Submit your post

Follow Us

ऑस्कर 2020 में जीतने वाली ये फिल्में इंडिया में कहां देखें?

साल का सबसे बड़ा सिनेमा इवेंट ऑस्कर खत्म हो चुका है. कुछ फिल्मों ने अवॉर्ड जीतकर धमाल मचाया, तो कुछ को नॉमिनेशन से ही संतुष्ट होना पड़ा. ‘पैरासाइट’ ने कई ऐतिहासिक रचनाओं को पीछे छोड़कर इतिहास रच दिया. सबसे ज़्यादा 4 ऑस्कर जीतकर. कई और फिल्में भी रहीं, जिन्हें अलग-अलग श्रेणियों में सिनेमा के सबसे बड़े अवॉर्ड से सम्मानित किया गया. जैसे ही ऑस्कर खत्म होता है, हर सिनेमाप्रेमी अपने लिए एक शॉर्ट टर्म वाला गोल रखता है. सबसे पहले ऑस्कर वाली फिल्में निपटानी हैं. जहां मिल जाएं. लेकिन दिक्कत तब आती है, जब ये फिल्में कहीं मिलती ही नहीं हैं. इस बार हालांकि मामला अलग है. आप इन फिल्मों को लगे हाथ एक वीकेंड में ही देख सकते हैं. कैसे और कहां? यही बात जनहित में जारी करने आए हैं.

1) पैरासाइट– इस बार पूरा ऑस्कर इवेंट इस फिल्म के इर्द-गिर्द रहा. बेचारे डायरेक्टर बॉन्ग जून हो के पांव थक गए, स्टेज से अप-डाउन करने में. भाई ने ऑस्कर स्टेज से ही अनाउंस कर दिया कि आज पार्टी होगी. एक छोटी सी पिक्चर, जिसने ऑस्कर 2020 में दुनियाभर में बनी तमाम फिल्मों को पछाड़ते हुए तीन सबसे बड़े अवॉर्ड्स जीते. बेस्ट फिल्म, बेस्ट डायरेक्टर और बेस्ट इंटरनेशनल फीचर फिल्म. साथ में बेस्ट ओरिजिनल स्क्रीनप्ले का अवॉर्ड भी बॉन्ग ने अपनी झोली में डाल लिया. ये सब तो हो गया. अब बात आती है कि ‘पैरासाइट’ को देखें कहां? हम इस बार बड़े लकी हैं कि ऑस्कर की बेस्ट फिल्म को हम वैसे ही देख सकते हैं, जैसे देखने के लिए वो बनाई गई है. थिएटर्स में. ‘पैरासइट’ इंडियन सिनेमाघरों में अब भी लगी हुई है. अगर किसी स्ट्रीमिंग प्लैटफॉर्म पर इसके आने के इंतज़ार में हैं, तो अफसोस में रहेंगे क्योंकि अभी कुछ पता नहीं है कि ये कब और कहां आएगी.

फिल्म पैरासाइट का पोस्टर.
ऑस्कर में बेस्ट फिल्म का अवॉर्ड जीतने वाली पहली गैर-अग्रेज़ी फिल्म.

2) वंस अपॉन अ टाइम इन हॉलीवुड– क्वेंटिन टैरंटिनो की फिल्म, जिसमें ब्रैड पिट और लियोनार्डो डिकेप्रियो ने लीड रोल्स किए. चार्ल्स मैंशन के सनसनीखेज़ टेट-लाबियांका मर्डर केस पर जब टैरंटिनों ने फिल्म बनाई, तो वो ‘वंस अपॉन अ टाइम इन हॉलीवुड’ बन गई. जहां ये एक क्राइम थ्रिलर होने वाली थी, वहां एक हॉलीवुड टीवी एक्टर और उसके स्टंट डबल की कहानी बन गई. मर्डर केस का पूरा नैरेटिव उल्टा हो गया. ऑस्कर में फिल्म को 10 नॉमिनेशन मिले. फिल्म ने जीते दो अवॉर्ड्स. बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर के लिए ब्रैड पिट को ऑस्कर मिला. और 60-70 के दशक के अमेरिका को 2019 में भी असलियत के काफी करीब रखने के लिए फिल्म को बेस्ट प्रोडक्शन डिज़ाइन (बारबरा लिंग, नैन्सी हेग) का अवॉर्ड मिला. कहां देखें इस फिल्म को? अमेज़ॉन प्राइम वीडियो पर ये फिल्म ऑस्कर से महीने भर पहले से स्ट्रीम हो रही है. साथ ही इसे यूट्यूब और गूगल प्ले से 120 रुपए में खरीदकर भी देखा जा सकता है.

