Submit your post

Follow Us

'बुलबुल' ट्रेलर: देखकर लग रहा है ये बिल्कुल वैसी फिल्म है, जैसी एक हॉरर फिल्म होनी चाहिए

एक फिल्म आ रही है, नाम है ‘बुलबुल’. बुलबुल एक तरह का पक्षी होता है. सुरीली आवाज़ के लिए फेमस है. बॉलीवुड के कई गानों में ‘बुलबुल’ शब्द का इस्तेमाल हुआ है. अब इस नाम की एक फिल्म आ रही है. अभी-अभी इसका ट्रेलर भी रिलीज़ हुआ है. इस ट्रेलर में क्या खास है, इससे फिल्म की कहानी का कितना आइडिया लग रहा है, कौन-कौन हैं इस फिल्म में? एक-एक करके सब बताते हैं.

कहानी क्या है?

ट्रेलर की शुरुआत होती है दुल्हन की डोली और चुड़ैल की कहानी से. बंगाल का एक गांव है. बुलबुल नाम की एक बच्ची, दुल्हन के लिबास में है, अपनी उम्र के सत्या नाम के एक लड़के के साथ डोली में बैठी हुई है. सत्या उसे उल्टे पैर वाली एक चुड़ैल की कहानी सुना रहा है. अगले सीन में बुलबुल अपने ससुराल के एक कमरे में बैठी है, बड़ी सी हवेली है, उसे लगता है कि उसकी शादी सत्या से हुई है, लेकिन बाद में पता चलता है कि शादी सत्या के बड़े भाई महेंद्र से हुई है, जो कि उम्र में बुलबुल से काफी बड़ा है. फिर कहानी कुछ साल आगे बढ़ जाती है. बुलबुल और सत्या बड़े हो जाते हैं. बुलबुल मन ही मन सत्या से ही प्यार करती है. ट्रेलर से ये समझ आया है कि महेंद्र की पहले से ही एक पत्नी और रहती है, जो ये बात जानती है कि बुलबुल सत्या से प्यार करती है.

Bulbbul 5
छोटी बुलबुल को चुड़ैल की कहानी सुनाता सत्या.

एक दिन अचानक महेंद्र की हत्या हो जाती है. सत्या तब शायद किसी दूसरे शहर में रहता है. बुलबुल उससे कहती है कि चुड़ैल ने महेंद्र को मारा है. इसी दौरान गांव के कुछ और आदमियों के भी मर्डर होते जाते हैं. सत्या इन हत्याओं के पीछे के कारण खोजने निकलता है. उसकी मदद गांव का ही एक व्यक्ति करता है. इसी दौरान कई सारे राज उसके सामने आते जाते हैं. शक ट्रेलर के सभी किरदारों के ऊपर जाता दिखता है. खासतौर पर बुलबुल के ऊपर. ये दिखाया गया है कि सच बुलबुल के रहस्यमयी पास्ट से जुड़ा हुआ है. सत्या सच पता लगा पाता है या नहीं, यही फिल्म की कहानी है.

Bulbbul 9
महेंद्र के रोल में राहुल बोस. अपनी दुल्हन से बात करते हुए.

ट्रेलर कैसा है?

डरावना तो है, लेकिन ट्रेलर में डरावनेपन से कहीं ज्यादा सस्पेंस नज़र आता है. सत्या को छोड़कर बाकी सारे किरदारों को देखकर लगता है कि इनके अंदर रहस्यों का कुआं खुदा होगा. सबसे ज़्यादा बुलबुल का किरदार रहस्यमयी नज़र आया. शांत, समझदार, दिल में प्यार, सारी सच्चाई, सारी बातें जानने वाला. ये सबकुछ बुलबुल के चेहरे पर पूरे ट्रेलर में दिखाई दिया.

ट्रेलर का पहला हिस्सा फिल्म की कहानी क्या है, ये बताने की कोशिश करता है, लेकिन दूसरा हिस्सा कई सारी तस्वीरों, छोटे-छोटे शॉट्स और बहुत तेज़ म्यूज़िक के गुच्छे की तरह लगा. इतना समझ आया कि हर किसी किरदार का राज खुलते-खुलते महेंद्र की हत्या करने वाले का पता चलेगा. और ये पता चलेगा कि गांव में असल में किसी चुड़ैल का साया है या नहीं. यानी एक लाइन में कहें तो ये फिल्म भूत-प्रेत की घिसी-पिटी कहानी वाली फिल्मों से हटकर होगी, कुछ नया दिखाएगी.

