Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के पहले दिन पुजारा ने जो किया है, वो आज तक कोई भारतीय नहीं कर पाया था

8.46 K
शेयर्स

ए़डिलेड टेस्ट का पहला दिन दो बातों के लिए याद रखा जाएगा. पहली ये कि इंडिया का टॉप बैटिंग ऑर्डर ध्वस्त हो गया. दूसरा ये कि इसी बैटिंग ऑर्डर में चेतेश्वर पुजारा ने नाक बचा ली. दिन के पहले सेशन में 41 के स्कोर पर 4 विकेट गिर चुके थे और लंच के बाद भी विकेट गिरते रहे. मगर एक छोर पर चेतेश्वर पुजारा ने हथियार नहीं डाले और टीम के स्कोर को दिन खत्म होने तक 250 तक ले गए. पुजारा 123 रन बनाकर रन आउट हुए मगर तब तक इंडिया के लिए थोड़ा सम्मानजनक स्कोर बन चुका था. इंडिया ने अपने 5 विकेट खराब शॉट्स खेलते हुए गंवाए.

चेतेश्वर पुजारा की इस शानदार पारी का अंदाजा इस बात से लगाइए कि बाकियों ने कितने रन बनाए. ये एडिलेड की वो पिच है जो बैटिंग फ्रेंडली मानी जाती है. शुरू का एक घंटा क्रीज पर निकाल दीजिए और फिर रन बनाना आसान रहता है. मगर केएल राहुल ने 2 रन, मुरली विजय ने 11 रन, विराट कोहली ने 3 रन, रहाणे ने 13 रन, रोहित शर्मा ने 37, ऋषभ पंत ने 25, आर अश्विन ने 25, इशांत शर्मा ने 4 रन बनाए. यानी इन 8 बल्लेबाजों ने कुल मिलाकर 120 रन बनाए हैं. वहीं अकेले पुजारा ने 246 गेंदें फेस कीं और 123 रन जोड़े. 7 चौके और 2 छ्क्के भी लगाए.

जब पुजारा ने 90 का स्कोर क्रॉस किया तो दो गेंदों पर छक्का और चौका जड़ा. फिर दो रन भागकर ये सेंचुरी पूरी की. 65वें टेस्ट मैच में पुजारा की ये 16वीं सेंचुरी है. टेस्ट में सेंचुरी मारने के मामले में पुजारा ने सौरव गांगुली की बराबरी कर ली है. गांगुली के नाम भी 16 टेस्ट सेंचुरी हैं. चेतेश्वर की ऑस्ट्रेलिया में ये पहली सेचुरी है. इसी के साथ ही पुजारा ने टेस्ट क्रिकेट में 5000 रन भी पूरे कर लिए हैं. ऐसा करने वाले वो 12वें इंडियन बैट्समैन हैं. 30 साल के पुजारा ने ये कीर्तिमान अपनी 108वीं टेस्ट पारी में रचा है और राहुल द्रविड़ ने भी अपने 5000 रनों के लिए इतनी ही पारियां ली थीं. पुजारा का इस दौरान 50.55 का औसत रहा है जो काफी इम्प्रेसिव है. वैसे आज तक के क्रिकेट इतिहास में इंडिया की तरफ से ये पहली बार हुआ है कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के ओपनिंग डे में ही किसी ने इतनी बड़ी पारी खेली हो.

पुजारा ने इस दौरान चार जरूरी पार्टनरशिप्स कीं. पहले रोहित शर्मा के साथ 45 रन जोड़े, फिर ऋषभ पंत के साथ 41 रनों की पार्टनरशिप की मगर आर अश्विन के साथ सबसे महत्वपूर्ण साझेदारी हुई 62 रन की जिससे इंडिया के स्कोर में थोड़ी जान आई. आखिर में आउट होने से पहले मोहम्मद शमी के साथ पुजारा ने 40 रन और जोडे़.

इंडिया के पास एक विकेट बचा है. पहली पारी में अगर 250 का स्कोर भी रहा तो भी इंडिया इस कॉन्फिडेंस में तो रहेगी ही कि मैच अभी हाथ से निकला नहीं है. साथ ही पुजारा की इस पारी से बाकियों को भी ये सबक लेने की जरूरत है कि ये टेस्ट क्रिकेट है भाई, यहां आपकी स्किल और स्पीड दोनों का टेस्ट होता है. डिफेंसिव होकर खेलना, ओल्ड स्कूल बिल्कुल नहीं है. इस शतक के लिए शुक्रिया चेतेश्वर.

ट्विटर पर पुजारा की इस पारी को खूब सराहा जा रहा है

Bhogle

Capture

Clarke

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Cheteshwar Pujara saves the day for India with solid 123 run knock which takes India to 250 on Day 1

टॉप खबर

बुलंदशहर: एडीजी इंटेलिजेंस की रिपोर्ट में पुलिस की लापरवाही सामने आई

गुरुवार को ये रिपोर्ट सौंप दी गई.

बुलंदशहर: खेत में जिस गाय के अवशेष मिले, वो कब काटी गई?

योगेश राज ने FIR में लिखवाया कि उसने कटते देखा, लेकिन ये सच नहीं माना जा रहा है...

बार-बार बयान बदल रहा है बुलंदशहर का मुख्य आरोपी योगेश राज

योगेश राज सच बोल रहा है या उसके घरवाले?

फ़ेक न्यूज़ फैक्ट्री सुरेश चव्हाणके के खिलाफ एक्शन लेने में क्यों कांपता है सिस्टम?

बुलंदशहर मामले में झूठी खबर फैलाने वाले सुरेश चव्हाणके का फ़ेक न्यूज से पुराना रिश्ता है.

हत्यारी भीड़ के हाथों मारे गए SHO सुबोध के बेटे की बात सुनने के लिए हिम्मत चाहिए

हर मां बाप की तरह सुबोध कुमार सिंह का भी सपना था.

बुलंदशहर में SHO सुबोध कुमार सिंह के मारे जाने की पूरी कहानी

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में भीड़ ने कैसे एक दरोगा को मार डाला...

750 किलो प्याज की कमाई किसान ने पीएम को भेजी, ये गर्व की नहीं शर्म की बात है

यही किसान 2010 में ओबामा के सामने खेती की मिसाल देने के लिए पेश किया गया था.

खराब फैक्स से आगे की कहानी: राज्यपाल ने बताया, कैसे BJP की मनमानी नहीं होने दी

राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने जो कहा, उससे पता चला कि कश्मीर में असल में क्या होने वाला था...

मोहम्मद अज़ीज़ नहीं रहे, करोड़ों लोगों को उनके जाने से अफसोस होगा

उन्होंने इतने गाने गाए थे जितने आज के सारे गायकों ने मिलकर नहीं गाए होंगे.

अयोध्या में राम की जो सबसे ऊंची मूर्ति बनने वाली है उसका ये नमूना फाइनल हुआ है

वर्ल्ड की इस "सबसे ऊंची स्टेच्यू" की वो बातें जो आप जानना चाहेंगे.