Submit your post

Follow Us

लोकसभा की जनरल सेक्रेटरी स्नेहलता श्रीवास्तव कौन हैं?

434
शेयर्स

23 मई को 17वीं लोकसभा चुनाव के नतीजे आए थे. मोदी सरकार फिर से सत्ता में आई. 17 जुलाई से लोकसभा के सांसदों को शपथ दिलाकर संसद की कार्यवाही शुरू हुई. नए सांसदों को मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ से चुने गए सांसद वीरेंद्र कुमार ने शपथ दिलाई क्योंकि उन्हें प्रोटेम स्पीकर बनाया गया है. ये सब तो आपको पता ही होगा? है न? लेकिन क्या आपको यह पता है कि स्पीकर के कुर्सी के ठीक नीचे जो एक व्यक्ति बैठता है वो कौन होता है? और उसका क्या काम होता है? नहीं ध्यान आ रहा तो नीचे की तस्वीर को देखिए.


कभी पंचर बनाने वाला एमपी का ये नेता कैसे बना लोकसभा का प्रोटेम स्पीकर?


लाल घेरे वाली सीट पर स्नेहलता श्रीवास्तव बैठती हैं. (लोकसभा)
लाल घेरे वाली सीट पर स्नेहलता श्रीवास्तव बैठती हैं. (फोटो: लोकसभा)

जो भी उस कुर्सी पर बैठते हैं, लोकसभा महासचिव होते हैं. महासचिव के चुनाव का विशेष अधिकार सदन के स्पीकर के पास होता है जिसका चुनाव वो सदन के नेता और सदन के विपक्ष नेता को संज्ञान में लेकर करते है. आइए जानते हैं कि मौजूदा वक्त में लोकसभा जनरल सेक्रेटरी कौन हैं? स्नेहलता श्रीवास्तव नाम है. आइए जानते हैं स्नेहलता के बारे में.

# स्नेहलता पहली महिला है जो इस पोस्ट तक पहुंची हैं.

# स्नेहलता का जन्म 18 सितम्बर 1957 को भोपाल में हुआ था.

# स्नेहलता 1982 के मध्य प्रदेश बैच की रिटायर्ड आईएएस ऑफिसर हैं.

# 1 दिसंबर 2017 को उन्होंने लोकसभा के जनरल सेक्रेटरी का पदभार संभाला था. अनूप मिश्रा की जगह ली थी.

# स्नेहलता मिनिस्ट्री ऑफ़ लॉ एंड जस्टिस और मिनिस्ट्री ऑफ़ फाइनेंस में भी काम कर चुकीं हैं.

अब जानते हैं कि लोकसभा और राज्यसभा के भी जनरल सेक्रेटरी के कार्य क्या होते हैं

# जनरल सेक्रेटरी सदन के अध्यक्ष (स्पीकर) के सलाहकार होते हैं.

# वो सदन के सभी प्रशासनिक कामकाज के लिए जिम्मेदार होते हैं.

# सदन में किसी भी ऐसे वक्तव्य जो असंवेदनशील हैं उसे स्पीकर की इजाज़त से रिकॉर्ड से हटाना उन्हीं की जिम्मेदारी होती है.

# शपथ के वक़्त स्पीकर के उपलक्ष्य में जनरल सेक्रेटरी ही सांसदों का नाम पुकारती हैं.

# सदन के सभी प्रशासनिक ऑफिसर्स के हेड होते हैं.

लोकसभा और राज्यसभा दोनों में जनरल सेक्रेटरी होते हैं और दोनों का काम भी लगभग एक जैसा ही होता है.


ये स्टोरी हमारे साथ इंटर्नशिप कर रहे अनुराग अनिमेष ने की है.


वीडियो- जब जय श्री राम के नारे लगे असदुद्दीन ओवैसी ने बॉल बाउंड्री पार भेज दी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

उजड़ा चमन : मूवी रिव्यू

रिव्यू पढ़कर जानिए ‘मास्टरपीस’ और ‘औसत’ के बीच का क्या अंतर होता है.

फिल्म रिव्यू: टर्मिनेटर - डार्क फेट

नया कुछ नहीं लेकिन एक्शन से पैसे वसूल हो जाएंगे.

इस एक्टर ने फिल्म देखने गई फैमिली को सिनेमाघर में हैरस किया, वो भी गलत वजह से

इतनी बद्तमीजी करने के बावजूद ये लोग थिएटर में 'भारत माता की जय' का जयकारा लगा रहे थे.

हाउसफुल 4 : मूवी रिव्यू

दिवाली की छुट्टियां. एक हिट हो चुकी फ़्रेन्चाइज़ की चौथी क़िस्त. अक्षय कुमार जैसा सुपर स्टार और कॉमेडी नाम की विधा.

फिल्म रिव्यू: मेड इन चाइना

तीन घंटे से कुछ छोटी फिल्म सेक्स और समाज से जुड़ी हर बड़ी और ज़रूरी बात आप तक पहुंचा देना चाहती है. लेकिन चाहने और होने में फर्क होता है.

सांड की आंख: मूवी रिव्यू

मूवी को देखकर लगता है कि मेकअप वाली गड़बड़ी जानबूझकर की गई है.

कबीर सिंह के तमिल रीमेक का ट्रेलर देखकर सीख लीजिए कि कॉपी कैसे की जाती है

तेलुगू से हिंदी, हिंदी से तमिल एक ही डिश बिना एक्स्ट्रा तड़के के परोसी जा रही.

हर्षित: मूवी रिव्यू

शेक्सपीयर के नाटक हेमलेट पर आधारित है.

लाल कप्तान: मूवी रिव्यू

‘तुम्हारा शिकार, तुम्हारा मालिक है. वो जिधर जाता है, तुम उधर जाते हो.’

वेब सीरीज़ रिव्यू: 'दी फैमिली मैन' ने कश्मीर की ऐसी-ऐसी सच्चाइयों को दिखाया है जो पहले न देखी होंगी

मनोज वाजपेई का ये नया अवतार आपको बहुत सरप्राइज़ करने वाला है. लेकिन सीरीज़ में इसके अलावा भी बहुत कुछ है.