Submit your post

Follow Us

13 किलो वजन घटाया, IPL को गरियाया, फिर टीम इंडिया में आया ये लड़का

पालघर स्टेशन से तड़के 3.30 बजे वो ट्रेन चलती थी. 13 साल का वो लड़का रोज ट्रेन पकड़ता. करीब 90 किलोमीटर के थकाऊ सफर के बाद वह मुंबई के चर्चगेट स्टेशन पर उतरता. उसका मकसद था, क्रिकेट खेलना. जितना हो सके, उतना खेलना.

जब उसे इंडिया की टेस्ट टीम में अपने सेलेक्शन की खबर मिली थी, वह उसी ट्रेन में था. वक्त कैसे खूबसूरत इत्तेफाक के साथ आपको नवाजता है. सोमवार को उसका सपना पूरा हो गया. फोन सेलेक्शन कमेटी के चेयरमैन संदीप पाटिल ने किया था. उसे बताया गया कि वह वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज का हिस्सा है. मई 2016 में टेस्ट टीम में जगह बनाने के बाद अगस्त 2017 में श्रीलंका के खिलाफ वनडे टीम में शामिल किया गया था.

Shardul Thakur PTI

यह लड़का है 25 साल का शार्दुल ठाकुर. डोमेस्टिक में शानदार रिकॉर्ड. IPL का एक ही मैच खेला और फिर IPL को ही गरियाया. बताते हैं आपको शार्दुल के बारे में:


1

शार्दुल मीडियम पेसर हैं. स्विंग उनका हथियार है. मुंबई टीम के पेस अटैक का बड़ा चेहरा हैं. उनके बारे में सबसे शानदार बाद फर्स्ट क्लास मैचों में उनका प्रदर्शन है. 37 फर्स्ट क्लास मैचों में उन्होंने 133 विकेट चटका डाले हैं. उन्होंने इस रणजी सीजन में 41 और पिछले सीजन में 48 विकेट लिए थे. सौराष्ट्र के खिलाफ रणजी फाइनल में ठाकुर ने 8 विकेट लिए थे. उसमें चेतेश्वर पुजारा का विकेट जिस गेंद पर मिला, ‘बॉल ऑफ द मैच’ कहा गया.


2

पालघर में क्रिकेट का वैसा एक्सपोजर नहीं था. इसलिए रोज मुंबई का सफर करते थे. बाद में उन्हें मुंबई की जूनियर टीम में चुन लिया गया. कुछ ही साल में वह रणजी टीम का हिस्सा हो गए. नवंबर 2012 में पहला फर्स्ट क्लास मैच खेला. लेकिन इसके कुछ महीनों बाद ही उनके गेंदबाजी से ज्यादा वजन की चर्चा होने लगी. तब वह 83 किलो के हुआ करते थे. खुद सचिन ने उनसे कहा कि क्रिकेट को लेकर गंभीर हो तो वजन घटाओ. इसके बाद शार्दुल ने 13 किलो वजन घटा लिया.


3

सेलेक्शन के बाद ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘जिंदगी आसान नहीं रही. मेहनत के बिना कुछ नहीं मिलता. सुबह 3.30 बजे की सारी ट्रेन जर्नी याद आ रही हैं. सबका फल मिल गया. लेकिन इंडियन टीम में सेलेक्ट होना आसान है, बने रहना मुश्किल है.’


4

शार्दुल की परफॉर्मेंस शानदार थी. इसलिए उन्हें ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए ही टीम इंडिया में चुने जाने की अपेक्षा थी. लेकिन उनकी जगह बरिंदर सरां को चुन लिया गया. शार्दुल को निराश होते देखा तो कंधे पर हाथ रखा सचिन तेंदुलकर ने. सचिन ने कहा कि कई टेस्ट सीरीज आ रही हैं, मेहनत करते रहो.


5

शार्दुल को IPL में किंग्स इलेवन पंजाब ने लिया, लेकिन ज्यादातर समय वह डग-आउट में बेंच पर ही रहे. उन्होंने एक मैच खेला और बीच टूर्नामेंट में उन्हें घर भेज दिया गया. शार्दुल खीझ गए. यह कड़वाहट घर भेजे जाने की नहीं, बिना मौका दिए घर भेजे जाने की थी. 6 मई को उन्होंने ट्वीट किया, ‘कल अपने क्लब पय्याडे एससी के लिए T20 सेमीफाइनल खेलूंगा. 2 महीने बाद एक खेलूंगा. IPL ने निश्चित रूप से चमत्कार किए हैं.’ हालांकि बाद में उन्होंने यह ट्वीट डिलीट कर लिया.

