Submit your post

Follow Us

कॉन्स्टेबल को बिजली के खंभे पर चढ़ाकर सेल्फी ले रहे थे यूपी पुलिस के सब-इंस्पेक्टर

1.49 K
शेयर्स

घोड़ा था घमंडी, पहुंचा सब्ज़ी मंडी
सब्ज़ी मंडी में बरफ पड़ी थी, घोड़े को लग गई ठंडी.

गाने में घोड़े की कहानी बस इतनी लिखी है गुलज़ार ने. घमंडी का तो पता नहीं, लेकिन गाना सुनकर लगता है कि घोड़ा खुद को ओवर-स्मार्ट समझता होगा. जैसे उन्नाव के एक सब-इंस्पेक्टर साहब. जो निकले थे अपनी ड्यूटी करने. मगर ओवर-स्मार्टनेस ने उन्होंने कॉन्स्टेबल को बिजली के पोल पर चढ़ा दिया. ये कम था जैसे कि फिर एक सेल्फी भी ले ली. सेल्फी में वो मुस्कुरा रहे थे. पीछे बिजली के खंभे पर कॉन्स्टेबल लटका था. सब-इंस्पेक्टर ने सोचा था, वाहवाही मिलेगी. मगर मिला तबादला. अब विभाग ने जांच भी बिठा दी है उनपर.

मामला क्या है?
चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव की तारीखें बताईं. आयोग ने राजनैतिक पार्टियों के प्रचार, उनके विज्ञापनों और बैनर-पोस्टरों के लिए दिशानिर्देश जारी किए. मसलन, सेना से जुड़ी तस्वीरों का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता. तारीखों के ऐलान के साथ ही चुनावी आचार संहिता भी लागू हो गई. इसके बाद सब-इंस्पेक्टर अपनी टीम को लेकर इलाके में निकले. ये पक्का करने कि कहीं पर भी आचार संहिता का उल्लंघन तो नहीं हो रहा. रास्ते में उन्हें दिखे राजनैतिक पार्टियों के पोस्टर. उसको हटाने के लिए उन्होंने कॉन्स्टेबल को ऑर्डर दिया. कहा, जाओ बिजली के खंभे पर चढ़ जाओ.

उधर कॉन्स्टेबल खंभे पर चढ़ रहा था, इधर सब-इंस्पेक्टर ने सेल्फी ले ली. ये दिखाने को कि देखो, मैं मुस्तैदी से ड्यूटी कर रहा हूं. ये सेल्फी फैल गई. कॉन्स्टेबल को बिजली पोल पर चढ़वाने के लिए सब-इंस्पेक्टर को आड़े हाथों लिया जाने लगा. उनकी ये हरकत कॉन्स्टेबल के लिए जानलेवा साबित हो सकती थी. उसकी जान पर बन सकती थी. अच्छा हुआ कि ऐसा कुछ हुआ नहीं. मगर विभाग ने सब-इंस्पेक्टर की इस बात पर नोटिस लिया. पहली सज़ा तो ये दी कि उनका तबादला कर दिया. फिर उनके खिलाफ जांच का भी आदेश दिया.

सबसे बुरा क्या है, मालूम. सब-इंस्पेक्टर किसी और को कोस भी नहीं सकते. आप में इतनी समझ नहीं कि किसी को बिजली के खंभे पर चढ़ा दें, तो आपका राम ही मालिक है.


आम चुनाव 2019: चुनाव आयोग को इस्लाम विरोधी या हिंदू विरोधी बताने वाले ये देखें

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Unnao Sub-inspector faces departmental inquiry for ordering constable to climb up electricity pole

10 नंबरी

इन 10 बातों से पता चलता है, बैट से पीटने वाले आकाश विजयवर्गीय नए जमाने के असली नेता हैं

वीडियो देख हम कई नतीजों पर पहुंचे और कई सवाल भी उठे.

यूपी की मशहूर कठपुतली के किरदारों से अमिताभ-आयुष्मान की फिल्म का क्या कनेक्शन है?

खालिस लखनवी मुस्लिम बुजुर्ग के रोल में अमिताभ बच्चन को पहचानना मुश्किल है.

अमरीश पुरी के 18 किस्से: जिनने स्टीवन स्पीलबर्ग को मना कर दिया था!

जिसे हमने बेस्ट एक्टर का एक अवॉर्ड तक न दिया, उसके बारे में स्पीलबर्ग ने कहा "अमरीश जैसा कोई नहीं, न होगा".

सोनाक्षी सिन्हा की अगली फिल्म जिसमें वो मर्दों के गुप्त रोग का इलाज करेंगी

खानदानी शफाखाना ट्रेलर: सोनाक्षी के मरीजों की लिस्ट में सिंगर-रैपर बादशाह भी शामिल हैं.

मोदी करेंगे सेल्फी आसन, केजरीवाल का रॉकेटासन और राहुल करेंगे कुर्तासन

निंदासन, चमचासन, वोटर नमस्कार. लॉजिक छोड़िए, ध्यान भड़कने पर लगाइए, नथुने फड़काइए और ये आसान से आसन ट्राई कीजिए.

संसद में राष्ट्रपति के अभिभाषण की छह खास बातें

इससे पता चलता है कि मोदी सरकार अगले पांच साल में क्या करने वाली है.

दिलजीत दोसांझ की अगली फिल्म, जो ट्रेलर में अपनी ही बेइज्ज़ती कर लेती है

फिल्म में पुलिसवाला, नौटंकीबाज हीरोइन, एक भटकती आत्मा और सनी लियोनी भी हैं.

लोकसभा की जनरल सेक्रेटरी स्नेहलता श्रीवास्तव कौन हैं?

लोकसभा की पहली महिला महासचिव हैं स्नेहलता.

सनी देओल के चुनाव जीतने की वजह से उनके बेटे की फिल्म का काम रुक गया है

सनी के बेटे करण देओल के पहले प्रोजेक्ट की इनसाइड स्टोरी.

बड़ी स्टारकास्ट के लिए फेमस संजय गुप्ता इस बार तोड़ू गैंगस्टर फिल्म लेकर आ रहे हैं

इस फिल्म में इमरान हाशमी और जॉन अब्राहम समेत कई तगड़े कलाकार साथ काम कर रहे हैं.