Submit your post

Follow Us

दिलीप कुमार के 20 अप्रतिम डायलॉग, जो याद दिलाएंगे कि वो क्या करिश्माई हस्ती थे

मुझे तो होश नहीं आप ही मशविरा दीजिए,
कहां से छेड़ूं फसाना कहां तमाम करूं

07 जुलाई 2021 की सुबह का आगाज़ एक युग के अंत के साथ हुआ. अभिनेता दिलीप कुमार के सांसारिक बंधनों से मुक्त हो जन्नतनशी होने की खबर मिली. देश भर में शोक की लहर दौड़ गई. दिलीप साब अब सुपुर्द-ए-खाक हो चुके हैं.

लेकिन पीछे छोड़ गए हैं अपने कुशल अभिनय का एक बेहद ही ‘सुहाना सफ़र’. एक ऐसा सफ़र जिसकी हर फ़िल्म एक मील का पत्थर है. अभिनेताओं के लिए उनकी फ़िल्में वो कुंजी है जिसके सहारे अदायगी की बारीकियां सीखी जा सकती हैं. तो वहीं एक आम दर्शक उनके जीवन से संवेदना, उदारता और इंसानियत का पाठ सीख सकता है. यूसुफ खान एक ऐसे अदाकार, जो अपनी आत्मकथा सिर्फ इसलिए नहीं लिखना चाहते थे क्यूंकि उन्हें बार-बार ‘I’ शब्द का इस्तेमाल करना पड़ता. वो ‘मैं’ में नहीं ‘हम’ में यकीन रखते थे. वो नाम में नहीं काम में यकीन रखते थे. जितने गहरे वो असल जीवन में थे वैसे ही गहरे किरदार उन्होंने रुपहले पर्दे पर निभाए.

आज हमने दिलीप साब की याद में उनके कुछ यादगार किरदारों के संवादों को एक जगह एकत्रित किया है. आप भी पढ़ें.

#1

01 (2)


#2

02 (3)


#3

03 (2)


#4

04 (3)


#5

05 (2)


#6

06 (7)


#7

07 (2)


#8

08 (3)


#9

09 (2)


#10

10 (3)


#11

11


#12

12 (3)


#13

13


#14

14 (5)


#15

15 (3)


#16

16


#17

17 (1)


#18

18


#19

19


#20

20


ये स्टोरी दी लल्लनटॉप में इंटर्नशिप कर रहे शुभम ने लिखी है.


वीडियो: वैजयंतीमाला ने दिलीप कुमार के लिए बनाए वीडियो में भावुक कर दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

Malik ट्रेलर में फहाद फाज़िल की क्रूरता देख खौफज़दा हो जाएंगे

Malik ट्रेलर में फहाद फाज़िल की क्रूरता देख खौफज़दा हो जाएंगे

ये आदमी सही काम, गलत तरीके से करता है. 'मलिक' ट्रेलर की खास बातें पढ़ते चलिए.

फिल्म रिव्यू: द टुमॉरो वॉर

फिल्म रिव्यू: द टुमॉरो वॉर

'एवेंजर्स' वाले क्रिस प्रैट क्या इस बार दुनिया को बचा पाए?

फिल्म रिव्यू- कोल्ड केस

फिल्म रिव्यू- कोल्ड केस

हर फिल्म को देखने के बाद एक भाव आता है, जो आपके साथ रह जाता है. मगर 'कोल्ड केस' को देखने के बाद आप श्योर नहीं हो पाते कि वो भाव क्या है.

वेब सीरीज़ रिव्यू: ग्रहण

वेब सीरीज़ रिव्यू: ग्रहण

1984 के सिख दंगों पर बनी ये सीरीज़ आज भी रेलवेंट है.

मूवी रिव्यू: जगमे थंदीरम

मूवी रिव्यू: जगमे थंदीरम

धनुष की जिस फिल्म को लेकर इतना हाईप था, वो आखिर है कैसी?

मूवी रिव्यू- शेरनी

मूवी रिव्यू- शेरनी

जानिए 'न्यूटन' फेम अमित मसुरकर और विद्या बालन ने साथ मिलकर क्या बनाया है!

मूवी रिव्यू: स्केटर गर्ल

मूवी रिव्यू: स्केटर गर्ल

फिल्म को देखकर दिमाग नहीं घूमेगा, बस बिज़ी लाइफ में ठहराव महसूस होगा.

वेब सीरीज़ रिव्यू- सनफ्लावर

वेब सीरीज़ रिव्यू- सनफ्लावर

अच्छे एक्टर्स की शानदार परफॉरमेंस से लैस ये सीरीज़ एक सुनहरा मौका गंवाती सी लगती है.

तापसी पन्नू की 'हसीन दिलरुबा' का ट्रेलर तो बहुत जबराट है

तापसी पन्नू की 'हसीन दिलरुबा' का ट्रेलर तो बहुत जबराट है

बड़े दिन बाद मार्केट में मर्डर मिस्ट्री आई है.

सत्यजीत रे की कहानियों पर आधारित सीरीज़ 'रे', जिसमें इंडस्ट्री के कमाल एक्टर्स की ज़बरदस्त भीड़ है

सत्यजीत रे की कहानियों पर आधारित सीरीज़ 'रे', जिसमें इंडस्ट्री के कमाल एक्टर्स की ज़बरदस्त भीड़ है

मनोज बाजपेयी, के के मेनन, गजराज राव, अली फ़ज़ल, क्या-क्या नाम गिनाएं!