Submit your post

Follow Us

जिमी शेरगिल: वो लड़का जो चॉकलेट बॉय से कब दबंग बन गया, पता ही नहीं चला

13.83 K
शेयर्स

जिमी शेरगिल. एक ज़माना था कि इस बंदे को देखकर एक ही शब्द दिमाग में आता था. ‘क्यूटनेस ओवरलोडेड’. चाहे ‘मोहब्बतें’ हो या ‘मेरे यार की शादी है’ हो. या फिर ‘दिल है तुम्हारा’. एक सलोनी सी शक्ल का प्यारा सा हीरो. जो अक्सर हीरोइन के मामले में खाली हाथ भी रह जाया करता था. फिर देखते ही देखते ऐसे कायापलट हुआ कि हिंदी सिनेमा के चाहनेवालों को चौंकाकर रख दिया भाई ने. पहले चॉकलेट बॉय की इमेज बदली. थोड़ी सी दबंगई ‘अ वेडनेसडे’ से आई. और फिर फैला भाई का भौकाल.

उनका ये सफ़र देखना बहुत दिलचस्प है. आइये 5 फिल्मों से जाने उनका ये ट्रांसफॉर्मेशन.

#1. गुलज़ार की ‘माचिस’ से अपना करियर शुरू करने वाले जिमी को लोगों ने यशराज की ‘मोहब्बतें’ से पहचानना शुरू किया. इसमें वो शाहरूख और अमिताभ जैसे दिग्गज कलाकारों के साथ दिखे थे. फिल्म में उनके साथ पांच नए लोग और थे, लेकिन फिर भी जिमी सबसे ज्यादा क्यूट लग रहे थे.

#2. फिर आई ‘मेरे यार की शादी है’. इस फिल्म से मुझे पर्सनल ग्रज है. फिल्म में वो हुआ जो इतिहास में कभी नहीं हुआ, कोई हीरो अपनी हीरोइन उदय चोपड़ा को हार गया. इसमें जिमी का कैरेक्टर उदय चोपड़ा से अपनी गर्लफ्रेंड की शादी करवा देता है. लेकिन उन बातों को दरकिनार कर हम उस फिल्म का ये प्यारा सा गाना देखेंगे.

#3. अब बात उस फिल्म की जिसमें पहली बार हमने जिमी को एक अलग रूप में देखा. फिल्म थी नीरज पांडे की ‘अ वेडनेसडे’. इसमें जिमी ने एक गुस्सैल ATS इंस्पेक्टर आरिफ खान का रोल किया था. यही वो फिल्म थी जिससे जिमी का इमेज मेकओवर शुरू हुआ. बुलेट पर उनकी एंट्री आनेवाली दबंगई की आहट थी.

#4. फिर जिमी बन गए राजा आदित्य प्रताप सिंह. यहां साहब ने बीवी, पॉलिटिक्स और गैंगस्टर सबको हैंडल करते हुए अपनी जगह दिखाई. अब ये सब कैसे किया इसका एक उदाहरण यहां देख लीजिए.

#5. अब बारी थी कानपुर वाले राजा अवस्थी की. डॉक्टर साहब के चक्कर में लड़की ने फिर से झटक दिया था. फिर भी एक मौका था लड़की पाने का, लेकिन सोमवार ने सब गुड़-गोबर कर दिया. भाई ने दूसरी बार मूंछें उगाकर फिर से ट्राय किया लेकिन डॉक्टर पीछा छोड़े तब न!

अब ये देखिए अनुराग कश्यप की आने वाली फिल्म ‘मुक्काबाज’ में उनका नया ‘पैंतरा’.


ये भी पढ़ें: 

अमिताभ ने फिर याद दिलाया ‘कुली’ वाला हादसा, पर जानिए पुनीत इस्सर क्या कहते हैं

वो औरत जिसे मुहब्बत के मारों का मसीहा कहा जाता था

स्मिता पाटिल से दोस्ती पर क्या बोले अमिताभ

फिल्म रिव्यू ‘पिंक’: जरूर देखें, न देखने का ऑप्शन न रखें


वीडियो देखें: 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

फिल्म रिव्यू: कमांडो 3

इस फिल्म में विद्युत का एक्शन देखकर आप टाइगर श्रॉफ पर 'किड्स' वाला जोक मारने के लिए मजबूर हो जाएंगे.

होटल मुंबई: मूवी रिव्यू

‘होटल मुंबई’ एक बेहतरीन मूवी है. लेकिन इसे 'बेहतरीन' कहते हुए आप गिल्ट तले दब जाते हो.

रामगोपाल वर्मा की मूवी में पीएम मोदी, अमित शाह और चंद्रबाबू नायडू ही नहीं, और भी कई राजनेता हैं

पिक्चर तो रामू ने बना दी. अब रिलीज़ कैसे करेंगे?

पागलपंती: मूवी रिव्यू

फिल्म के ट्रेलर में ही अनिल कपूर कह देते है,'और हां तुम लोग दिमाग मत लगाना'.

फ्रोज़न 2: मूवी रिव्यू

...जब मेरे बचपन के दिन थे चांद में परियां रहती थीं.

तानाजी ट्रेलर के दो डायलॉग जिन्हें सुनकर मन बहुत खराब हो गया है!

अजय देवगन स्टारर इस हिस्टोरिकल ड्रामा की ये गलती इसका पीछा नहीं छोड़ेगी.

हाउस अरेस्ट: मूवी रिव्यू

पूरी दुनिया के लिए उम्दा कॉन्टेंट बनाने वाला नेटफ्लिक्स हम भारतीयों के साथ सौतेला व्यवहार क्यूं कर रहा है, समझ से बाहर है.

मरजावां: मूवी रिव्यू

‘परिंदा’, ‘ग़ुलाम’, ’देवदास’, ‘अग्निपथ’, ‘कयामत से कयामत तक’, ‘गजनी’, ‘काबिल’, ‘लावारिस’ और ‘केजीएफ’ जैसी ढेरों मूवीज़ की याद दिलाती है मरजावां.

फिल्म रिव्यू: मोतीचूर चकनाचूर

आप पैसे खर्च करके सिर्फ हंसने नहीं जा सकते, साथ में कुछ चाहिए होता है, जो ये फिल्म नहीं देती.

बाला: मूवी रिव्यू

'आज खुशी का दिन है आया बिल्कुल लल्लनटॉप. सोडा, पानी, नींबू के साथ क्या पिएंगे आप?'