Submit your post

Follow Us

Aus vs Pak: फिंच के एक रिव्यू ने पाकिस्तान से मैच छीना

842
शेयर्स

वर्ल्डकप का 17वां मैच. ऑस्ट्रेलिया वर्सेज पाकिस्तान. जी हां हुआ, पूरा का पूरा. बारिश ने काम नहीं बिगाड़ा. साफतौर पर ऑस्ट्रेलिया बड़ी टीम है. मगर पाकिस्तान भी वो टीम है जो इंग्लैंड को हराके अपने इरादे जाहिर कर चुकी है. तो ये तो पक्का था कि मैच एकतरफा नहीं होने वाला है. हुआ भी कुछ ऐसा ही. मगर ऑस्ट्रेलिया ने लड़ते-लड़ाते मैच 41 रनों से जीत लिया.

वॉर्नर-फिंच की तगड़ी शुरुआत

मैच की शुरू से बात करें तो टॉस जीतकर पाकिस्तान ने पहले गेंदबाजी का फैसला किया. गेंदबाजी जो पाकिस्तान की सबसे बड़ी ताकत है. मगर ऑस्ट्रेलिया भी पूरी तैयारी से बैटिंग करने उतरी. वही स्ट्रैटजी अपनाई. अच्छे बॉलर को झेलो, कमजोर को रेलो. मोहम्मद आमिर को वॉर्नर और फिंच ने संभलकर खेला और शाहीन अफरीदी को उड़ाया. स्कोर 12 ओवर में 65 रन हो गया. पाकिस्तान को विकेट की सख्त जरूरत. मौका आया भी. 13वां ओवर की चौथी बॉल पर. वहाब रियाज की गेंद फिंच के बल्ले की एज लेते हुए स्लिप की तरफ गई. मगर वहां खड़े आसिफ कंचे बटोर रहे थे. कैच टपकाई तो टपकाई. गेंद बाउंडरी की तरफ अलग गई. माने जहां विकेट मिलना चाहिए था वहां चौका मिला.

और ये तो सिर्फ शुरुआत थी. पाकिस्तान ने भैया इस मैच में अपनी गड्ढी फील्डिंग का पूरा प्रदर्शन किया. फिंच का ये कैच छोड़ने के बाद 17वें ओवर की दूसरी बॉल पर फिर कैच छोड़ा. वो भी टीम के कीपर और कप्तान सरफराज ने. फिंच ने इसके बाद और कसके कूटना शुरू कर दिया. 22 ओवर में 146 रन बना दिए. लगा ऑस्ट्रेलिया आज एक और 400 दिखाएगा. मगर फिर मोहम्मद आमिर आए 23वां ओवर डालने और फिंच का विकेट लिया. फिंच ने 82 रन बनाए. स्मिथ भी आज कुछ न कर सके. मगर दूसरी तरफ से वॉर्नर आज पूरे रंग में थे. रंग में पाकिस्तान भी थी. अरे वही अपने गड्ढी फील्डिंग वाले रंग में. फिंच के दो कैच छोड़ने के बाद वॉर्नर के भी दो कैच छोड़े. पहला 36वें ओवर में जब वॉर्नर 97 पर थे. दूसरा शतक मारने के बाद 37वें ओवर में.

आमिर ने की वापसी

हालत देख लगा पाकिस्तान 400 बनवा के ही मानेगी. मगर ऐसा हो नहीं सका. पहले वॉर्नर को शाहीन अफरीदी ने आउट किया. उन्होंने 107 रन बनाए. 111 बॉलों में. 11 चौके और एक छक्के की मदद से. दूसरा पाकिस्तान की मैच में वापसी करवाई उस बॉलर ने जिसे वर्ल्डकप की टीम में एक वक्त लिया तक नहीं जा रहा था. मोहम्मद आमिर. आमिर ने अपने सेकंड स्पेल में तगड़ी बॉलिंग डाली. ख्वाजा, शॉन मार्श, कैरी और स्टार्क के विकेट लिए. यही वजह रही कि एक वक्त जहां ऑस्ट्रेलिया के 33 ओवर में 218 रन पर 2 विकेट थे. वही 50 ओवर में 307 रन पर ऑलआउट हो गई. आमिर ने 5 विकेट लिए. 10 ओवर में मात्र 30 रन देकर. 2 मेडन भी डाले.

पाकिस्तान के गिरते रहे विकेट

पाकिस्तान के सामने अब टार्गेट था 308 रनों का. ओपनिंग आए फखर जमन और इमाम उल हक. शुरुआत अच्छी नहीं रही. तीसरे ही ओवर में फखर निकल लिए. 0 के स्कोर पर ही. इसके बाद आए बाबर आजम ने इमाम के साथ मिलके हालांकि पारी आगे बढ़ाई. मगर वो भी 11वें ओवर में सेट होने के बाद कोल्टर नाईल का शिकार बने. अब आए मोहम्मद हफीज. सीनियर खिलाड़ी. उम्मीद मुताबिक इन्होंने इमाम का अच्छा साथ दिया. 25 ओवर में 136 रन बन गए. मगर फिर हाफ सेंचुरी मार चुके इमाम कमिंस की बॉल पर आउट हो गए. हफीज भी इसके दो ओवर बाद फिंच की गेंद पर छक्का मारने के चक्कर में विकेट फेंक दिए. 46 पर आउट हो गए. अगले ही ओवर में शोएब मलिक कमिंस की गेंद पर एज छुआ बैठे. 0 पर वापस. इसके बाद आए आसिफ अली भी 30वें ओवर में रिचर्डसन की बॉल पर 5 रन बना निकल लिए. स्कोर 136 पर 2 से 160 पर 6 हो गया. साफ हो गया कि ऑस्ट्रेलिया मैच जीत गई. पर नहीं. कप्तान सरफराज के साथ पाकिस्तान के टेल एंडर्स ने कुटाई शुरू की. पहले हसन अली ने. 15 बॉल पर 32 रन ठोक दिए. हसन आउट हुए तो वहाब रियाज ने मारना शुरू किया. 39 बॉल पर 45 रन. 44 ओवर में पाकिस्तान का स्कोर 263 पर 7 हो गया. 36 बॉल पर 45 रन चाहिए थे.

