Submit your post

Follow Us

राज कपूर के नवासे की फिल्म 'हैलो चार्ली', जो समझ नहीं आ रहा बड़ों के लिए है या बच्चों के लिए

एक नई कॉमेडी पिक्चर ‘हैलो चार्ली’ का ट्रेलर आया है. 2 मिनट तीस सेकंड का ट्रेलर है. जिसमें दो मिनट हंसाने की कोशिश की जा रही है. जिसमें से 30 सेकंड हमें हंसी आई भी  है. बाकी के टाइम  क्यों नहीं आती. आइये बताते हैं.

#स्टोरी

एक अरबपति है एम. डी मकवाना. बैंकों से करोंड़ों का लोन लेकर विदेश चंपत होने की फ़िराक में है. पुलिस पूरे शहर में नाकाबंदी कर के उसकी तलाश में लगी है. मकवाना अपनी गर्लफ्रेंड से कहता है उसे वो किसी तरह दीयु द्वीप तक पहुंचवा दे. जहां से वो विदेश निकल लेगा. गर्लफ्रेंड कहती है कि वो उसे गोरिल्ला का सूट पहना कर पिंजरे में डालकर दीयु पहुंचवा सकती है. मकवाना को आइडिया में दम लगता है. और वो रेडी हो जाता है. इस काम को सौंपा जाता है मुंबई हीरो बनने आए चार्ली को जो कभी वेटर, तो कभी कुरियर सर्विस जैसे कामों को कर के स्ट्रगल कर रहा होता है. वहीँ दूसरी तरफ़ जहां से चार्ली को मकवाना को पिक करना होता है, वहां एक कार्गो प्लेन क्रैश हो जाता है. प्लेन में से तोतो नाम का असली गोरिल्ला पिंजरा तोड़ भग लेता है. चार्ली जब पिकअप लोकेशन पर पहुंचता है, तो वो असली गोरिल्ला को मकवाना समझ कर अपने साथ रख लेता है. इधर गोरिल्ला भागने की खबर पाकर फॉरेस्ट डिपार्टमेंट से आए दो लोग मकवाना को गोरिल्ला समझ कर पकड़ लेते हैं. इस अदला-बदली से इन सबके जीवन में जो टंटे होते हैं, उसी की कहानी है ‘हैलो चार्ली’.

#ट्रेलर कैसा है

ये एक ‘कॉमेडी ऑफ़ एरर’ फ़िल्म है. एक वयस्क के तौर पर तो फ़िल्म का ट्रेलर उतना फनी नहीं लगता. मगर हर फ़िल्म को सिर्फ बड़ों की नज़र से देखना भी ठीक नहीं है. बच्चों के हिसाब से ट्रेलर में कुछ सीन हैं, जो हंसाएंगे. लेकिन मेकर्स ने इसमें आइटम नंबर डाला है और कुछ और भी सीन हैं जो बच्चों की फ़िल्म में होने की वजह समझ नहीं आती. मतलब मेकर्स ने ‘हैलो चार्ली’ हर उम्र के दर्शक को लुभाए ऐसी फ़िल्म बनाने की कोशिश की है. जो कि ट्रेलर से तो इतनी सफ़ल नहीं लगती. ये सब तो ‘बेबीज़ डे आउट’ में उस 90s के ज़माने में हो रहा था. ऊपर से कोई खास पंच या बेहद फनी सिचुएशन भी नहीं दिखी, जो हंसी छुड़वा सके. कुल जमा बात ये कि मज़ा नहीं आया.

#एक्टर्स कौन कौन हैं

आदर जैन इसमें चार्ली का मेन रोल प्ले कर रहे हैं. आदर जैन, राज कपूर के नवासे हैं और करिश्मा-करीना-रणबीर के कज़िन. ट्रेलर में तो आदर उतना इम्प्रेस नहीं करते. घोटालेबाज मकवाना के रोल में जैकी श्रॉफ हैं. जग्गू दादा को ऐसे किरदारों में हम देखते हुए बड़े हुए हैं. जो अब उबाने लगे हैं. इनकी गर्लफ्रेंड के रोल में एल्नाज़ हैं. जिन्हें आपने ‘सेक्रेड गेम्स’ में ज़ोया मिर्ज़ा के किरदार में देखा है. फ़िल्म में राजपाल यादव फॉरेस्ट अफ़सर का रोल निभा रहे हैं. ट्रेलर में यही हैं जो इत्तु सा हंसा पाते हैं. ट्रेलर में गिरीश कुलकर्णी भी दिखाई दिए हैं. और गोरिल्ला का नाम तो हमें भी नहीं पता भैया.

