Submit your post

Follow Us

क्या है उस विवादित ऑडियो क्लिप में, जिस पर येदियुरप्पा बयान देकर खुद फंस गए हैं?

890
शेयर्स

कर्नाटक, अगर इसका संधि विच्छेद करें तो होगा कर+नाटक. कुछ ऐसा ही हो रहा है कर्नाटक की राजनीति में. पहले कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारास्वामी एक ऑडियो क्लिप जारी करते हैं. फिर येदियुरप्पा उसे फर्जी बताते हैं. फिर कुमारास्वामी कहते हैं कि फर्जी निकला तो राजनीति से संन्यास ले लूंगा. फिर येदियुरप्पा कहते हैं कि हां वो बातचीत उनकी है, लेकिन इसमें एडिटिंग हुई है. अब राजनीति की इस उठा पटक को नाटक नहीं कहेंगे तो और क्या कहेंगे.

अब इस मामले को सिलसिलेवार तरीके से समझिए, वर्ना कन्फ्यूज़ हो जाएंगे. 8 फरवरी को कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारास्वामी मीडिया के सामने आते हैं. एक क्लिप जारी करते हैं. दावा करते हैं कि वो ऑडियो क्लिप बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा की है. इस ऑडियो क्लिप के मुताबिक येदियुरप्पा उनकी पार्टी के विधायक नगनगौड़ा के बेटे शरणगौड़ा से मिलते हैं. इस मुलाकात के दौरान येदियुरप्पा उनके पिता को 25 करोड़ रुपये और मंत्री पद देने का लालच देते हैं.

शुक्रवार को कुमारास्वामी क्लिप लेकर मीडिया के सामने आए थे
कुमारास्वामी क्लिप लेकर मीडिया के सामने आए थे

अब स्टेप नंबर टू. इसके एक दिन के बाद जेडीएस के दूसरे विधायक श्रीनिवास गौड़ा ने एक और दावा किया. उन्होंने कहा- कि उन्हें पार्टी बदलने के लिए बीजेपी की ओर से 5 करोड़ रुपये ऑफर दिए गए थे. लेकिन सीएम कुमारस्वामी के कहने पर उन्होंने तत्काल रुपये वापस कर दिए. ये एक तरह से बीजेपी और येदियुरप्पा पर आरोपों का डबल अटैक था.

इस खबर पर खूब हो हल्ला हुआ. येदियुरप्पा पर आरोप लगे कि वो कर्नाटक में सरकार गिराने की जी तोड़ कोशिश कर रहे हैं. फिर येदियुरप्पा प्रकट होते हैं. वो आरोपों के साथ ऑडियो क्लिप को फर्जी बताते हैं, कहते हैं कि कुमारास्वामी ने जो ऑडियो क्लिप जारी किया है उसमें उनकी आवाज़ नहीं है. कुमारास्वामी गंदी राजनीति कर रहे हैं.

कुमारास्वामी बमक गए. फिर से मीडिया के सामने आए और कहा कि अगर ये ऑडियो क्लिप फर्जी निकला तो वो राजनीति से संन्यास ले लेंगे. साथ ही ये भी कहा कि सरकार गिराने की येदियुरप्पा भरपूर कोशिश कर रहे हैं, लेकिन इसमें वो सफल नहीं हो पा रहे हैं. वो इस मामले को प्रधानमंत्री के सामने लेकर जाने की भी बात करते हैं.

कुमारास्वामी मामले को लेकर प्रधानमंत्री के पास जाने की बात करते हैं
कुमारास्वामी मामले को लेकर प्रधानमंत्री के पास जाने की बात करते हैं.