Bulbbul 4
सत्या और बुलबुल. बुलबुल बचपन से ही सत्या को चाहती है.

फिल्म में है कौन-कौन?

तृप्ती डिमरी और अविनाश तिवारी– ये दोनों बुलबुल और सत्या बने हैं. ये जोड़ी इसके पहले साल 2018 में आई फिल्म ‘लैला-मजनू’ में दिख चुकी है. इसके पहले तृप्ती साल 2017 में आई फिल्म ‘पोस्टर बॉयज़’ में कुछ देर के लिए दिखी थीं. यानी ‘बुलबुल’ तृप्ती की तीसरी फिल्म है, लीड रोल के हिसाब से दूसरी.

अविनाश तिवारी वैसे तो 2005 से ही शॉर्ट फिल्में कर रहे हैं, लेकिन उन्हें भी बड़ा ब्रेक ‘लैला-मजनू’ से ही मिला. उसके बाद नेटफ्लिक्स की हॉरर फिल्म ‘घोस्ट स्टोरीज़’ में भी दिखे. ‘बुलबुल’ के अलावा ‘दी गर्ल ऑन दी ट्रेन’ फिल्म में भी हैं. फिल्म का रिलीज़ होना कोरोना वायरस संकट की वजह से टल गया.

Bulbbul 1
अविनाश तिवारी सत्या के रोल में.

राहुल बोस- महेंद्र के रोल में हैं. कई फिल्में कर चुके हैं. ‘प्यार के साइड इफेक्ट्स’, ‘चमेली, ‘विश्वरूपम (एक और दो, दोनों में ही)’ थे. कुछ अलग तरह का सिनेमा पसंद करने वाले लोग राहुल बोस को काफी अच्छे से जानते होंगे. पिछले साल पांच सितारा होटल में केले ऑर्डर करने वाला मामला काफी चर्चा में रहा था. हुआ ये था कि राहुल ने सितंबर 2019 में राहुल एक पांच सितारा होटल में गए थे, वहां उन्होंने दो केले मंगवाए, बिल आया 442 रुपए का, जिसे राहुल ने सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया. कापी हंगामा हुआ. जिसके बाद होटल पर 25 हज़ार रुपए का जुर्माना भी लगा था.

पाउली दाम- शायद महेंद्र की पहली पत्नी बनी हैं. 2006 में बंगाली फिल्मों के ज़रिए एक्टिंग की शुरुआत की थी. बॉलीवुड में पहली फिल्म 2012 में की, ‘हेट स्टोरी’ पहली हिंदी फिल्म थी, जिससे पाउली की बॉलीवुड में भी अच्छी पहचान मिली. उसके बाद से बंगाली फिल्मों के साथ-साथ हिंदीं फिल्में भी कर रही हैं.

Bulbbul 7
बुलबुल के साथ आरती करता पाउली दाम का किरदार.

परमब्रता चटर्जी- महेंद्र के हत्यारे का पता लगाने में सत्या की मदद करने वाले आदमी का रोल किया है. अनुष्का शर्मा की ‘परी’ फिल्म में भी लीड रोल में थे. ‘अरनब’ का किरदार निभाया था. 2002 से बंगाली सिनेमा में एक्टिव हैं. ‘परी’ के अलावा ‘यारा सिली-सिली’, ‘ट्रैफिक’ जैसी हिंदी फिल्मों में काम कर चुके हैं.

Bulbbul 2
परमब्रता चटर्जी का किरदार. सत्या को सच्चाई पता लगाने में ये किरदार मदद करता दिखा है.

किसने बनाई?

डायरेक्टर हैं अनविता दत्त. फिल्मों के लिए डायलॉग्स भी लिखती हैं, स्टोरी राइटर हैं, गाने भी लिखती हैं. करियर की शुरुआत एडवरटाइज़िंग इंडस्ट्री से की थी, 14 साल तक वहां काम करने के बाद यश राज फिल्म्स से जुड़ीं. स्क्रीनराइटर और लिरिसिस्ट के तौर पर काम करने लगीं. धर्मा प्रोडक्शन्स के साथ भी काम किया है. 2014 में आई ‘क्वीन’ फिल्म के भी कुछ गाने लिखे थे, डायलॉग्स भी लिखे थे.

