Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

जब अमिताभ बच्चन को फोन कर गोविंदा ने कहा, मैं सेट पर लेट आऊंगा

14.68 K
शेयर्स

गोविंदा आला रे! 

ये नाम है दिल्ली के ताज पैलेस होटल में हुए ‘एजेंडा आज तक’ के एक सेशन का. इस सेशन में आज तक की एंकर श्वेता सिंह गोविंदा से बातचीत कर रही थीं. यहां गोविदा ने अपनी आने वाली फिल्म ‘रंगीला राजा’ से लेकर करियर से जुड़े दूसरे पहलुओं पर बात की. इस बातचीत से कई किस्से निकलकर आए, जो हम आपको नीचे पढ़वा रहे हैं.

कैसे मिली थी पहली फिल्म ?

गोविंदा ने बताया कि उन्हें बतौर एक्टर अपना करियर शुरू करने के लिए बहुत पापड़ बेलने पड़े थे. लोगों को अपना काम दिखाने के लिए उन्होंने अपनी एक्टिंग की एक सीडी बना ली थी, जो वो प्रोड्यूसर्स-डायरेक्टर्स को देते फिरते थे. एक दिन वो पहलाज निहलानी के पास पहुंचे. तब पहलाज मिथुन चक्रवर्ती के साथ काम कर रहे थे. उन्होंने गोविंदा की सीडी में उनका काम देखा और कहा कि उनकी अगली फिल्म के हीरो वही होंगे. ये फिल्म थी 1986 में रिलीज़ हुई ‘इल्जाम’ . इसे पहलाज निहलानी के लिए शिबू मित्रा ने डायरेक्ट की थी. इस फिल्म के बाद गोविंदा को बहुत काम मिलने लगा. गोविंदा को भी लगा इतने दिन से काम नहीं किया अब बहुत सारा काम करेंगे. इसी चक्कर में उन्होंने दो हफ्तों में 49 फिल्में साइन कर लीं थीं. और वो दिन-रात अलग-अलग फिल्मों की शूटिंग करते रहते थे.

आज तक के मंच पर पहुंचे गोविंदा के साथ उनकी फिल्म के प्रोड्यूसर पहलाज निहलानी और हीरोइन मिशिका चौरसिया भी थीं.
आज तक के मंच पर पहुंचे गोविंदा के साथ उनकी फिल्म के प्रोड्यूसर पहलाज निहलानी और हीरोइन मिशिका चौरसिया भी थीं.

जब अमिताभ बच्चन को फोन कर गोविंदा ने कहा कि वो सेट पर लेट आएंगे

गोविंदा ने 1998 में एक फिल्म की थी ‘बड़े मियां छोटे मियां’. इस फिल्म में वो अमिताभ बच्चन के साथ काम करने वाले थे. गोविंदा सेट पर आमतौर पर लेट ही पहुंचते थे. लेकिन बच्चन साहब समय की पाबंदी के लिए जाने जाते हैं. सभी चीज़ें तय समय पर ही करना पसंद करते हैं. जब ये बात गोविंदा को पता चली, तो वो दिक्कत में फंस गए. उन्हें लगा अमिताभ बच्चन इतने सीनियर कलाकार हैं, उनके सामने अगर वो लेट आएंगे, तो मामला बिगड़ जाएगा. ये मसला सुलझाने के लिए उन्होंने अमिताभ बच्चन को ही फोन कर दिया. फोन करने के बाद उन्होंने कहा कि वो आमतौर पर सेट पर लेट पहुंचते हैं क्योंकि वो एक साथ कई फिल्मों की शूटिंग कर रहे होते हैं. अमिताभ ने इसका जो जवाब दिया, वही उन्हें इस सदी का महानायक बनाता है. बच्चन साहब ने गोविंदा को कहा कि वो अपने सेट पर पहुंचने का समय बता दें, वो उसी के हिसाब से सेट पर पहुंच जाएंगे. बाकी लोगों को जो सोचना है, वो सोचते रहें. इस तरह से ‘बड़े मियां छोटे मियां’ की शूटिंग पूरी हुई.

