Submit your post

Follow Us

60 लाख की गाड़ी नदी में डुबोने वाले इस लड़के का दर्द उसके अलावा कोई नहीं समझ पाएगा

767
शेयर्स

किसी महान आत्मा ने कहा था कि ‘ग़रीबी और दरिद्रता में अंतर होता है’. अगर किसी गांव में सब बैलगाड़ी से चलते हैं तो वो ग़रीब हैं. लेकिन अगर उसी गांव में किसी के पास मोटरगाड़ी आ जाए तो बाक़ी के गांव वाले दरिद्र होंगे. लेकिन हमारी ये ख़बर ज़िद की है, और ज़िद मापने का कोई पैमाना नहीं होता. इंसान जिद्दी होता है. कुछ इंसान बहुत ज़िद्दी होते हैं. माता-पिता अपने बच्चों की ज़िद से कई दफ़े परेशान भी दिखाई देते हैं. कई बार बच्चे अपने पैरेंट्स के ज़िद्दी होने की शिकायत भी करते हैं. ज़िद अच्छी और बुरी दोनों होती है. ये राइट ब्रदर्स की ज़िद ही थी कि आज इंसान बिना पंखों वाला प्राणी होते हुए भी आसमान में उड़ता है. हवाई जहाज़ इसी ज़िद का नतीजा हैं. और एक ज़िद हिटलर की भी थी जिसके निशान अनगिनत कब्रों की शक्ल में दुनिया के माथे पर आज भी मौजूद हैं.

हरियाणा के यमुनानगर में एक अजीब ज़िद का मामला सामने आया है. एक लड़के ने अपने पिता से एक गाड़ी दिलाने को कहा. पिता नहीं माने. तो इससे दुखी होकर लड़के ने अपनी पुरानी गाड़ी नहर में डुबा दी.

# क्या है ये ज़िद्दी मामला

मामला ज़िद का है. एक क़ारोबारी का बेटा जगुआर लेने की ज़िद कर रहा था. जगुआर होती है महंगी. पैंतालिस पचास लाख से तो शुरू होती है. ढाई तीन करोड़ तक की भी आती है. बेटा इसी गाड़ी का कोई महंगा मॉडल लेने की ज़िद कर रहा था. लेकिन बाप उसे जगुआर दिला नहीं रहा था. बेटा अपनी गाड़ी लेकर गया और नहर में डुबा दी. और जब गाड़ी डूबने लगी तो बाक़ायदा उसने टिक टॉक वीडियो भी बनाया. अपने परिवार को वीडियो भेजा भी.

बाद में गाड़ी निकालने के लिए पुलिस ने गोताखोरों की एक टीम लगाई, क्रेन भी बुलानी पड़ी
बाद में गाड़ी निकालने के लिए पुलिस ने गोताखोरों की एक टीम लगाई, क्रेन भी बुलानी पड़ी

लेकिन आपको हैरानी ये जानकर होगी कि लड़के ने जिस गाड़ी को नहर में डूबने के लिए छोड़ दिया वो थी BMW. इस गाड़ी की कीमत भी पच्चीस तीस लाख से शुरू होती है. जो गाड़ी इस लड़के के पास थी वो थी 60 लाख की गाड़ी भी इस लड़के को कुछ महीने पहले ही दिलाई थी पिता ने. इससे पहले लड़के के पास थी फोरचुनर. और उससे पहले थी इनोवा. लड़का महंगी गाड़ियों का घना प्रेमी था. इसलिए अब चाहिए थी जगुआर. ‘कुड़ी केंदी बेबी पैले जगुआर ले लो, फेर जेन्ना मरजी पियार ले लो’.