 क्वेंटिन टैरंटिनो के करियर की नौवीं फिल्म.
क्वेंटिन टैरंटिनो के करियर की नौवीं फिल्म.

3) 1917– ऑस्कर में इस वॉर फिल्म को भी 10 नॉमिनेशन मिले थे. बनाया था सैम मेंडेस ने, जो इससे पहले दो जेम्स बॉन्ड मूवीज़ डायरेक्ट कर चुके हैं. पहले विश्व युद्ध के दौरान घटने वाली दो भाइयों की कहानी. इस फिल्म को दुनियाभर में पसंद किया गया. कैमरा वर्क की खूब तारीफ हुई. फिल्म को विज़ुअल ट्रीट बताया गया, जिसके साथ एक शानदार मैसेज भी था. इस फिल्म ने विज़ुअल इफेक्ट्स, सिनेमटोग्रफी और साउंड मिक्सिंग के लिए तीन ऑस्कर जीते. विज़ुअल इफेक्ट्स के मामले में इसकी टक्कर सिनेमा इतिहास की सबसे सफल फिल्म ‘एवेंजर्स: एंडगेम’ से थी. एवेंजर्स का गेम एंड करके इसने ये अवॉर्ड अपने नाम किया. इस फिल्म को घर बैठे कंप्यूटर या लैपटॉप स्क्रीन पर आप नहीं देख पाएंगे. क्योंकि ये अभी ऑनलाइन कहीं उपलब्ध नहीं है. अगर ये ऑप्शन होता भी, तब भी आपको इसे सिनेमाघरों ना देख पाने का मलाल रह जाता. क्योंकि यहां सारी बात ही विज़ुअल की हो रही है. फिल्म अपने यहां भी थिएटर्स में लगी हुई है. मौका है साल की सबसे खूबसूरत फिल्म को परदे पर घटते हुए देखने का.

सैम मेंडेस इससे पहले दो जेम्स बॉन्ड सीरीज़ की फिल्में बना चुके हैं.
सैम मेंडेस इससे पहले दो जेम्स बॉन्ड सीरीज़ की फिल्में बना चुके हैं.

4) जोकर– आर्थर फ्लेक के डीसी कॉमिक्स के सुपरविलन ‘जोकर’ बनने की कहानी. सुपरहीरो या सुपरविलन कहानियों में इस तरह की फिल्म को ओरिजिन स्टोरी कहते हैं. 2008 में आई बैटमैन सीरीज़ की क्रिस्टोफर नोलन डायरेक्टेड फिल्म ‘द डार्क नाइट’. इसमें हीथ लेजर ने ‘जोकर’ के किरदार को निभाकर अमर कर दिया. उसी पॉपुलैरिटी को भुनाया 2019 में आई ‘जोकर’ ने. ‘हैंगओवर’ सीरीज़ फेम फिल्ममेकर टॉड फिलिप्स डायरेक्टेड इस फिल्म में वाकीन फीनिक्स ने जोकर का रोल किया था. आर्थर नाम के एक आदमी की कहानी, जो स्टैंड अप कॉमेडियन बनना चाहता था. उसे समाज से बहुत दिक्कतें थीं क्योंकि (या इसीलिए) लोग उसे मानसिक रूप से बीमार समझते थे. मेंटल हेल्थ, वॉयलेंस, परफॉरमेंस और एक शानदार किरदार की ओरिजिन स्टोरी होने के नाते ये फिल्म दुनियाभर में देखी गई. विवादों में रही. और ऑस्कर में भी. फिल्म के लिए वाकीन फीनिक्स को बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड मिला. साथ ही फिल्म ने बेस्ट बैकग्राउंड स्कोर के लिए भी अवॉर्ड जीता. इस फिल्म को आप यूट्यूब और गूगल प्ले पर 150 रुपए में खरीदकर देख सकते हैं.

