Submit your post

Follow Us

आयुर्वेद बनाम एलोपैथ की लड़ाई में अक्षय कुमार को लाना बाबा रामदेव को भारी पड़ गया

बाबा रामदेव. पिछले कुछ दिनों से लगातार न्यूज़ में हैं. वजह है उनका एक वीडियो. जहां वो एलोपैथी विज्ञान की बुराई कर रहे हैं. उसे ‘स्टूपिड साइंस’ बता रहे हैं. वीडियो बाहर आने के बाद इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) ने कड़ा रुख अपनाया. बाबा रामदेव के खिलाफ स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को लेटर लिखा. खुद रामदेव को भी अपने बयान पर माफी मांगने के लिए नोटिस भेजा. रामदेव भी लगातार पलटवार करते जा रहे हैं. कभी एलोपैथी डॉक्टरों को सवालों की चिट्ठी भेज देते हैं. तो कभी अपनी बात कहने के लिए कोई पुराना वीडियो शेयर कर देते हैं.

अब अपना पक्ष मज़बूत करने के लिए बाबा रामदेव ने अक्षय कुमार का एक वीडियो शेयर किया. कैप्शन में अक्षय को कोट करते हुए लिखा,

आप अपनी बॉडी के खुद ब्रांड एम्बेसडर बनें. सिंपल और हेल्दी लाइफ जिएं. दुनिया को दिखा दें कि हमारे हिंदुस्तानी योग और आयुर्वेद में जो ताकत है, वह किसी अंग्रेज़ के केमिकल इंजेक्शन में नहीं है.

दरअसल अक्षय कुमार का ये वीडियो काफी पुराना है. हम आपको बताते हैं कि अक्षय ने वीडियो में क्या कहा है. अक्षय ने ये वीडियो 22 फ़रवरी, 2017 को अपने सोशल मीडिया पर शेयर किया था. उस दौरान वो आयुर्वेदिक थेरपी सेशन से लौटे थे. अपना अनुभव शेयर करते हुए उन्होंने बताया कि शायद हमें अंदाज़ा नहीं है कि आयुर्वेद के रूप में भगवान ने हमारे देश को कितना बड़ा खज़ाना दिया है. अक्षय आगे कहते हैं,

हम इस खज़ाने की कद्र नहीं कर रहे. हम अंग्रेजी दवाई की गोलियां खाकर, प्रोटीन शेक पीकर, स्टेरॉइड के इंजेक्शन लेकर जीने को जीना समझ रहे हैं. जिन विदेशी लोगों का इलाज हम अपना रहे हैं, वो विदेशी लोग हमारे देश में आकर आयुर्वेद से अपना ट्रीट्मेंट करवा रहे हैं. मुझे एलोपैथिक दवाइयों से कोई दिक्कत नहीं. वो अपनी जगह सही हैं. लेकिन हम अपने पारंपरिक दवा के तरीकों को क्यों भूल रहे हैं.

अक्षय ने आगे बताया कि हर आयुर्वेदिक इलाज के पीछे पक्का लॉजिक है. कहा कि हमारे पास बेस्ट इलाज है, फिर भी हम विदेशों में इलाज ढूंढते फिरते हैं. अपनी बात पूरी करते हुए अक्षय ने लोगों से अपील की कि अपनी बॉडी का ब्रांड एम्बेसडर वो खुद बनें. वीडियो समाप्त हुआ. लेकिन ये मामला नहीं. दरअसल, अक्षय कुमार इसी 04 अप्रैल को कोविड पॉज़िटिव पाए गए थे. जिसके बाद वो इलाज के लिए मुंबई के हीरानंदानी हॉस्पिटल में एडमिट हुए थे. ऑल्ट न्यूज़ के को-फाउंडर प्रतीक सिन्हा भी अक्षय कुमार का पुराना वीडियो खोज लाए. साथ में लिखा कि रामदेव ने अक्षय कुमार का 2017 वाला एक वीडियो शेयर किया है. आगे लिखा कि इत्तेफाक से जब अक्षय खुद कोरोना संक्रमित पाए गए, तो उन्होंने रामदेव के आश्रम की जगह मुंबई के हीरानंदानी हॉस्पिटल जाना बेहतर समझा.

लोगों ने भी यही बात बाबा रामदेव को याद दिलाई. कि आपने अक्षय कुमार का आयुर्वेद पर वीडियो तो शेयर कर दिया, बहुत अच्छी बात. लेकिन अक्षय ने तो खुद एलोपैथिक इलाज को महत्व दिया. एक यूज़र ने लिखा,

अक्षय कुमार, आप फिर स्वामी रामदेव के ऑफिस में एडमिट क्यों नहीं हुए? कोरोना पॉज़िटिव पाए जाने के बाद हीरानंदानी हॉस्पिटल क्यों गए?