फिल्म 'बड़े मियां छोटे मियां' में अमिताभ और गोविंदा ने पुलिसवाले का किरदार निभाया था.
फिल्म ‘बड़े मियां छोटे मियां’ में अमिताभ और गोविंदा ने पुलिसवाले का किरदार निभाया था.

शाहरुख खान के साथ ‘देवदास’ करने का ऑफर गोविंदा ने क्यों ठुकरा दिया?

संजय लीला भंसाली फिल्म ‘देवदास’ बना रहे थे. इस फिल्म में मुख्य किरदार निभाने के लिए उन्होंने शाहरुख खान को चुना गया. चुन्नी लाल का किरदार गोविंदा को ऑफर किया गया. लेकिन गोविंदा ने ये फिल्म करने से मना कर दिया. उन्हें लगा कि इस तरह की फिल्में उनके लिए नहीं है. फिल्म के लिए मना करने के दौरान गोविंदा ने कास्टिंग डायरेक्टर से पूछा कि क्या उनमें वो चुन्नी लाल दिखता है, जो किसी को शराब पिलाकर मार दे? कास्टिंग डायरेक्टर ने कहा नहीं. इसी सवाल-जवाब के बाद गोविंदा ने उस फिल्म में काम करने से इन्कार कर दिया. बाद में चुन्नी लाल के किरदार के लिए जैकी श्रॉफ को फाइनल कर लिया गया.


वीडियो देखें: 2.0 के बाद रजनीकांत की अगली फिल्म ये है

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Agenda Aajtak: When Govinda called Amitabh Bachchan and told that he will reach late on the set of film Bade Mian Chhote Mian

क्रिकेट के किस्से

जब तेज बुखार के बावजूद गावस्कर ने पहला वनडे शतक जड़ा और वो आखिरी साबित हुआ

मानों 107 वनडे मैचों से सुनील गावस्कर इसी एक दिन का इंतजार कर रहे थे.

जब श्रीनाथ-कुंबले के बल्लों ने दशहरे की रात को ही दीपावली मनवा दी थी

इंडिया 164/8 थी, 52 रन जीत के लिए चाहिए थे और फिर दोनों ने कमाल कर दिया.

श्रीसंत ने बताया वो किस्सा जब पूरी दुनिया के साथ छोड़ देने के बाद सचिन ने उनकी मदद की थी

सचिन और वर्ल्ड कप से जुड़ा ये किस्सा सुनाने के बाद फूट-फूटकर रोए श्रीसंत.

कैलिस का ज़िक्र आते ही हम इंडियंस को श्रीसंत याद आ जाते हैं, वजह है वो अद्भुत गेंद

आप अगर सच्चे क्रिकेट प्रेमी हैं तो इस वीडियो को बार-बार देखेंगे.

चेहरे पर गेंद लगी, छह टांके लगे, लौटकर उसी बॉलर को पहली बॉल पर छक्का मार दिया

इन्होंने 1983 वर्ल्ड कप फाइनल और सेमी-फाइनल दोनों ही मैचों में मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड जीता था.

टीम इंडिया 245 नहीं बना पाई चौथी पारी में, 1979 में गावस्कर ने अकेले 221 बना दिए थे

आज के दिन ही ये कारनामा हुआ था इंग्लैंड में. 438 का टार्गेट था और गजब का मैच हुआ.

जब 1 गेंद पर 286 रन बन गए, 6 किलोमीटर दौड़ते रहे बल्लेबाज

खुद सोचिए, ऐसा कैसे हुआ होगा.

जब वाजपेयी ने क्रिकेट टीम से हंसते हुए कहा- फिर तो हम पाकिस्तान में भी चुनाव जीत जाएंगे

2004 में इंडियन टीम 19 साल बाद पाकिस्तान के दौरे पर गई थी.