Submit your post

Follow Us

'फिल्लौरी' का ट्रेलरः अनुष्का का रोल एेसा है कि हीरोइन्स के करियर खत्म हो जाते हैं

बचपन से जुड़ा एक किस्सा सुनाते हैं. 1995-96 की बात है पिताजी से ज़िद की कैस्पर चाहिए. पिताजी मच्छर मारने वाला कॉइल कैस्पर ले आए. हमें अंग्रेज़ी फिल्म ‘कैस्पर’ देखनी थी. जिसमें एक बहुत ही क्यूट सा भूत था. अनुष्का शर्मा की नई फिल्म ‘फिल्लौरी’ का ट्रेलर आया है. ट्रेलर शुरू होते ही कैस्पर की याद आ जाती है. इस बात को किसी नेगेटिव कमेंट की तरह न लें, बस अच्छा लगता है.

अगर ‘कैस्पर’ न देखी हो तो शाहरुख खान और नसीरुद्दीन शाह की ज़बरदस्त जोड़ी वाली ‘चमत्कार’ याद कर लें, उसका क्रिकेट मैच याद कर लें.

‘फिल्लौरी’ अनुष्का शर्मा के प्रोडक्शन हाउस ‘क्लीन स्लेट’ से आई है. क्लीन स्लेट से ही अनुष्का शर्मा ने ‘एनएच 10’ बनाई थी. ज़मीन पर पड़े तड़पते विलेन के सामने बैठकर सिगरेट पीती हिरोइन, जो सिगरेट खत्म होने के बाद उसे मार डालने वाली है. निर्माता और हिरोइन के रूप में जिस तरह का रूपक और श्लेष अनुष्का ने ‘एनएच 10’ में बांधा था इस बार भी लोगों को कुछ उसी तरह की आशाएं होंगी, मगर ट्रेलर बताता है कि फिल्म का मिज़ाज़ पूरी तरह से अलग होगा. ट्रेलर की शुरुआत होती है सूरज शर्मा के किरदार के मांगलिक दोष के चलते पेड़ से शादी करने की बात से. सूरज हॉलीवुड फिल्म ‘लाइफ ऑफ पाई’ से जाने जाते हैं जिसमें शेर रिचर्ड पार्कर के साथ समंदर में बहुत दिनों तक उनके किरदार पाई के सरवाइव करने की कहानी थी. अब ‘फिल्लौरी’ में वे बिलकुल अलग अंदाज में हैं. उनके पात्र की शादी जिस पेड़ से होती है उस पर अनुष्का के कैरेक्टर का भूत होता है. वो भूत अपना पति सूरज को मान लेती है. इसके बाद कुछ मज़ेदार वन लाइनर सुनाई देते हैं जिनकी टाइमिंग आपको हंसा देती है.

अनुष्का ने भूत का किरदार किया है जो आमतौर पर हीरोइन्स नहीं करती हैं. क्योंकि दर्शकों के लिए इसे स्वीकार करना मुश्किल होता है. जैसे ‘तलाश’ में करीना कपूर खान ने किया तो बॉक्स ऑफिस पर उसका खास नतीजा नहीं रह पाया. ये उनके यादगार किरदारों में भी नहीं गिना जाना है. ‘फिल्लौरी’ कॉमेडी-ड्रामा जॉनर में है एेसे में देखते हैं अनुष्का के पात्र को लोग कैसे लेते हैं?

तो, आप ‘फिल्लौरी’ का ट्रेलर देखते हुए गुदगुदा रहे होते हैं तभी मिजाज़ बदल देता है. पंजाब का कस्बा फिल्लौर और दिलजीत दोसांझ आ जाते हैं. ‘उड़ता पंजाब’ से हिंदी सिनेमा में डेब्यू करने वाले दिलजीत पंजाब के सुपरस्टार हैं. ट्रेलर में उनकी गायकी वाली पहचान को बड़े सलीके से इस्तेमाल किया गया है. पुराना ब्रिटिश दौर का पंजाब और बैकग्राउंड में गाना बज रहा है, “साहेबा, चल वहां जहां मिर्ज़ेया”. आप कुछ सेकेंड में नॉस्टेल्जिया में पहुंच जाते हैं. प्रेमिका से लौटने का वादा करके गया बिदेस गया प्रेमी. हीर-रांझा, शीरीं-फरहाद जैसी प्रेम कहानियों के कई किस्से आपके ज़ेहन में चमक जाते हैं. नए और पुराने पंजाब के विज़ुअल और ड्रम के साथ मिलकर बजते ढोल के साथ आप कैस्पर और चमत्कार के बारे में सब भूल जाते हैं. तभी अचानक से कुछ होता है जो आपको फिर भूत वाली कॉमेडी में वापस ले आता है.

