Submit your post

Follow Us

वॉर का ट्रेलर: अगर ये फिल्म चली तो बॉलीवुड की 'बाहुबली' बन जाएगी

वॉर का ट्रेलर आ चुका है. ऋतिक रौशन और टाइगर श्रॉफ का बोन चिलिंग कॉम्बो लग रही है ये फिल्म. ज़बरदस्त लोकेशन्स और थ्रिलिंग ऐक्शन सिक्वेंस वाला ट्रेलर बता रहा है कि फ़िल्म में और कुछ हो न हो लेकिन फ़ील तो इंटरनैशनल होगा ही. ट्रेलर के पहले फ्रेम में ही फ़ील और थ्रिल दोनों दिखाई दे रहे हैं. चलिए लेकर चलते हैं आपको इस रोलर कोस्टर फिल्म के ट्रेलर के अंदर.

# ट्रेलर को देखा तो कैसा लगा

ट्रेलर खुल रहा है मिशन इम्पॉसिबल टाइप के एक एयरोप्लेन चेज़ से. एक आर्मी कैरियर प्लेन को ज़बरदस्त पहाड़ी लोकेशन में चेज़ कर रहा है एक प्राइवेट प्लेन. और प्लेन के एक पंख पर दिखाई दे रहे हैं ऋतिक यानि कबीर.

ये ख़तरनाक इंट्री है कबीर यानी ऋतिक रौशन की. ‘सुपर 30’ में एक बिहार बेस्ड मैथेमटीशियन का रोल करने के बाद ऋतिक ने वापस ऐक्शन में एंट्री मारी है.

ट्रेलर का ओपनिंग सीक्वेंस जहां ऋतिक प्लेन के विंग पर बैठे नज़र आ रहे हैं.
ट्रेलर का ओपनिंग सीक्वेंस जहां ऋतिक प्लेन के विंग पर बैठे नज़र आ रहे हैं.

एक प्राइवेट प्लेन से आर्मी कैरियर प्लेन में कूदने का स्टंट ऋतिक की जानदार वापसी का प्रॉपर अनाउन्समेंट है.

इसके बाद के फ्रेम में दिखाई देते हैं कर्नल लूथरा. माने आशुतोष राणा. सिर्फ़ पांच वर्ड बोलते हैं लेकिन जिस कूलनेस से बोलते हैं वो अपने आप में तबाही से पहले ठहरा हुआ समंदर लगता है. कबीर उनका बेस्ट है जो अब बर्बाद हो चुका है.

वोसीन जब कर्नल लूथरा (आशुतोष राणा) को कबीर (ऋतिक) को खत्म करने के ऑर्डर मिलते हैं.
वोसीन जब कर्नल लूथरा (आशुतोष राणा) को कबीर (ऋतिक) को खत्म करने के ऑर्डर मिलते हैं.

कर्नल लूथरा को ऑर्डर मिलता है कबीर को ख़त्म करने का. और कबीर को ख़त्म करेगा कौन?

बस अब एंट्री होती है बुलेटप्रूफ़ गाड़ी में GAU-21 मशीन गन के साथ टाइगर श्रॉफ की. जिस बंदूक के साथ टाइगर दिखाई दे रहे हैं वो आमतौर पर वॉर ज़ोन में तबाही मचाती है. किसी फ़ील्ड ऑपरेशन पर भयानक स्टंट दिखाने के बाद टाइगर की इंट्री होती है ऑफ़िस में.

टाइगर श्रॉफ का एंट्री सीन.
टाइगर श्रॉफ का एंट्री सीन.

ख़ालिद यानि टाइगर. और टाइगर ही है ऋतिक की एंटी डोट. दोनों के ऐक्शन सीक्वेंस में से कौन किस पर भारी पड़ रहा है. आप बता ही नहीं सकते. फ़िल्म में वाणी कपूर भी हैं लेकिन इस पूरे ट्रेलर में वाणी को एक भी डायलॉग नहीं मिला है. मगर चिलिंग लोकेशन्स पर डांस करती ज़रूर दिख रही हैं.

