Submit your post

Follow Us

बुमराह ने जो कोहली का मज़ाक उड़ाया था, उसका कोहली ने आज बदला ले लिया

79
शेयर्स

या तो आपको डॉक्टर ने क्रिकेट देखने से एकदम परहेज बताया हो. नो मतलब नो टाइप.
या आप सैकड़ों सालों से हिमायल की कंदराओं में बैठकर ध्यान कर रहे हों.
या आप पाताल में रहते हों.
या आपको अच्छी चीजें देखने से एलर्जी हो.
या आप रांझा की तरह ‘ये दुनिया ये महफ़िल’ हो गए हों.

ऐसी ही बेतरतीब सूरतों में आपने विराट कोहली की बैटिंग नहीं देखी होगी. मगर क्या आपने हाल-फिलहाल विराट को बॉलिंग करते देखा है? ओके, शायद नेट में देखा हो एकाध बॉल डालते हुए. लेकिन किसी को कॉपी करते हुए बॉल फेंकते देखा है? हम आपको दिखाते हैं. नोश फरमाइए ये वीडियो-

असल में हो ये रहा था कि टीम इंडिया मैच प्रैक्टिस कर रही थी. इसी दौरान कोहली ने बॉल पकड़ी और जसप्रीत बुमराह की बॉलिंग की नकल उतारने लगे. न केवल बुमराह की तरह बॉल फेंकने की. बल्कि उनके हाव-भाव, उनके बॉडी लैंग्वेंज की भी. मसलन- टिपिकल बुमराह स्टाइल में विकेट लेने के बाद दोनों हाथ फैलाकर, सीना तानकर थोड़ा चौड़े होते हुए चलने की.

अच्छा, ये बुमराह वाली बात से याद आया कि पिछले महीने एक इंटरव्यू में कोहली ने बताया था कि वो अब बॉलिंग क्यों नहीं करते. बकौल कोहली-

2017 में श्रीलंका के साथ वन-डे सीरीज़ के दौरान की बात है. हम लगभग जीत ही गए थे. तो मैंने धोनी से पूछा कि क्या मैं बॉलिंग कर सकता हूं. उन्होंने कहा, करो. मैं बॉलिंग करने जा ही रहा था कि बाउंड्री के पास से बुमराह चिल्लाया. बोला, मज़ाक नहीं चल रहा यहां, ये इंटरनैशनल मैच है.

हम्म…बुमराह कनेक्शन.  यानी बुमराह ने जो कोहली का मज़ाक उड़ाया था, उसका कोहली ने आज बदला ले लिया. कोहली ने आगे कहा-

पूरी टीम में किसी को मेरी बॉलिंग पर भरोसा नहीं. किसी को नहीं यकीन होता कि मैं बॉलिंग कर सकता हूं. सिवाय मेरे. मगर दिसंबर 2017 के बाद से मेरी पीठ में थोड़ी दिक्कत हो गई और फिर मैंने कभी बॉलिंग नहीं की.

इंटरनैशनल क्रिकेट में कोहली के खाते में थोड़ा बॉलिंग का खाता भी है. वन-डे में चार विकेट. और T-20 में भी चार विकेट. बॉलिंग उन्होंने टेस्ट में भी की है. लेकिन वहां विकेट कोई नहीं मिला. अब मैच में भले बॉलिंग न करते हों कोहली. मगर बॉलिंग का अपना शौक नेट प्रैक्टिस में पूरा करते हैं.

कोहली कई बार इंटरव्यूज़ में अपनी बॉलिंग के बारे में बात कर चुके हैं. हाल की ही बात है. कोहली भारत और न्यू ज़ीलैंड के बीच होने वाले सेमीफाइनल की बात कर रहे थे. ज़िक्र आया 2008 का. तब भी भारत ने न्यू ज़ीलैंड के साथ सेमी फाइनल खेला था. इधर कैप्टन थे विराट. उधर कैप्टन थे केन विलियमसन. ये उन दिनों की बात है, जब कोहली बॉलिंग भी कर लिया करते थे. और…केन का विकेट उस दिन खुद कोहली ने लिया था. इसी मैच का ज़िक्र करते हुए कोहली ने कहा कि वो केन को उसी मैच की याद दिलाएंगे. क्योंकि 2008 में शायद न कभी केन ने और न कोहली ने इस दिन की कल्पना की होगी.

वैसे इस ज़िक्र से अचानक सचिन की याद आ गई. पहला प्यार बॉलिंग से हुआ. मगर किस्मत में आई बैटिंग. मगर… बॉलिंग छोड़ी नहीं. बस नाम को नहीं की बॉलिंग. विकेट भी लिए. टेस्ट में 46. वन-डे में 154. T20 में 1. मतलब तीनों फॉर्मेंट में खाता खुला हुआ है. और आपको वो मैच याद है. 1 अप्रैल, 1998. ऑस्ट्रेलिया-इंडिया. कोच्चि में मैच. सचिन ने पांच विकेट लिए और रन बनाए आठ. उस दिन बस बॉलिंग के दम पर सचिन को मैन ऑफ द मैच मिला था.


इंडिया-न्यूजीलैंड का वर्ल्ड कप सेमीफाइनल, जब कोहली ने विलियमसन को आउट कर जीता मैच

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

दोस्ती और गरीबी पर सबसे अच्छी बातें विनोद खन्ना ने कही थीं

आज विनोद खन्ना का जन्मदिन है, पढ़िए उनके बेहतरीन डायलॉग्स.

एक प्रेरक कहानी जिसने विनोद खन्ना को आनंदित होना सिखाया

हिंदी फिल्मों के इन कद्दावर अभिनेता के जन्मदिन पर आज पढ़ें उनके 8 किस्से.

बॉर्डर: एक ऐसी फिल्म जो देशभक्ति का दूसरा नाम बन गई

फिल्म के बीस डायलॉग जिन्हें आज भी याद किया जाता है.

सैनिकों के लिए फिल्में भारत में सिर्फ ये एक आदमी बनाता है

1962, 1971 और 1999 के वॉर पर उन्होंने फिल्में बनाईं. आज हैप्पी बड्डे है.

क्या काम कर पाएगा 'दबंग 3' को प्रमोट करने का ये तिकड़म?

'दबंग 3' को सलमान खान नहीं ये प्रमोट करेंगे.

विकी कौशल के छोटे भाई की आने वाली फिल्म का शाहरुख़-सलमान से क्या कनेक्शन है?

सनी कौशल की 'भंगड़ा पा ले' पंजाब में खूब चल सकती है.

रानी की 'मर्दानी 2' तो बाद में आएगी, इसका ये डायलॉग अभी से सुपरहिट हो गया

'मर्दानी 2' के इस पहले वीडियो को देखकर दो बातें याद रह जाएंगी.

कोई नहीं कह सकता कि वो ऋषिकेश मुखर्जी से महान फ़िल्म निर्देशक है

ऋषि दा और उनकी फिल्मों की ये 8 बातें सबको जाननी चाहिए. आज ही के दिन पैदा हुए थे.

वो लैजेंड एक्टर महमूद, जिसने राजेश खन्ना को थप्पड़ लगाकर स्टारपना निकाल दिया था

जो खुद को अमिताभ बच्चन का दूसरा बाप कहता था.

ए.आर रहमान के हीरो की तुलना फिल्म रिलीज़ होने से पहले ही सलमान खान के साथ क्यों हो रही है?

रहमान ने इस लड़के से जितनी मेहनत फिल्म से पहले करवा दी है, वो सुनकर बाकी स्टार्स को तारे नज़र आने लगेंगे.