# क्या सोच रहा होगा लड़का

ज़िद पूरी ना होने से लड़का दुखी था. ज़ाहिर सी बात है कि उसे अपना दुःख बड़ा लगता होगा, बहुत बड़ा. बिहार केरल कर्नाटक गुजरात में आई  बाढ़ में फंसे लोगों से भी ज़्यादा दुखी होगा लड़का. सबको अपने दुःख बड़े लगते हैं. और दुःख मापने का भी कोई पैमाना कहां होता है. पिता की अपनी मजबूरी रही होगी कि बेटे को साठ लाख की ही गाड़ी दिला सके, दो करोड़ की नहीं दिला पाए. बेटे ने कहा ‘ठुकरा के मेरी ज़िद मेरा इंतकाम देखोगे’. गाड़ी धकेल दी नदी में. ज़िद थी. हालांकि मौके पर पुलिस पहुंची और गोताखोरों और क्रेन की मदद से गाड़ी निकलवाई.

नहर में गाड़ी धकेलने के बाद बालक ने वीडियो बनाकर इंटरनेट पर भी डाल दी
नहर में गाड़ी धकेलने के बाद बालक ने वीडियो बनाकर इंटरनेट पर भी डाल दी

ज़िद अच्छी चीज़ होती है. अगर वो कुछ बनाने में काम आए. क्योंकि इसी ज़िद ने एक मोहनदास को महात्मा और सिद्धार्थ को बुद्ध बना दिया. और किसी महान आत्मा ने ये भी कहा था कि ज़िद पालना अच्छी बात है लेकिन उसे पूरा अपने दम पर ही करना चाहिए.


वीडियो :

पीएम मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन के बाद जम्मू कश्मीर और पाकिस्तान में क्या-क्या हुआ? |दी लल्लनटॉप शो|Episode 277

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

28 सितंबर को दिल्ली में इंडिया टुडे का 'माइंड रॉक्स', फिल्मी हस्तियां समेत कई दिग्गज होंगे शामिल

रजिस्ट्रेशन करने का तरीका समझ लें, सीधा अपने नेताओं से सवाल करने का मौका मिलने वाला है.

जिस परिवार पर 'गैंग्स ऑफ वासेपुर' बनी थी, उसमें असल में पंगा हो गया

'सरदार खान' के भांजों ने अपना अलग गैंग बना लिया है.

ईद 2020 की रिलीज़ पर अक्षय-सलमान में जो लफड़ा हो रखा था, उसमें एक और ट्विस्ट आ गया

सलमान ने गोल-मोल ट्वीट करके सबको उलझा दिया है.

क्रिकेटर हर्शेल गिब्स ने आलिया भट्ट को नहीं पहचाना, आलिया ने जवाब दे दिया

हर्शेल गिब्स यानी 6 गेंदों में 6 छक्के और आलिया यानी गली बॉय की सफ़ीना.

प्रेगनेंट औरत 20 किलोमीटर पैदल चलकर डॉक्टर के पास पहुंची, लेकिन घर ज़िंदा न आ सकी

बेशक बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ, लेकिन मां को न भूल जाओ.

'पति झगड़ता ही नहीं, मुझे तलाक़ चाहिए': एक ऐसा डिवोर्स केस जिसने जज को कन्फ्यूज कर दिया

दोनों तरफ की दलीलें सुनकर सर पकड़ लेंगे.

सौरव दादा ने दिवंगत नेता को शुभकामनाएं दे डालीं, ट्रोलर्स बोले,'हमें भी यही वाला स्टफ चाहिए'

'दादा, 2003 के वर्ल्ड कप में फील्डिंग चुनने के बाद ये आपकी दूसरी बड़ी ग़लती है.'

बीकानेर: रेप किया, फिर बॉडी जलाकर नहर में फेंक दी

रेप करने वाला कथित तौर पर सरपंच का रिश्तेदार है, इसलिए पुलिस चुप है.

क्रिकेटर संदीप पाटिल फेसबुक यूज़ नहीं करते, फिर भी उनके साथ फेसबुक पर कांड हो गया

हमें ये खबर इसलिए जाननी चाहिए क्यूंकि बहुत संभावन है कि ऐसा फ्रॉड हमारे-आपके साथ भी हो सकता है.

पतंजलि के प्रवक्ता ने कहा, अरुण जेटली को दुःख भरा प्रणाम कर रहा था, मेरा फोन चोरी हो गया

अमित शाह से कहा, मेरा फोन इस जगह है. पकड़ सकते हैं तो पकड़ लें.