Shardul IPL


6

शार्दुल की स्पीड बहुत तेज नहीं है. 135 kmph के आस-पास रहते हैं, लेकिन स्विंग कराते हैं. वो एक नैचुरल आउटस्विंगर हैं, लेकिन हाल के दिनों में वह राइट हैंडर्स के लिए बॉल को अंदर लाने में भी कामयाब हुए हैं. वह कहते हैं कि MRF पेस फाउंडेशन में ग्लेन मैक्ग्रा के साथ दो हफ्ते गुजारने के बाद उन्होंने ऑफ स्टंप को टारगेट करने की अहमियत समझी है. मुंबई में लोग उन्हें ‘पालघर एक्सप्रेस’ कहते हैं.


7

साउथ अफ्रीका के खिलाफ एक प्रैक्टिस मैच में उन्हें मौका मिला था. अपनी स्विंग से उन्होंने अफ्रीकी बल्लेबाजों को खूब परेशान किया. 16 ओवर में 70 रन देकर 4 विकेट लिए थे. इनमें हाशिम अमला और फाफ डुप्लेसी के विकेट भी शामिल थे.

उनके सेलेक्शन पर हर्षा भोगले ने सटीक कमेंट किया है. उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘उसने वो सब किया, जो उससे अपेक्षित था. और इस तरह उसने चयनकर्ताओं को मजबूर कर दिया कि वे उसे चुनें.’

शार्दुल की गेंदबाजी देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

वेब सीरीज़ रिव्यू- ये काली काली आंखें

वेब सीरीज़ रिव्यू- ये काली काली आंखें

'ये काली काली आंखें' में आपको बहुत सी ऐसी चीज़ें दिखेंगी, जो आप पहले देख चुके हैं. बस उन चीज़ों के मायने, यहां थोड़ा हटके हैं.

वेब सीरीज रिव्यू: ह्यूमन

वेब सीरीज रिव्यू: ह्यूमन

न ही इसे सिरे से खारिज किया जा सकता है, न ही इसे मस्ट वॉच की कैटेगरी में रखा जा सकता है

साउथ इंडिया के 8 कमाल एक्टर्स, जो हिंदी सिनेमा में डेब्यू करने वाले हैं

साउथ इंडिया के 8 कमाल एक्टर्स, जो हिंदी सिनेमा में डेब्यू करने वाले हैं

अब इनकी हिंदी डब फिल्में खोजने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी.

वेब सीरीज़ रिव्यू: हम्बल पॉलिटिशियन नोगराज

वेब सीरीज़ रिव्यू: हम्बल पॉलिटिशियन नोगराज

अगर पॉलिटिकल कॉमेडी से ऑफेंड होते हैं, तो दूर ही रहिए.

वेब सीरीज़ रिव्यू: कौन बनेगी शिखरवटी

वेब सीरीज़ रिव्यू: कौन बनेगी शिखरवटी

नसीरुद्दीन शाह, रघुबीर यादव और लारा दत्ता जैसे एक्टर्स लिए लेकिन....

वेब सीरीज़ रिव्यू- क्यूबिकल्स 2

वेब सीरीज़ रिव्यू- क्यूबिकल्स 2

Cubicles 2 एक सपने के साथ शुरू होती है. और इसका एंड भी बिल्कुल ड्रीमी होता है. एक ऐसा सपना, जिसके पूरे होने की सिर्फ उम्मीद और इंतज़ार किया जा सकता है.

वेब सीरीज़ रिव्यू: कैंपस डायरीज़

वेब सीरीज़ रिव्यू: कैंपस डायरीज़

कैसा है यूट्यूब स्टार्स हर्ष बेनीवाल और सलोनी गौर का ये नया शो?

वेब सीरीज़ रिव्यू: ब्लैक माफिया फैमिली

वेब सीरीज़ रिव्यू: ब्लैक माफिया फैमिली

'नार्कोस' और 'ब्रेकिंग बैड' जैसे शोज़ पसंद हैं, तो ये शो आपके लिए ही है.

फिल्म रिव्यू: मिन्नल मुरली

फिल्म रिव्यू: मिन्नल मुरली

ये देसी सुपरहीरो फिल्म कभी नहीं भूलती कि सुपरहीरो का कॉन्सेप्ट ही विदेशी है.

फिल्म रिव्यू- अतरंगी रे

फिल्म रिव्यू- अतरंगी रे

'अतरंगी रे' बोरिंग फिल्म नहीं है. इसे देखते हुए आपको फन फील होगा. मगर फन के अलावा इसमें कुछ भी नहीं है.