इस पर येदियुरप्पा की खूब छीछालेदर होती है. मीडिया फिर से येदियुरप्पा से सवाल करती है. जिसके बाद येदियुरप्पा इस बात को मान लेते हैं कि उनकी मुलाकात जेडीएस के विधायक के बेटे से हुई. ऑडियो क्लिप में उनकी ही आवाज है. लेकिन साथ ही वो ये भी कहते हैं कि ऑडियो क्लिप के साथ छेड़छाड़ की गई है, एडिटिंग की गई है, और पैसे वाली बात उसमें जोड़ी गई है, ताकि उनकी छवि को नुकसान पहुंचे. वो कहते हैं कि “कुमारस्वामी चुने हुए प्रतिनिधियों को फंसाने का नया ट्रेंड शुरू करके राजनीति में बेहद नीचे गिर गए हैं”. माने येदियुरप्पा नए तरीके से कुमारास्वामी पर अटैक करते हैं.

अब अपडेट ये है कि कर्नाटक में इस बात पर खूब उठा पठक हो रही है. खबरें ये भी आ रही है कि येदियुरप्पा मुख्यमंत्री बनने के लिए जी तोड़ मेहनत कर रहे हैं. उन पर ये भी आरोप लग रहे हैं कि वो बीजेपी आलाकमान की भी नहीं सुन रहे, और जेडीएस विधायकों को लगातार तोड़ने की कोशिश में लगे हुए हैं.

येदियुरप्पा अब कह रहे हैं, कि ऑडियो में एडिटिंग की गई है
येदियुरप्पा अब कह रहे हैं, कि ऑडियो में एडिटिंग की गई है.

अब कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद बीजेपी सत्ता से बाहर है, पूर्ण बहुमत से दूर होने के बावजूद वो मुख्यमंत्री बनते हैं फिर इस्तीफा दे देते हैं. अब विपक्ष में बैठकर लगातार मुख्यमंत्री की कुर्सी पर टकटकी लगाए देखते रहते हैं. इस्तीफा दिए हुए उन्हें 8 महीने से ज्यादा हो गए लेकिन उनकी दिल की मुराद पूरी होती हुई नहीं दिख रही है.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
In karnataka after denial BS Yeddyurappa admits voice on tape is mine but kumaraswamy doctored it

टॉप खबर

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने यौन उत्पीड़न के आरोपों के जवाब में ये 9 बातें बोलीं

एक महिला के गंभीर आरोपों को लेकर हुई सुनवाई में तीन जजों की बेंच ने एक बहुत बड़ा दावा किया.

BJP प्रवक्ता पर जूता फेंकने वाला क्यों नाराज था, 2 दिन पहले की 4 FB पोस्ट से पता चला

खुद आयकर के चंगुल में फंसा है जूता फेंकने वाला शक्ति भार्गव.

BJP प्रवक्ता पर जूते से हमला करने वाला कानपुर का बहुत नामी आदमी है

450 करोड़ की प्रॉपटी 11.5 करोड़ में खरीद चुका है!

क्या पीएम मोदी अपनी संपत्ति को लेकर चुनावी हलफनामे में गलत जानकारी देते रहे हैं?

मामला प्राइम लोकेशन के एक प्लॉट का है, जिस पर PIL दाखिल हुई है.

जानिए मोदी को पुतिन की सरकार ने अपना सबसे बड़ा सम्मान क्यों दिया है

मोदी इतने विनम्र हैं कि किसी को कॉल-मैसेज तक नहीं कर रहे.

कांग्रेस की सभा में खाली कुर्सी की फोटो ले रहे पत्रकार को कांग्रेसियों ने पीट दिया

राहुल माथा पोंछते हैं, प्रियंका जूता उठाती हैं, कांग्रेस के कार्यकर्ता पत्रकार को पीट देते हैं.

UPSC के पहले 5 टॉपर्स ने बताया यहां तक पहुंचने के लिए क्या-क्या करना पड़ा?

पांच टॉपर्स ने बताए सफल होने के पांच मंत्र.

क्या भारत की ही मिसाइल का शिकार हुआ था वायुसेना का हेलिकॉप्टर?

जानिए क्या हुआ था 27 फरवरी को बडगाम में...

एमपी में मिली 1500 साल पुरानी मूर्ति पर किस विदेशी का चेहरा बना है?

एक साल से चल रही खुदाई में अब जाकर कामयाबी मिली है.