# कहानी क्या लग रही है

कहानी सिंपल ही दिख रही है. ट्रेलर से पता चल रहा है कि कबीर यानि ऋतिक और ख़ालिद यानि टाइगर श्रॉफ दोनों है गुरु चेला. कबीर को चेज़ करता है ख़ालिद. और आधे ट्रेलर के बाद दोनों गुरु चेला किसी तीसरे से वॉर करने लगते हैं. किससे और क्या वॉर होगी ये तो पता चलेगा फ़िल्म देखने के बाद.

टाइगर श्रॉफ और ऋतिक रोशन के सीन इस फिल्म का हाईलाइट हैं
टाइगर श्रॉफ और ऋतिक रोशन के सीन इस फिल्म का हाईलाइट हैं.

# ऐक्टर कौन-कौन हैं

ऋतिक और टाइगर तो हुए इस फ़िल्म के मेन कोर्स. यानी कबीर और ख़ालिद. आशुतोष राणा हैं इस फ़िल्म के स्टार्टर या कहें एपिटाइज़र. ट्रेलर में बोले कुछ ही वर्ड्स से आशुतोष राणा इस फ़िल्म के लिए किसी की भी भूख बढ़ा सकते हैं. फ़िल्म में दो ऐक्ट्रेस हैं. एक हैं वाणी कपूर और दूसरी हैं दीपानिता शर्मा. और ट्रेलर में दोनों ही डेज़र्ट जैसे लग रहे हैं. सामने हैं, मन करे तो खाओ वरना मर्ज़ी है.

वाणी कपूर फिल्म में ऋतिक की बीवी या फिर गर्लफ्रेंड के रोल में दिखने वाली हैं.
वाणी कपूर फिल्म में ऋतिक की बीवी या फिर गर्लफ्रेंड के रोल में दिखने वाली हैं.

# ऐक्शन सिक्वेंस

अभी-अभी रिलीज़ हुई साहो का ट्रेलर देखिए या अब वॉर का ट्रेलर. साफ़ पता चल रहा है कि अब बॉलिवुड भी ऐक्शन सिक्वेंस में तगड़ा खर्चा कर रहा है. बर्फ़ीले रेगिस्तान में ऋतिक और टाइगर की कार फाइट हो या गल्फ कन्ट्रीज़ में बाइक की भागमभाग हो. हर एक फ्रेम स्ट्रौंग और पूरा ट्रेलर ज़ोरदार है इस पूरे ट्रेलर को एक सेकेण्ड के लिए भी मिस करना मुश्किल है. हर फ्रेम में एक खूबसूरत लोकेशन दिखाई देती है. ट्रेलर शुरू होता है बर्फ़ीले रेगिस्तान से और फिर पहाड़ी इलाकों से निकलता हुआ गल्फ़ में पहुँचता है और वहां से ट्रेलर पहुंच जाता है यूरोप. जब तक ट्रेलर लास्ट फ्रेम में पहुंचता है और एक जमी हुई नदी में शिप कैरियर से मिसाइल लॉन्च होने का सीन आता है तब तक हर फ्रेम में लोकेशन बदलती रहती है.

वॉर फिल्म के एक्शन सीक्वेंस हॉलीवुड कल्ट फिल्म 'फ़ास्ट एंड फ्यूरियस' की याद दिलाते हैं.
वॉर फिल्म के एक्शन सीक्वेंस हॉलीवुड कल्ट फिल्म ‘फ़ास्ट एंड फ्यूरियस’ की याद दिलाते हैं.

इसमें कोई डाउट नहीं कि वॉर बड़ी सुंदर और थ्रिलिंग लोकेशन्स पर शूट हुई है, और जब इन लोकेशन्स पर आपको ऋतिक और टाइगर का फाइटर कॉम्बो मिलता है तो उनके फैंस की तो चांदी ही चांदी है.