इससे पहले हीथ लेजर ने जोकर का किरदार निभाया था और उन्हें ऑस्कर में बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का अवॉर्ड मिला था.
इससे पहले हीथ लेजर ने जोकर का किरदार निभाया था और उन्हें ऑस्कर में बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का अवॉर्ड मिला था.

5) जूडी– जूडी गारलैंड नाम की सिंगर और एक्ट्रेस की बायोपिक. जब 1969 में जूडी की डेथ हुई तब उनकी उम्र 47 साल थी. इस 47 साल में उनका एक्टिंग और सिंगिंग करियर 40 साल से भी ज़्यादा लंबा था. इनकी कहानी पर बनी फिल्म में लीड रोल किया था रेने ज़ेलवेगर ने. फिल्म को बेस्ट मेक अप और बेस्ट एक्ट्रेस की कैटेगरी में ऑस्कर नॉमिनेशन मिला था. रेने ने इसके लिए बेस्ट एक्ट्रेस का ऑस्कर जीता. इस फिल्म और ऑस्कर से जुड़ी एक ट्रिविया ये है कि पिछले साल फिल्म ‘बोहेमियन रैप्सडी’ में म्यूज़िशियन फ्रेडी मरक्यूरी का रोल करने वाले रामी मलेक को बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड मिला था. इस बार जूडी गारलैंड नाम की एक्ट्रेस-म्यूज़िशियन का रोल करने वाली रेने ज़ेलवेगर को बेस्ट एक्ट्रेस का अवॉर्ड मिला. और ये अवॉर्ड प्रेज़ेंट किया खुद रामी मलेक ने. इस फिल्म को कहां देखें- FYI ये फिल्म इंडिया में किसी भी स्ट्रीमिंग प्लैटफॉर्म पर अभी तक नहीं आई है. लेकिन इस आप थिएटर्स में देख सकते हैं.

पिछले साल एक म्यूज़िशियन का किरदार निभाने वाले को बेस्ट एक्टर का ऑस्कर मिला और इस बार एक आर्टिस्ट के किरदार को परदे पर उतारने के लिए बेस्ट एक्ट्रेस का ऑस्कर मिला.
पिछले साल एक म्यूज़िशियन का किरदार निभाने वाले को बेस्ट एक्टर का ऑस्कर मिला और इस बार एक आर्टिस्ट के किरदार को परदे पर उतारने के लिए बेस्ट एक्ट्रेस का ऑस्कर मिला.

6) मैरिज स्टोरी– एक ड्रामा डायरेक्टर और एक्ट्रेस की कहानी. इनकी पहले शादी होती है. बच्चा होता है. और फिर तलाक. स्कारलेट जोहैंसन और एडम ड्राइवर स्टारर इस फिल्म को नोआह बॉम्बैक ने डायरेक्ट किया था. इसे ऑस्कर 2020 में बेस्ट फिल्म, बेस्ट एक्ट्रेस और बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस समेत 6 नॉमिनेशन मिले थे. आम तौर तलाक वाली बातें बड़ी हवा-हवाई रहती हैं. बहुत ज़्यादा फोकस इस पूरे प्रोसेस पर नहीं रहता है. यहां फिल्म का वो सारा फोकस उन दो लोगों के अलगाव पर था. बहुत सारा समय साथ में गुज़ारने के बाद दो लोगों के अलग होने में क्या दिक्कतें पेश आती हैं. मेंटल और साइकॉलोजिकल तौर पर होने वाले बदलावों से गुज़रने के बाद एक बार में पूरी तरह अलग भी नहीं हुआ जा सकता. एक ब्रिज़ हमेशा उनके बीच रहती है. उनका बच्चा. लेकिन उससे भी ज़्यादा दिलचस्प ये जानना रहता है कि दो लोग अलग होते क्यों हैं? इस फिल्म के लिए लॉरा डर्न को बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का अवॉर्ड मिला. उन्होंने फिल्म की नायिका निकोल की मां नोरा का रोल किया था. ये फिल्म आप जब चाहें, जहां चाहें, देख सकते हैं. क्योंकि ये फिल्म रिलीज़ ही नेटफ्लिक्स पर हुई थी.

