Thelallantop

धोखाधड़ी के आरोप में पकड़ा गया, तो युवा हिंदू वाहिनी का नेता बोला 'जय श्री राम'

अनुराग भृगुवंशी फेसबुक पर भड़काऊ वीडियो पोस्ट करता है. पिछले दिनों लॉकडाउन के उल्लंघन के बाद उसने पुलिस को वीडियो जारी कर धमकी दी थी. फोटो: फेसबुक/ट्विटर

उत्तर प्रदेश का मथुरा. यहां राष्ट्रीय युवा हिंदू वाहिनी के अध्यक्ष अनुराग भृगुवंशी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. उसके ख़िलाफ़ हत्या का प्रयास, पुलिस को धमकी देना, महिला के साथ धोखाधड़ी-छेड़छाड़ और लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने के आरोप हैं. उसे लखनऊ से गिरफ्तार कर 31 जुलाई को मथुरा लाया गया. इसका एक वीडियो सामने आया है, जिसमें मथुरा पुलिस ने थाना हाइवे क्षेत्र पर उसे जीप में बिठा रखा है. वो जीप में ‘जय श्री राम’ और ‘हर हर महादेव’ जैसे नारे लगा रहा है.

कुछ दिनों पहले उसने फेसबुक पर वीडियो जारी कर कथित तौर पर पुलिस को धमकी भी दी थी.

महिला के साथ अभद्रता और नारेबाजी

रिपोर्ट के मुताबिक, 19 जुलाई को अनुराग भृगुवंशी ने शनिवार के लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए मथुरा में एक कार्यक्रम का आयोजन किया. इस कार्यक्रम में एक महिला वकील आईं. उन्होंने अनुराग पर पैसों की धोखाधड़ी का आरोप लगाया. महिला का कहना है कि उनके पति का ट्रांसफर कराने के नाम पर अनुराग ने एक लाख रुपए अकाउंट में जमा करवाए. महिला ने कहा कि उसे अपने बच्चे का इलाज कराना था. इसके लिए अनुराग से पैसे वापस मांगे.

महिला ने आरोप लगाया कि अनुराग ने पैसे वापस नहीं किए और इलाज के अभाव में बच्चे की मौत हो गई. महिला इस कार्यक्रम में पहुंचकर अनुराग की शिकायत करने लगी. इस पर युवा वाहिनी के लोग आकर ‘जय श्रीराम’ के नारों के साथ महिला को खदेड़ने लगे. उसके साथ दुर्व्यवहार करते हुए उसे धक्का देकर गिरा दिया. इस घटना का वीडियो भी सामने आया है.

पुलिस को धमकी देने का आरोप

अनुराग अपना पूरा नाम महंत गोस्वामी अनुराग भृगुवंशी बताता है. लॉकडाउन के उल्लंघन के बाद उसके ख़िलाफ़ पुलिस ने केस दर्ज किया था. इसके बाद अनुराग ने फेसबुक पर एक वीडियो जारी किया, जिसमें कथित तौर पर उसने पुलिस को धमकी वाले लहजे में बात की. उसने कहा कि अगर उसे हाथ लगाया गया, तो 29 राज्यों के कार्यकर्ता सड़कों पर उतरेंगे. उसने कहा कि थाना हाइवे प्रभारी को बलिया बॉर्डर पर ‘फेंकवा’ दिया जाएगा और थानाध्यक्ष को पूरे जीवन थाना नहीं मिलेगा.

उसने इस वीडियो में कई सांप्रदायिक और भड़काऊ बातें भी कहीं. इस वीडियो के सामने आने के बाद उसके खिलाफ आईटी ऐक्ट समेत कई धाराओं में केस दर्ज किया गया. उसने वीडियो में कहा कि किसी में इतनी हिम्मत नहीं कि मुझे हाथ लगा सके. फिलहाल वो पुलिस की गिरफ्त में है.

बुलंदशहर: इंस्पेक्टर सुबोध सिंह के हत्या के आरोपी को लेकर बवाल क्यों हो रहा है?

Read more!

Recommended