राजपाल यादव एक सीन में.
राजपाल यादव एक सीन में.

#किसने बनाई है

‘हैलो चार्ली’ को डायरेक्ट किया है पंकज सारस्वत ने. पंकज एक्टिंग भी करते हैं. हाल ही में ‘क्रिमिनल जस्टिस’ में दिखे थे. फ़िल्म लिखी भी पंकज ने ही है. 2005 में राजपाल यादव की ‘मैं मेरी पत्नी और वो’ भी उन्होंने ही लिखी थी. ‘हैलो चार्ली’ फ़रहान अख्तर और रितेश सिधवानी की कंपनी एक्सेल एंटरटेनमेंट के अंडर बनी है.

#कब आएगी

9 अप्रैल को अमेज़न प्राइम वीडियो पर वर्ल्ड प्रीमियर होगा. अगर सब्सक्रिप्शन हो तो देख लीजिए. नहीं हो तो स्पेशल सब्सक्रिप्शन लेकर देखने वाली चीज़ तो लग नहीं रही है.


ये स्टोरी दी लल्लनटॉप में इंटर्नशिप कर रहे शुभम ने लिखी है.


वीडियो: शाहरुख और अजय पहली बार ऐड में साथ नज़र आए, लोगों ने कहा-ये क्या है!

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

जनता कर्फ्यू के एक साल पूरे होने पर ये वीडियो नहीं देखे तो क्या देखा

जनता कर्फ्यू के एक साल पूरे होने पर ये वीडियो नहीं देखे तो क्या देखा

वीडियो देखिए और याद करिए कि आप क्या कर रहे थे.

दीवार पर चिपका केला 85 लाख का, सेलेब्रिटी की इस्तेमाल की प्रेग्नेंसी किट साढ़े 3 लाख की

दीवार पर चिपका केला 85 लाख का, सेलेब्रिटी की इस्तेमाल की प्रेग्नेंसी किट साढ़े 3 लाख की

वो मौके, जब एकदम फालतू चीज़ें लाखों में बिक गईं.

गोविंदा की इन दस फिल्मों के साथ हैप्पी डे को और हैप्पी बनाएं

गोविंदा की इन दस फिल्मों के साथ हैप्पी डे को और हैप्पी बनाएं

प्रॉब्लम है ? यहां सॉल्यूशन है.

अलका याग्निक के 36 लुभावने गानेः जिन्हें गा-गाकर बरसों लड़के-लड़कियों ने प्यार किया

अलका याग्निक के 36 लुभावने गानेः जिन्हें गा-गाकर बरसों लड़के-लड़कियों ने प्यार किया

20 मार्च को उनके बर्थडे पर उनकी ये यादें.

क्रिकेट के वो अजीब नियम जिन्हें बनाने वाले ही बोलते होंगे, ये क्या बना दिया!

क्रिकेट के वो अजीब नियम जिन्हें बनाने वाले ही बोलते होंगे, ये क्या बना दिया!

सॉफ्ट सिग्नल के आगे-पीछे भी बहुत से नियम हैं.

EMS नंबूदिरीपाद, वो शख्स जिसने दुनिया में लेफ्ट की पहली चुनी हुई सरकार बनाई

EMS नंबूदिरीपाद, वो शख्स जिसने दुनिया में लेफ्ट की पहली चुनी हुई सरकार बनाई

10 पॉइंट्स में जानिए नंबूदिरीपाद की कहानी.

हनी सिंह के वो 6 गाने, जिनमें शराब या लड़की नहीं है और जो बहुत कम लोगों ने सुने होंगे

हनी सिंह के वो 6 गाने, जिनमें शराब या लड़की नहीं है और जो बहुत कम लोगों ने सुने होंगे

यकीन ही नहीं होगा कि ये हनी सिंह के गाने हैं.

बुमराह से पहले ये क्रिकेटर भी टीवी प्रेज़ेंटर्स पर दिल हार चुके हैं

बुमराह से पहले ये क्रिकेटर भी टीवी प्रेज़ेंटर्स पर दिल हार चुके हैं

इनमें सबसे ज़्यादा किस देश के हैं?

आउट होने का वो तरीका जिस पर पाकिस्तानियों का नाम छपा है!

आउट होने का वो तरीका जिस पर पाकिस्तानियों का नाम छपा है!

विकेट मिलता है, लेकिन एक बार को फील्डर बौखला जाता है.

जब एक लड़की के चक्कर में आमिर ने बाल मुंडा लिए

जब एक लड़की के चक्कर में आमिर ने बाल मुंडा लिए

उसी हालत में ही मिल गई पहली फिल्म.