इस फिल्म में लीड रोल करने वाली स्कारलेट जोहैंसन बेस्ट एक्ट्रेस और बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस दोनों ही कैटेगरी में नॉमनेटेड थीं. लेकिन अवॉर्ड कोई नहीं मिला.
इस फिल्म में लीड रोल करने वाली स्कारलेट जोहैंसन बेस्ट एक्ट्रेस और बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस दोनों ही कैटेगरी में नॉमनेटेड थीं. हालांकि वो कोईअवॉर्ड नहीं जीत पाईं.

7) फोर्ड वर्सज़ फरारी– क्रिस्चन बेल और मैट डैमन स्टारर फिल्म. जैसा की नाम ही बता रहा है ये फिल्म कार कंपनियां फरारी और फोर्ड की आपसी कंपटिशन के बारे में थी. दुनिया के सबसे पुराने स्पोर्ट्स कार रेसिंग इवेंट ’24 आवर ऑफ ले मैंस’ में फोर्ड बार-बार फरारी से रेस हार जाती है. ऐसे में फोर्ड, कैरल शेल्बी नाम के एक ऑटोमोबाइल विज़नरी और केन माइल्स नाम के कार रेसर से फरारी को टक्कर देने वाली रेसिंग कार तैयार करने को कहती है. ये दोनों मिलकर फोर्ड जीटी 40 नाम की रेसिंग कार तैयार करते हैं और फरारी को ले मैंस में हरा देते हैं. ये भी पीरियड फिल्म थी. फिल्म के रेसिंग सीक्वेंस को काफी ज़्यादा तारीफें मिलीं. इसे ऑस्कर 2020 में 4 नॉमिनेशन मिले थे, जिसमें से इसने बेस्ट फिल्म एडिटिंग और बेस्ट साउंड एडिटिंग का ऑस्कर जीता. ये फिल्म दुनियाभर में नवंबर 2019 में रिलीज़ हुई. ऐसे में किसी स्ट्रीमिंग प्लैटफॉर्म पर नहीं आई है. लेकिन उम्मीद ये है कि इसे डिज़्नी+नाम के स्ट्रीमिंग प्लैटफॉर्म पर रिलीज़ किया जाएगा. ये प्लैटफॉर्म हॉटस्टार के साथ कोलैबरेट करके डिज़्नी+हॉटस्टार नाम से जल्द ही इंडिया में लॉन्च होने वाली है. हालांकि लोड लेने या इंतज़ार करने की ज़रूरत नहीं है. थिएटर्स में लगी हुई है. आप भी एक लैप मार आइए.

असल घटना से प्रेरित पीरियड फिल्म, जिसमें पहले ब्रैड पिट और टॉम क्रूज़ काम करने वाले थे.
असल घटना से प्रेरित पीरियड फिल्म, जिसमें पहले ब्रैड पिट और टॉम क्रूज़ काम करने वाले थे.

