Submit your post

Follow Us

दुबे, मिश्रा, तिवारी ही नहीं, कोई भी हो सकता है पुजारी: SC

166
शेयर्स

अब गैर-ब्राह्मण भी मंदिरों में पुजारी बन सकते हैं. सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को साफ कह दिया है. जाति, जन्म या कोई भी अड़ंगा जिसे संविधान नहीं मानता. वो  किसी भी आदमी को किसी भी मंदिर या धार्मिक जगह में पुजारी बनने के आड़े नहीं आ सकता.

बात आई ऐसे कि तमिलनाडु की डीएमके सरकार ने एक कानून बनाया था. जिसके बाद दूसरे लोग जिन्हें अच्छे से मंदिर का टीम-टाम, रीति-रिवाज सब पता हो वो पुजारी बन सकते हैं, भले वो ब्राह्मण न हों. मदुरै के मीनाक्षी मंदिर के पुजारियों को ये बहुत रास नहीं आया था. वो पहले अपने बालकों को पुजारी बना दिया करते थे, तमिलनाडु सरकार ने कानून बना कर ये सिस्टम खत्म कर दिया था.

हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने इस कानून का कोई रिव्यू नहीं किया है लेकिन ये कहा है कि अगर ऐसे कोई पुजारी बनता है. और उस पर कोई मुकदमा खड़ा होता है, तो वो उस मामले पर गौर करेंगे.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

पतंजलि के प्रवक्ता ने कहा, अरुण जेटली को दुःख भरा प्रणाम कर रहा था, मेरा फोन चोरी हो गया

अमित शाह से कहा, मेरा फोन इस जगह है. पकड़ सकते हैं तो पकड़ लें.

कोहली ने बताया - रोहित को क्यों नहीं और हनुमा को क्यों खिलाया?

रोहित को खिलाने की कई बड़े खिलाड़ी वकालत कर चुके हैं.

विद्या बालन ने बताया फ़िल्मों के डायरेक्टर कास्टिंग काउच के लिए क्या क्या करते हैं

डायरेक्टर्स कभी ऑडिशन, कभी मीटिंग के बहाने बुलाते थे.

10वीं की स्टूडेंट ने स्कूल में बच्ची को जन्म दिया तो पता चला 7 महीने पहले रेप हुआ था

रेपिस्ट की उम्र जानेंगे तो मनाएंगे कि धरती ख़त्म हो जाए.

चुनाव के पहले कांग्रेस जॉइन की थी, अब रिज़ाइन कर मोदी की तारीफ़ में लगीं अर्शी खान

'मेरा डांस करना, बिकिनी पहनना अच्छा नहीं लगेगा.'

टाइम मैगज़ीन ने दुनिया की 100 सबसे झामफाड़ जगहों में भारत की कौन सी दो जगहें चुनी?

दूसरी वाली जानकर आप हैरान हो जाएंगे.

Free Fire: सबसे ज्यादा डाउनलोडेड यह गेम अब भारतीयों को प्रीमियम अनुभव देगा

PUBG भूल जाइए, क्या आप फ्री फायर खेलने को तैयार हैं?

ओ तेरी! आईआईटी से एमटेक किया, फिर रेलवे में पटरियों की देखभाल वाली नौकरी जॉइन कर ली

ऐसा अनर्थ पहले कभी नहीं हुआ है.

यूपी पुलिस ने जिस बच्ची को नाले में घुसकर निकाला, उसका क्या हुआ?

जन्माष्टमी के दिन नाले में पड़ी हुई बच्ची कुछ स्कूली बच्चों को दिखी थी.

ऑस्ट्रेलिया 1 रन से मैच जीतने वाली थी, अंपायर की गलती ने पासा पलट दिया

अंपायर की इस ग़लती ने इंग्लैंड की लॉटरी लगा दी.