Thelallantop

बहुत देख ली हाईलाइट्स, टीम पहुंच गई, LIVE मैच के लिए हो जाइए तैयार

वेस्टइंडीज़ टेस्ट टीम के कप्तान जेसन होल्डर. फोटो: England Cricket Twitter

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव की वजह से 15 मार्च, 2020 से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट ठहरा हुआ है. अब इंग्लैंड से ही सही, लेकिन क्रिकेट फैंस को सुकून देने वाली एक खबर आई है. लगभग ढाई महीने के सूखे के बाद एक बार फिर से क्रिकेट फैंस के लिए एक ऐसी तस्वीर आई है, जो उन्हें सुकून देगी. इंग्लैंड के साथ तीन मैचों की टेस्ट सीरीज़ के लिए वेस्टइंडीज़ की टीम मैनचेस्टर इंग्लैंड पहुंच गई है. यानी पिछले लंबे वक्त से क्रिकेट की हाईलाइट्स देख रहे दर्शक अब लाइव मैच देख पाएंगे.

14 दिन क्वारंटीन में रहेगा वेस्टइंडीज़ का दल:

इंग्लैंड पहुंचने के बाद सभी खिलाड़ियों का कोविड-19 टेस्ट किया गया, जिसके बाद सभी खिलाड़ियों को 14 दिन के क्वारंटीन में भेज दिया गया है. सबकुछ ठीक रहा तो आठ जुलाई से इंग्लैंड और वेस्टइंडीज़ के बीच ये टेस्ट सीरीज़ एजिस बाउल और ओल्ड ट्रेफर्ड में खेली जाएगी. सीरीज़ का पहला मैच 8 से 12 जुलाई के बीच एजिस बाउल में खेला जाएगा. जबकि दूसरा और तीसरा मैच 16 से 20 जुलाई और 24 से 28 जुलाई तक ओल्ड ट्रेफर्ड में होगा.

इंग्लैंड रवाना होने से पहले भी हुआ था कोविड-19 टेस्ट:

इंग्लैंड के लिए रवाना होने से पहले पूरी वेस्टइंडीज़ के पूरे दल का कोविड-19 टेस्ट किया गया, जिसमें पूरी टीम की रिपोर्ट नेगेटिव आई. अब इंग्लैंड पहुंचकर एक बार फिर से कोविड-19 टेस्ट हुआ.

ICC के नए नियमों के साथ खेली जााएगी इंग्लैंड-वेस्टइंडीज़ सीरीज़:

इंग्लैंड और वेस्टइंडीज़ के बीच खेली जाने वाली सीरीज़ में आईसीसी के नए नियमों के साथ क्रिकेट खेला जाएगा. जिसमें सलाइवा, घरेलू अंपायर और सब्सीट्यूट फील्डर का नियम सबसे अहम है.

सलाइवा पर बैन: अब गेंदबाज़ या फील्डर गेंद को अपने थूक से नहीं चमका पाएंगे. यानी पहली बार गेंदबाज़ बिना सलाइवा के गेंदबाज़ी करेंगे. मैच में सलाइवा के इस्तेमाल पर एक टीम को पारी में दो बार चेतावनी दी जाएगी. लेकिन अगर टीम बार-बार ऐसी करती है तो फिर विरोधी टीम को 5 अतिरिक्त रन दे दिए जाएंगे. साथ ही जब भी गेंदबाज़ या फील्डर गेंद पर सलाइवा लगाएगा तो उसे साफ करके ही गेंद का इस्तेमाल किया जाएगा.

घरेलू अंपायर: क्रिकेट के मैदान पर अब अंतरराष्ट्रीय मैचों में अंपायर घरेलू होंगे. जिससे की किसी विदेशी अंपायर को सफर करने से रोका जाए और कोरोना वायरस के खतरे को कम किया जाए.

सब्सीट्यूट प्लेयर: आईसीसी ने सिर्फ टेस्ट मैच में किसी खिलाड़ी को कोविड-19 होने की स्थिति में उसके सब्सीट्यूट को खेलने की मंजूरी दी है.

डीआरएस रीव्यू: इसके साथ ही हर पारी में अतिरिक्त डीआरएस रिव्यू की भी मंजूरी दी गई है. अब हर टीम टेस्ट में हर पारी में तीन रिव्यू और सीमित ओवर क्रिकेट में दो रिव्यू ले सकेगी.

इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड पर ये जिम्मेदारी है कि खिलाड़ी और मैच का माहौल पूरी तरह से बायो-सिक्योर हो. जिससे कि इस महामारी से सभी को सुरक्षित रखा जा सके. इंग्लैंड बोर्ड ने कहा भी है कि

”इस वक्त हमारा ध्यान सभी के लिए एक सुरक्षित वातावरण तैयार करने पर है.”

वेस्टइंडीज़ और इंग्लैंड के बीच खेली जाने वाली इस सीरीज़ पर पूरी दुनिया की नज़र है, क्योंकि कोरोना वायरस महामारी के बाद फिर से क्रिकेट की शुरुआत एक शुभ संकेत है.

वेस्टइंडीज़ क्रिकेटर डैरेन सैमी के साथ हुए रेसिज़्म पर इरफ़ान पठान क्या बोले? 

Recommended