Submit your post

Follow Us

क्या विवेक तिवारी की पत्नी ने कहा कि लखनऊ कश्मीर नहीं है कि किसी को गोली मार दी जाए?

यूपी की राजधानी लखनऊ में पुलिसवालों ने एपल के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की गोली मारकर हत्या कर दी. हत्या के बाद जब पुलिस और योगी सरकार पर सवाल उठने लगे, तो विवेक को गोली मारने वाले प्रशांत की गिरफ्तारी भी हो गई. मरने वाले विवेक की पत्नी कल्पना को नौकरी और मुआवजे के तौर पर 25 लाख रुपये देने का ऐलान भी कर दिया गया. लेकिन ये जमाना सोशल मीडिया का है. अब सोशल मीडिया पर बैठे लोगों को कुछ तो मुद्दा चाहिए. तो उन्होंने इस हत्याकांड में भी एक मुद्दा खोज निकाला और इसे कश्मीर से जोड़ दिया.

FB1

हत्याकांड के बाद जब विवेक तिवारी की पत्नी खुद के लिए न्याय की गुहार लगा रही थी, सोशल मीडिया पर एक पोस्ट आग की तरह वायरल हो रही थी. इस पोस्ट में विवेक की पत्नी कल्पना तिवारी के हवाले से कहा जा रहा था कि कल्पना ने कहा है कि लखनऊ कोई कश्मीर थोड़े ही न है कि किसी को भी मार दिया जाए. देखिए सोशल मीडिया पर क्या लिखा जा रहा है.

FB2

एक और पोस्ट तो इस बात को लेकर लिखी गई है कि डरिए आप लखनऊ में हैं.

FB4

जब हमने इस बात की पड़ताल की, तो पता चला कि कल्पना ने कभी ऐसा कुछ भी नहीं कहा है. कल्पना कम से कम 30 न्यूज़ चैनलों से अलग-अलग बात कर चुकी हैं. उनकी 20 से ज्यादा वीडियो फुटेज सोशल मीडिया पर मौजूद हैं, लेकिन कहीं भी कल्पना ने ये नहीं कहा है कि लखनऊ कोई कश्मीर थोड़े ही न है कि किसी को भी मार दिया जाए. हां, कल्पना ने ये ज़रूर कहा है कि विवेक कोई आतंकवादी नहीं थे कि उन्हें गोली मार दी गई. कल्पना ने हर बार अपना बयान एक जैसा ही दिया है. उन्होंने क्या कहा है आप खुद ही सुन लीजिए.

कल्पना का बयान सुनने के बाद ये साफ हो जाता है कि उन्होंने लखनऊ की तुलना कश्मीर से नहीं की है. मौके पर मौजूद स्थानीय पत्रकारों का भी मानना है कि कल्पना ने अपने बयान में कभी भी कश्मीर का जिक्र नहीं किया है. हां ये ज़रूर है कि कल्पना के भाई विष्णु शुक्ला ने एक न्यूज़ चैनल से बातचीत में कहा है कि लखनऊ कोई कश्मीर नहीं है कि किसी पर भी संदेह होने पर गोली मार दी जाए. लेकिन सोशल मीडिया पर बैठे लोगों को विवेक तिवारी की हत्या एक ऐसा मुद्दा लगा कि उन्होंने उनकी पत्नी के सहारे एक दूसरे मुद्दे को भुनाने की कोशिश कर ली.

kalpana
मारे गए विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना.

ये दौर सोशल मीडिया का है, जहां सच्चाई धीरे-धीरे और अफवाहें बहुत तेज पहुंचती हैं. इसलिए सजग रहिए, सचेत रहिए और सोशल मीडिया पर किसी भी चीज को शेयर करने से पहले उसकी सच्चाई को ज़रूर परखिए. अगर आपके पास भी ऐसी कोई पोस्ट, फोटो, वीडियो या मैसेज है जिसपर आपको शक है तो आप उसे lallantopmail@gmail.com, फेसबुक पर हमारे वेरिफाइड पेज The Lallantop और हमारे वेरिफाइड ट्विटर हैंडल @TheLallantop पर भेज सकते हैं. हम उसकी पड़ताल कर सच्चाई पता करेंगे और आप तक पहुंचाते रहेंगे.


क्या आपको अब फेसबुक का पासवर्ड बदल देना चाहिए?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

इबारत : शरद जोशी की वो 10 बातें जिनके बिना व्यंग्य अधूरा है

आज शरद जोशी का जन्मदिन है.

इबारत : सुमित्रानंदन पंत, वो कवि जिसे पैदा होते ही मरा समझ लिया था परिवार ने!

इनकी सबसे प्रभावी और मशहूर रचनाओं से ये हिस्से आप भी पढ़िए

गिरीश कर्नाड और विजय तेंडुलकर के लिखे वो 15 डायलॉग, जो ख़ज़ाने से कम नहीं!

आज गिरीश कर्नाड का जन्मदिन और विजय तेंडुलकर की बरसी है.

पाताल लोक की वो 12 बातें जिसके चलते इस सीरीज़ को देखे बिन नहीं रह पाएंगे

'जिसे मैंने मुसलमान तक नहीं बनने दिया, आप लोगों ने उसे जिहादी बना दिया.'

ऑनलाइन देखें वो 18 फ़िल्में जो अक्षय कुमार, अजय देवगन जैसे स्टार्स की फेवरेट हैं

'मेरी मूवी लिस्ट' में आज की रेकमेंडेशन है अक्षय, अजय, रणवीर सिंह, आयुष्मान, ऋतिक रोशन, अर्जुन कपूर, काजोल जैसे एक्टर्स की.

कैरीमिनाटी का वीडियो हटने पर भुवन बाम, हर्ष बेनीवाल और आशीष चंचलानी क्या कह रहे?

कैरी के सपोर्ट में को 'शक्तिमान' मुकेश खन्ना भी उतर आए हैं.

वो देश, जहां मिलिट्री सर्विस अनिवार्य है

क्या भारत में ऐसा होने जा रहा है?

'हासिल' के ये 10 डायलॉग आपको इरफ़ान का वो ज़माना याद दिला देंगे

17 साल पहले रिलीज़ हुई इस फ़िल्म ने ज़लज़ला ला दिया था

4 फील गुड फ़िल्में जो ऑनलाइन देखने के बाद दूसरों को भी दिखाते फिरेंगे

'मेरी मूवी लिस्ट' में आज की रेकमेंडेशंस हमारी साथी स्वाति ने दी हैं.

आर. के. नारायण, जिनका लिखा 'मालगुडी डेज़' हम सबका नॉस्टैल्जिया बन गया

स्वामी और उसके दोस्तों को देखते ही बचपन याद आता है