# टाइगर और ऋतिक का रील-रियल लाइफ़ कनेक्शन

हर कोई जानता है कि टाइगर श्रॉफ ने ऑफ़ स्क्रीन भी ऋतिक को शुरू से फ़ॉलो किया है. उनके जैसी ही बॉडी बिल्डिंग से लेकर डांस और फाइटिंग में भी वो टाइगर के गुरु रहे हैं. जब फ़िल्म का टीज़र भी ऋतिक ने शेयर किया था तो लिखा था ‘टाइगर जिस स्कूल में तुम पढ़ते हो हम उसके हेडमास्टर हैं’

ऋतिक रोशन ने टाइगर श्रॉफ के लिए एक इंटरव्यू में कहा था कि, "अगले 50 सालों तक बॉलीवुड में इस लड़के को कोई छूकर नहीं दिखा सकता है."
ऋतिक रोशन ने टाइगर श्रॉफ के लिए एक इंटरव्यू में कहा था कि, “अगले 50 सालों तक बॉलीवुड में इस लड़के को कोई छूकर नहीं दिखा सकता है.”

और फ़िल्म में भी कबीर का स्टूडेंट है ख़ालिद. ट्रेलर के आख़िर में कबीर कहता भी है कि ‘ख़ालिद कभी मेरा स्टूडेंट था, अब शायद उसे लगता है कि अपने टीचर से आगे निकल गया है’

# लेकिन क्या ऐक्शन से हिट होगी फ़िल्म?

इस फिल्म को डायरेक्ट किया है सिद्धार्थ आनंद ने. सिद्धार्थ इससे पहले ‘सलाम नमस्ते’, ‘ता रा रम पम’, ‘बचना ऐ हसीनों’ और ‘अंजाना अंजानी’ जैसी फिल्में डायरेक्ट कर चुके हैं. सिद्धार्थ की पिछली फिल्म ‘बैंग बैंग’ थी, जिसमें भी ऋतिक रौशन ने ही लीड रोल किया था. मगर ‘बैंग बैंग’ अपने जाबर ऐक्शन के बाद भी बॉक्स ऑफ़िस पर कुछ खास कर नहीं पाई थी. तो अब देखना ये है कि वॉर बॉक्स ऑफ़िस पर क्या और कितना कमाल दिखा पाती है.


Video: वॉर: क्यों भूचाल है ऋतिक रोशन और टाइगर श्राफ की ये एक्शन फिल्म?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

असुर: वेब सीरीज़ रिव्यू

वो गुमनाम-सी वेब सीरीज़, जो अब इंडिया की सबसे बेहतरीन वेब सीरीज़ कही जा रही है.

फिल्म रिव्यू- अंग्रेज़ी मीडियम

ये फिल्म आपको ठठाकर हंसने का भी मौका देती है मुस्कुराते रहने का भी.

गिल्टी: मूवी रिव्यू (नेटफ्लिक्स)

#MeToo पर करण जौहर की इस डेयरिंग की तारीफ़ करनी पड़ेगी.

कामयाब: मूवी रिव्यू

एक्टिंग करने की एक्टिंग करना, बड़ा ही टफ जॉब है बॉस!

फिल्म रिव्यू- बागी 3

इस फिल्म को देख चुकने के बाद आने वाले भाव को निराशा जैसा शब्द भी खुद में नहीं समेट सकता.

देवी: शॉर्ट मूवी रिव्यू (यू ट्यूब)

एक ऐसा सस्पेंस जो जब खुलता है तो न सिर्फ आपके रोंगटे खड़े कर देता है, बल्कि आपको परेशान भी छोड़ जाता है.

ये बैले: मूवी रिव्यू (नेटफ्लिक्स)

'ये धार्मिक दंगे भाड़ में जाएं. सब जगह ऐसा ही है. इज़राइल में भी. एक मात्र एस्केप है- डांस.'

फिल्म रिव्यू- थप्पड़

'थप्पड़' का मकसद आपको थप्पड़ मारना नहीं, इस कॉन्सेप्ट में भरोसा दिलाना, याद करवाना है कि 'इट्स जस्ट अ स्लैप. पर नहीं मार सकता है'.

फिल्म रिव्यू: शुभ मंगल ज़्यादा सावधान

ये एक गे लव स्टोरी है, जो बनाई इस मक़सद से गई है कि इसे सिर्फ लव स्टोरी कहा जाए.

फिल्म रिव्यू- भूत: द हॉन्टेड शिप

डराने की कोशिश करने वाली औसत कॉमेडी फिल्म.