प्रोड्यूसर हैं- एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा. ‘बुलबुल’ को उनके प्रोडक्शन हाउस ‘क्लीन स्लेट फिल्म्स’ ने प्रोड्यूस किया है. ये प्रोडक्शन हाउस अब तक चार फिल्म और एक सीरीज़ प्रोड्यूस कर चुका है. चार में से तीन फिल्में, आत्माओं और भूत-प्रेत से जुड़ी हुई हैं. जैसे 2017 में आई ‘फिल्लौरी’, 2018 में आई ‘परी’ और अब ‘बुलबुल’. ‘फिल्लौरी’ और ‘परी’ में तो अनुष्का खुद लीड रोल में थीं. एक में आत्मा बनी थीं, एक में पिशाच इफरित की बेटी बनी थीं, लेकिन दोनों को ही दिल से अच्छा बताया था. लगता है कि अनुष्का को आत्मा, भूत-प्रेत से जुड़ी फिल्में पसंद हैं.

Bulbbul
एक सीन में सत्या आग के बीच चीखता हुआ.

कब आ रही है ‘बुलबुल’?

24 जून को नेटफ्लिक्स पर. NDTV के मुताबिक, नेटफ्लिक्स ने नवंबर 2018 में इंडिया से नौ ओरिजनल फिल्म बनाने का ऐलान किया था. इनमें से एक बुलबुल भी थी. यानी ऐसा नहीं है कि ये पहले थियेटर में रिलीज़ होने वाली हो, और कोरोना के चलते नेटफ्लिक्स पर आ रही हो, ये पहले से ही तय था कि ‘बुलबुल’ नेटफ्लिक्स पर ही रिलीज़ होगी, क्योंकि ये नेटफ्लिक्स की ओरिजनल फिल्म है.

‘बुलबुल’ का ट्रेलर देखकर लगता है कि फिल्म अनुष्का की ‘परी’ को मात दे सकती है. ट्रेलर हमें तो अच्छा लगा, आप भी देखिए-


वीडियो देखें: पाताल लोक वेबसीरीज़ बनने की पूरी कहानी डायरेक्टर से समझ लीजिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

फ़िल्म रिव्यूः गुलाबो सिताबो

विकी डोनर, अक्टूबर और पीकू की राइटर-डायरेक्टर टीम ये कॉमेडी फ़िल्म लेकर आई है.

फिल्म रिव्यू: चिंटू का बर्थडे

जैसे हम कई बार बातचीत में कह देते हैं कि 'ये दुनिया प्यार से ही जीती जा सकती है', उस बात को 'चिंटू का बर्थडे' काफी सीरियसली ले लेती है.

फ़िल्म रिव्यूः चोक्ड - पैसा बोलता है

आज, 5 जून को रिलीज़ हुई ये हिंदी फ़िल्म अनुराग कश्यप ने डायरेक्ट की है.

फिल्म रिव्यू- ईब आले ऊ

साधारण लोगों की असाधारण कहानी, जो बिलकुल किसी फिल्म जैसी नहीं लगती.

इललीगल- जस्टिस आउट ऑफ़ ऑर्डर: वेब सीरीज़ रिव्यू

कहानी का छोटे से छोटा किरदार भी इतनी ख़ूबसूरती से गढ़ा गया है कि बेवजह नहीं लगता.

बेताल: नेटफ्लिक्स वेब सीरीज़ रिव्यू

ये सीरीज़ अपने बारे में सबसे बड़ा स्पॉयलर देने से पहले स्पॉयलर अलर्ट भी नहीं लिखती.

पाताल लोक: वेब सीरीज़ रिव्यू

'वैसे तो ये शास्त्रों में लिखा हुआ है लेकिन मैंने वॉट्सऐप पे पढ़ा था.‘

इरफ़ान के ये विचार आपको ज़िंदगी के बारे में सोचने पर मजबूर कर देंगे

उनकी टीचर ने नीले आसमान का ऐसा सच बताया कि उनके पैरों की ज़मीन खिसक गई.

'पैरासाइट' को बोरिंग बताने वाले बाहुबली फेम राजामौली क्या विदेशी फिल्मों की नकल करते हैं?

ऐसा क्यों लगता है कि आरोप सही हैं.

रामायण में 'त्रिजटा' का रोल आयुष्मान खुराना की सास ने किया था?

रामायण की सीता, दीपिका चिखालिया ने किए 'त्रिजटा' से जुड़े भयानक खुलासे.