8) जोजो रैबिट–  1945 का साल है और 10 साल का जोजो बेट्सलर वियना में अपनी मां के साथ रहता है. कल्पना की दुनिया में जोजो का बेस्ट फ्रेंड है अडॉल्फ हिटलर. उसका सपना है हिटलर का पर्सनल बॉडी गार्ड बनना. दूसरे विश्वयुद्ध में नाज़ी प्रोपेगैंडा अपने चरम पर था. जोजो इसी प्रोपेगैंडा का शिकार है. वो यहूदियों से नफरत करता है लेकिन वो अपनी ज़िंदगी में कभी किसी यहूदी से मिला नहीं. फिर एक दिन जोजो को मालूम चलता है कि उसके घर में एक यहूदी लड़की छिपी है. जोजो रैबिट एक मासूम नाज़ी और एक यहूदी लड़की के एक-दूसरे को जानने की कहानी है. लेकिन इसे इसके ह्यूमर और पॉज़िटिव मैसेज के लिए पसंद किया गया. ऑस्कर में 6 नॉमिनेशन मिले थे, जिसमें से डायरेक्टर टाइका वाइटिटी को बेस्ट अडैप्टेड स्क्रीनप्ले के लिए अवॉर्ड मिला. ये फिल्म भी अभी इंडिया में किसी प्लैटफॉर्म पर अवेलेबल नहीं है. देखना चाहते हैं, तो सिनेमाघरों का रुख करिए. क्योंकि वहां से कब गायब हो जाए, पता नहीं.

दूसरे वर्ल्ड वॉर के बाद के दौर में घटने वाली कहानी, जो 'केजिंग स्काईज़' नाम की किताब पर बेस्ड थी.
दूसरे वर्ल्ड वॉर के बाद के दौर में घटने वाली कहानी, जो ‘केजिंग स्काईज़’ नाम की किताब पर बेस्ड थी.

वीडियो देखें: ऑस्कर 2020: पैरासाइट बेस्ट फिल्म रही, तो जोकर वाले वाकीन फीनिक्स को मिला बेस्ट एक्टर का अवार्ड

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

शिकारा: मूवी रिव्यू

एक साहसी मूवी, जो कभी-कभी टिकट खिड़की से डरने लगती है.

फिल्म रिव्यू: मलंग

तमाम बातों के बीच में ये चीज़ भी स्वीकार करनी होगी कि बहुत अच्छी फिल्म बनने के चक्कर में 'मलंग' पूरी तरह खराब भी नहीं हुई है.

भगवान दादा की 34 बातें: जिन्हें देख अमिताभ, गोविंदा, ऋषि कपूर नाचना सीखे!

हिंदी सिनेमा के इन बड़े विरले एक्टर को याद कर रहे हैं.

फिल्म रिव्यू- जवानी जानेमन

जब 50 का आदमी फिल्म में 40 का दिखे. और उसी उम्र में पहले बाप और फिर नाना बने, बात तो इंट्रेस्टिंग है.

नसीरुद्दीन शाह और अनुपम खेर की रगों में क्या है?

एक लघु टिप्पणी दोनों के बीच विवाद पर. जिसमें नसीर ने अनुपम को क्लाउन यानी विदूषक कहा था.

पंगा: मूवी रिव्यू

मूवी देखकर कंगना रनौत को इस दौर की सबसे अच्छी एक्ट्रेस कहने का मन करता है.

फिल्म रिव्यू- स्ट्रीट डांसर 3डी

अगर 'स्ट्रीट डांसर' से डांस निकाल दिया जाए, तो फिल्म स्ट्रीट पर आ जाएगी.

कोड एम: वेब सीरीज़ रिव्यू

सच्ची घटनाओं से प्रेरित ये सीरीज़ इंडियन आर्मी के किस अंदरूनी राज़ को खोलती है?

जामताड़ा: वेब सीरीज़ रिव्यू

फोन करके आपके अकाउंट से पैसे उड़ाने वालों के ऊपर बनी ये सीरीज़ इस फ्रॉड के कितने डीप में घुसने का साहस करती है?

तान्हाजी: मूवी रिव्यू

क्या अपने ट्रेलर की तरह ही ग्रैंड है अजय देवगन और काजोल की ये मूवी?