दूसरे यूज़र ने लिखा,

बिल्कुल अपनी बॉडी के ब्रांड एम्बेसडर खुद बनें और व्यापारी रामदेव बाबा के झांसे में आ के पतंजलि प्रोडक्ट उपयोग करने की गलती न करें.

बिल्कुल अपने बॉडी के ख़ुद ब्रांड अम्बेसडर बने और व्यापारी रामदेव बाबा के झांसे में आके पतंजलि प्रोडक्ट उपयोग करने का गलती न करें। — Ballu (@huntbhai) May 31, 2021एक यूज़र ने बाबा रामदेव को कॉल आउट करते हुए लिखा,

बाबा प्रॉब्लम आयुर्वेदिक ट्रीटमेंट और योग से नहीं है. आप के फर्जीपने से है.

स्वामी रामदेव ने किसी वक्त कहा था कि काला धन आने पर पेट्रोल 35 रुपए प्रति लीटर पर मिलेगा. एक यूज़र ने इसपर बाबा जी से पूछा,

बाबा 35 रुपए लीटर पेट्रोल कहां मिल रहा है? बाबा 35 रुपए लीटर पेट्रोल कहा मिल रहा है? — Engineer Ladka (@choclatyLadka) May 31, 2021

ये पहला मौका नहीं

कमेंट सेक्शन में ये सिलसिला चलता रहा. कुछ बाबा रामदेव को डिफेंड कर रहे थे. तो बाकी उन्हें कॉल आउट करने में जुटे थे. ये पहला मौका नहीं है जब अपना पक्ष रखने के लिए बाबा रामदेव ने किसी सेलेब्रिटी का वीडियो शेयर किया हो. 29 मई को बाबा रामदेव ने अपने ट्विटर पर आमिर खान के शो ‘सत्यमेव जयते’ की एक क्लिप शेयर की थी.

वीडियो में आमिर खान एक हेल्थ एक्सपर्ट डॉ. समित शर्मा से मेडिकल दवाओं की कीमतों पर चर्चा कर रहे थे. वो आमिर खान और शो मैं बैठे दर्शकों को जेनेरिक दवाओं और बाजार में मिलने वाली ब्रैंडेड दवाओं की कीमतों के अंतर को समझाते हैं. डॉ. समित शर्मा ये भी बताते हैं कि आजादी के कई सालों बाद भी कई जरूरी दवाएं लोगों तक नहीं पहुंच पातीं. वीडियो कुछ साल पुराना है. लेकिन इसके आधार पर रामदेव ने ‘मेडिकल माफिया’ से कहा कि वो आमिर खान के खिलाफ मोर्चा खोलने की हिम्मत दिखाए.


वीडियो: रामदेव ने अगर ये बातें नहीं मानीं, तो उन पर 1000 करोड़ की मानहानि का केस हो जाएगा!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

इबारत : जवाहर लाल नेहरू की वो 15 बातें, जो देश को कभी नहीं भूलनी चाहिए

'दीवारों से तस्वीरें बदलकर इतिहास नहीं बदला जा सकता'.

मई-जून में आने वाली इन 13 फिल्मों और वेब सीरीज़ पर नज़र रखिएगा!

काफी डिले के बाद 'द फैमिली मैन' का दूसरा सीज़न भी रिलीज़ हो रहा है.

शरद जोशी की वो 10 बातें, जिनके बिना व्यंग्य अधूरा है

आज शरद जोशी का जन्मदिन है.

जूनियर एनटीआर की 10 जाबड़ फिल्में, जिन्होंने बॉक्स ऑफिस पर गदर मचा दिया

आज यानी 20 मई को जूनियर एनटीआर का 38वां जन्मदिन है.

अंतिम संस्कार जैसे सब्जेक्ट पर बनी ये 7 कमाल की फिल्में, जो आपको जरूर देखनी चाहिए

सत्यजीत राय से लेकर मृणाल सेन जैसे दिग्गजों की फिल्में शामिल हैं.

आर.के. नारायण, जिनका 'मालगुडी डेज़' देख मन में अलग धुन बजने लगती थी

स्वामी और उसके दोस्तों को देखते ही बचपन याद आता है.

TVF Aspirants के पांचों किरदारों की वो बातें, जो सीरीज़ में दिखीं पर आप नोटिस न कर पाए

SK, अभिलाष और गुरी तो ठीक हैं, मगर असली कहर संदीप भैया ने बरपाया है.

मंटो की वो 15 बातें, जो ज़िंदगी भर काम आएंगी

धर्म से लेकर इंसानियत तक, सब पर सब कुछ कहा है मंटो ने.

महाराणा प्रताप के 7 किस्से: जब वफादार मुसलमान ने बचाई उनकी जान

9 मई, 1540 को पैदा होने वाले महाराणा प्रताप की मौत 29 जनवरी, 1597 को हुई.

आपकी मम्मी का फेवरेट डायलॉग कौन सा है?

आने दो पापा को या आग लगे इस मोबाइल को?