Submit your post

Follow Us

आखिरी ओवर की तीसरी गेंद पर दिनेश कार्तिक ने सिंगल न भागकर मैच हरवा दिया

23.93 K
शेयर्स

मैच के आखिरी तीन ओवरों में चलिए. 18 गेंदों पर 48 चाहिए थे. क्रुणाल पंड्या और दिनेश कार्तिक क्रीज पर थे. टिम साउदी का ओवर था और इसी में तय होना था कि मैच किस ओर जाएगा.

Wide 6 4 4 1 1 1 =18 रन
इंडिया का स्कोर हो गया 183/6 और अभी जीत के लिए 12 गेंदों पर 30 चाहिए थे

19वां ओवर- सामने क्रुणाल थे.
0 1 6 1 0 6= 14 रन

अब इंडिया को आखिरी 6 गेंदों पर 16 चाहिए थे.

20वां ओवर टिम साउदी का था. सामने दिनेश कार्तिक थे.
2, 0, 0, 1,1,Wide, 6 = 11

जो हुआ इसी आखिरी ओवर में हुआ. 20वें ओवर की तीसरी गेंद पर कार्तिक ने सिंगल लेने से मना कर दिया. क्रुणाल आधी से ज्यादा क्रीज क्रॉस कर चुके थे. क्रुणाल इस पर हैरान हुए. साथ ही कमेंटेटर्स को भी समझ नहीं आया कि ये क्या हुआ. शायद कार्तिक इस कॉन्फिडेंस में थे कि वो आखिरी तीन गेंदों पर बाउंड्री निकाल लेंगे. मगर ऐसा हुआ नहीं. और इंडिया को आखिरी दो गेंदों पर 12 रन चाहिए थे. जिसमें दिनेश के बल्ले से आखिरी गेंद पर 6 रन निकले और इंडिया ये मैच 4 रन से हार गई.

इंडिया ने न्यूजीलैंड के 212 रनों के जवाब में 20 ओवरों में 208 रन बना लिए मगर टारगेट से 4 रन दूर रह गए. दिनेश कार्तिक को खुद समझ नहीं आया कि उन्होंने सिंगल क्यों नहीं लिया क्योंकि क्रुणाल अच्छे टच में थे. कार्तिक ने जहां 16 गेंदों पर 33 रन बनाए, वहीं क्रुणाल ने 13 गेंदों पर 26 रन बनाए.  हां आखिरी ओवरों में न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने काम कर दिया और इंडिया को रन बनाने का मौका नहीं मिला.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Dinesh Karthik refuses to take single in final over costs India defeat to New Zealand in the final of T20I series

टॉप खबर

बच्चों के बलात्कार पर अब होगी फांसी, मोदी सरकार का फैसला

बहुत दिनों से बात चल रही थी, अब काम होगा!

भाजपा विधायक की बेटी ने दलित से शादी की तो बाप ने मरवाने के लिए गुंडे भेज दिए!

पति और पत्नी भागे-भागे वीडियो बना रहे हैं.

एक महीने से छात्र धरने पर हैं, किसी को परवाह नहीं

ये खबर हर स्टूडेंट को पढ़नी चाहिए.

बजट में सरकार ने अमीरों पर बंपर टैक्स लगाया

पेट्रोल-डीज़ल पर एक रुपया अतिरिक्त लेगी सरकार.

राहुल गांधी के पत्र की चार ख़ास बातें, तीसरी वाली में सारे देश की दिलचस्पी है

आज राहुल गांधी ने आखिरकार इस्तीफा दे ही दिया.

आकाश विजयवर्गीय पर मोदी बहुत नाराज़ हुए, उतना ही जितना साध्वी प्रज्ञा पर हुए थे!

"अफ़सोस! दिल से माफ़ नहीं कर पाएंगे."

नुसरत जहां के खिलाफ़ जिस फतवे पर बवाल मचा, वैसा फ़तवा जारी ही नहीं हुआ

निखिल से शादी के बाद सिन्दूर-साड़ी में संसद पहुंची थीं नुसरत

क्या ज़ायरा ने इस्लाम के लिए फ़िल्म लाइन छोड़ दी?

जिन चीज़ों से रील लाइफ में लड़कर सुपर स्टार बनीं, निजी ज़िंदगी में वो लड़ाई ही छोड़ दी है.

मायावती ने गठबंधन क्या तोड़ा, खुद की लुटिया ही डुबो ली है

गठबंधन तोड़कर अखिलेश और माया चवन्नी भर सीटें भी नहीं जीत रहे हैं.

खट्टर सरकार रेपिस्ट बाबा की जेल से छुट्टी का समर्थन कर रही, लेकिन जानिए ऐसा होना संभव क्यूं नहीं

जेल से छुट्टी क्यों चाह रहा है बलात्कारी बाबा राम रहीम?