ट्रेलर अच्छा लगता है. इसके विवरण में भी लिखा है ‘आउट एंड आउट फैमिली एंटरटेनर.’ इसे देखते हुए ‘चमत्कार’, ‘कैस्पर’ और ‘घोस्ट’ जैसी फिल्में याद आ जाती हैं मगर इनका याद आना खलता नहीं है. भूत और इंसान के बीच के हल्के-फुल्के संबंध को लेकर काफी पहले से लिखा जा चुका है. टैगोर की भी कहानियां हैं, जिसमें भूत अपनी प्रेम कहानी लोगों के साथ साझा करते हैं.

एक बात और, सरसों के खेतों की जगह गेंहू की बालियों के शॉट पंजाब की क्लीशेड फिल्मी इमेज से बचा ले जाते हैं. ‘फिल्लौरी’ 24 मार्च को रिलीज हो रही है.


ये भी पढ़ें :

अनिल कपूर के बेटे की बात पंजाबी सुपरस्टार दिलजीत को insecure करने वाली है

रंगून’ के ट्रेलर में ही इतनी गलतियां!

पीएनएस गाज़ी को डुबाने की कहानी लेकर आ रहे हैं करण जौहर

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

'बुलबुल' ट्रेलर: देखकर लग रहा है ये बिल्कुल वैसी फिल्म है, जैसी एक हॉरर फिल्म होनी चाहिए

डर भी, रहस्य भी, रोमांच भी और सेंस भी. ऐसा लग रहा है कि फिल्म 'परी' से भी ज्यादा डरावनी होगी.

इस आदमी पर से भरोसा उसी दिन उठ गया था, जब इसने सनी देओल का जीजा बनकर उन्हें धोखा दिया था

परदे पर अब तक 182 बार मर चुका है ये एक्टर.

'गो कोरोना गो' वाले रामदास आठवले की कही आठ बातें, जिन्हें सुनकर दिमाग चकरा जाए

अब आठवले ने चायनीज फूड के बहिष्कार की बात कही है.

विदेशी मीडिया को क्यों लगता है कि भारत-चीन सीमा पर हालात बेकाबू हो सकते हैं?

सब जगह लद्दाख झड़प की चर्चा है.

वो 7 इंडियन एक्टर्स/सेलेब्रिटीज़, जिन्होंने आत्महत्या कर ली थी

इस लिस्ट में लीजेंड्स से लेकर स्टार्स सब शामिल हैं.

सुशांत सिंह राजपूत के 50 ख्वाब, जो उन्होंने पर्चियों में लिख रखे थे

उनके ख्वाबों की लिस्ट में उनके व्यक्तित्व का सार छुपा हुआ है.

डेथ से पहले इन 5 प्रोजेक्ट्स पर काम कर रहे थे सुशांत सिंह राजपूत

इनमें से एक फिल्म अगले कुछ दिनों में रिलीज़ होने वाली है, जो सुशांत के करियर की आखिरी फिल्म होगी.

इंडियन आर्मी ऑफिसर्स पर बन रही 7 फिल्में, जिन्हें देखकर छाती चौड़ी हो जाएगी

इन फिल्मों में इंडिया के सबसे बड़े सुपरस्टार्स काम कर रहे हैं.

ये FICCI, ASSOCHAM, CII वगैरह सुनाई तो खूब देते है, पर होते क्या हैं?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 11 जून को इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स (ICC) के सेशन को संबोधित किया.

बड़े बजट और सुपरस्टार्स वाली वो 5 फिल्में, जो किसी भी हाल में ऑनलाइन रिलीज़ नहीं होंगी

ये 2020 की सबसे बड़ी और बहुप्रतीक्षित फिल्में हैं.