एक रिव्यू बना टर्निंग पॉइंट

सरफराज और वहाब जैसा खेल रहे थे, मैच पाकिस्तान जीतता दिखने लगा था. मगर फिर बॉल लेकर आया ऑस्ट्रेलिया का ट्रंप कार्ड. मिचेल स्टार्क. आते ही विकेट लिया. विकेट भी मजेदार था. गेंद एज लेकर कीपर के पास गई. हल्की अपील हुई. अंपायर ने नॉटआउट दिया. मगर कप्तान फिंच नहीं माने. एकदम आखिरी सेकंड में रिव्यू ले लिया. और पता चला कि वाकई गेंद बल्ले पर हल्का सा छुई थी. वहाब की बेमंटी नहीं चली. एक पल में मैच बदल गया. जी हां, फिंच का ये फैसला ऑस्ट्रेलिया के लिए टर्निंग पाइंट, मैच जिताऊ साबित हुआ. वहाब आउट हो गए. इसके दो गेंद बाद ही स्टार्क ने आमिर को वापस भेजा. स्कोर 266 पर 9 विकेट हो गया. रही कसर मैक्सवेल ने पूरी कर दी. 46वें ओवर में सरफराज को रनआउट करके. ऑस्ट्रेलिया ने मैच 41 रनों से जीत लिया.

तो कुल मिलाके पाकिस्तान ने इस मैच में काफी गल्तियां की, जिसने ऑस्ट्रेलिया को जीत दिलाई. मैन ऑफ द मैच रहे डेविड वॉर्नर. अब पाकिस्तान का अगला मैच है भारतीय टीम से. वो मैच जिसका सबको इंतजार है. और जिस तरह से पाकिस्तान ने ये मैच खेला है. भारत को पाकिस्तान को हल्के में बिलकुल नहीं लेना चाहिए. खासतौर पर मोहम्मद आमिर को. कहां टीम में जगह नहीं मिल रही थी, कहां फिलहाल वर्ल्डकप में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले बॉलर हैं. और रही बात पाकिस्तान की तैयारी की. तो वो भैया अगले दो-तीन दिन सिर्फ कैच लेने की प्रैक्टिस करे. बाकी बाद की बात.


लल्लनटॉप वीडियो देखें-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Aus vs Pak: How Pakistan lost to Australia and the turning points of match.

टॉप खबर

चमकी बुखार से पीड़ित परिवार से मिलने गए सांसद-विधायक को लोगों ने बंधक बना लिया

उधर सुप्रीम कोर्ट ने राज्य और केंद्र सरकार को नोटिस भेज दिया है.

जिन SP अजय पाल शर्मा को हीरो बताया जा रहा, उन्होंने "रेपिस्ट" पर गोली चलाई ही नहीं

न वो मौके पर थे, न रेप की वजह से गोली चली और न ही "रेपिस्ट" की मौत हुई.

पंजाब में गुरु ग्रंथ की बेअदबी के आरोपी और डेरा सच्चा सौदा के अनुयायी मोहिंदर की जेल में हत्या

जानिए क्या है पूरा मामला जिसके चलते पूरे पंजाब में अफवाहों और कानाफूसियों का माहौल है और सीएम ने भी लोगों से शांति बनाए रखने की रिक्वेस्ट की है.

मज़दूर के बेटे ने तीरंदाज़ी में भारत को सिल्वर मेडल दिला डाला

गरीब बस्ती में पले बढ़े इस लड़के ने भारत का नाम रोशन कर दिया.

क्या सन्नी देओल से छिन जाएगी उनकी सांसदी?

वजह चुनाव आयोग का एक नियम है.

CM नीतीश कुमार अस्पताल में थे, बच्चे की मौत हो गई

चमकी कहें या इंसेफेलाइटिस, अब तक 129 बच्चों की मौत हो चुकी है.

मनमोहन सिंह को राज्य सभा में भेजने के लिए कांग्रेस ये तिगड़म भिड़ा रही है

अपना एक मात्र चुनाव हारने वाले मनमोहन सिंह पिछले 28 साल में पहली बार संसद के सदस्य नहीं होंगे.

राजीव गांधी के हत्यारे ने संजय दत्त की मुश्किलें बढ़ा दी हैं

जेल में बंद पेरारिवलन ने संजय दत्त से जुड़ी बहुत सी जानकारी इकट्ठी की है.

कठुआ केस के छह दोषियों को क्या सज़ा मिली?

अदालत ने सात में से छह आरोपियों को दोषी माना था. मास्टरमाइंड सांजी राम का बेटा विशाल बरी हो गया.

कठुआ केस में फैसला आ गया है, एक बरी, छह दोषी करार

दोषियों में तीन पुलिसवाले भी शामिल हैं.