खिलाड़ी ने की मदद

सेना और रक्षा मंत्रालय ने भी दिया मदद का भरोसा.

बिहार में ट्रेन पटरी से उतरी, लोग कह रहे ट्रैक पहले से टूटा था

6 लोगों की मौत, 24 घायल. राहत कार्य चल रहा है. दो दिन में दो ट्रेन हादसे हो चुके हैं.

IND vs NZ : स्कोर देख कोहली सोच रहे होंगे- ये लड़के अगली बार छुट्टी नहीं मिलने देंगे

पिछले मैच का स्कोर बस टूटते-टूटते रह गया.

पैट कमिंस की बॉल पर मरते-मरते बचा ये श्रीलंकाई ओपनर

फिल ह्यूज की मौत की याद ताजा कराता ये वीडियो देखें.

ज्योतिष के ज्ञानी, टेनिस के शौकीन हैं CBI के नए चीफ

मध्यप्रदेश के पूर्व DGP और सीबीआई के नए सर्वेसर्वा ऋषि शुक्ला के बारे में जान लीजिए.

रहम की भीख मांगती कश्मीरी लड़की को आतंकियों ने करीब से मारी गोली

पुलिस का मुखबिर होने के शक में किया मर्डर. सोशल मीडिया पर शेयर किया वीडियो.

बर्थडे के दिन शहीद हुआ मिराज फाइटर पायलट, किस्मत थोड़ा साथ देती तो बच जाता!

बेंगलुरु में मिराज 2000 फाइटर जेट हुआ क्रैश, दोनों पायलटों शहीद.

वित्तमंत्री पीयूष गोयल का बजट के दौरान 3 करोड़ का झूठ!

जानिए 3 करोड़ इनकम टैक्स पेयर्स को फायदा पहुंचाने का वित्तमंत्री का दावा कितना सच्चा.

बजट : मिडिल क्लास वाले मकान पर मिल रही इन छूटों को देख खुश हो जाएंगे

टैक्स स्लैब बढ़ने की खुशी में आपने ये ऐलान तो मिस नहीं किया.

पर्रिकर की नाक में नली क्यों लगी रहती है?

फिलहाल पर्रिकर एम्स दिल्ली में हैं. उनकी तस्वीरें अक्सर वायरल होती हैं.