Submit your post

Follow Us

विधायक से जुड़े आदमी विधायक हैं, गुंडई में कम कैसे होंगे!

सत्ता का गुंडई से सीधा संबंध है. पावर हाथ में आते ही जनप्रतिनिधियों के बेकाबू हो जाने की इतनी घटनाएं सामने आती हैं कि अब तो लोगों ने हैरान होना भी बंद कर दिया है. एक बार असेम्बली/संसद में आपका प्रवेश हो जाए बस, उसी लम्हे से नेताओं पर जैसे वीआईपीयत उतरती है. वो अपना कद दस गज का मान लेते हैं. ऐसे में सामान्य लोगों पर आयद होने वाले नियम-कानून उन पर कैसे लागू कर सकता है कोई? सोच भी कैसे सकता है?

ट्रैफिक के नियमों का पालन करना, टोल टैक्स देकर गुज़रना वगैरह-वगैरह तो सामान्य मनुष्यों के काम हैं. विधायक, सांसद तो इम्यून हैं इन सब चक्करों से. इतनी मेहनत कर के, इतने जुगाड़ लगा के तो चुन के आये हैं. वो क्या ऐसी छोटी-छोटी बातों में उलझे रहेंगे? अगर ऐसे ही वक़्त ज़ाया होता रहा तो जनता की सेवा कब करेंगे? टोल टैक्स पर रुक कर कितना वक़्त ख़राब होता है मालूम? और तो और ‘सैंया भये कोतवाल’ की तर्ज पर इन नेताओं का स्टाफ, भाई-भतीजे, ड्राईवर वगैरह-वगैरह भी वीआईपी बन जाते हैं. जैसे पुलिसवाले का पूरा कुनबा ही पुलिस होने का रिवाज़ है भारतवर्ष में, वैसे ही विधायक का हर करीबी अपने आप में विधायक होता है. ये सब भी नियम-क़ानून के बंधनों से परे हैं.

कुछ ऐसा ही हुआ गाज़ियाबाद के मसूरी थाना क्षेत्र में. यहां धौलाना से बीएसपी विधायक असलम चौधरी के ड्राईवर और उसके समर्थकों ने डासना टोल टैक्स पर गुंडागर्दी की. टोल-कर्मियों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा. बताया जा रहा है कि ये लोग यहां से आए दिन बिना टोल दिए सैंकड़ों गाड़ियां पास कराते हैं. जो मना करता है पिट जाता है.

वीडियो में साफ़ नज़र आ रहा है कि रॉंग साइड से आई एक फॉर्च्यूनर में सवार लोग, उतर कर टोलकर्मियों को पीट रहे हैं. एक कर्मचारी को धक्के दिए जा रहे हैं, थप्पड़ लगाए जा रहे हैं. ऐसी गुंडई यहां आम बात हो गई है. टोल मैनेजर ने मसूरी थाने में इन लोगों के खिलाफ़ तहरीर डे दी है.

गुंडई ऑन कैमरा:


ये भी पढ़ें:

हिंदू युवा वाहिनी के नेता की गाड़ी ने गाय के बछड़े को कुचला

अलवर कांड : ये तस्वीरें बताती हैं, पहलू खान के साथ क्या हुआ था

‘अलवर गौ गुंडों’ पर सबसे सस्ता बयान एक केंद्रीय मंत्री ने दिया है

123 साल पहले हुआ गाय के नाम पहला दंगा, पहली बार मुसलमान कांग्रेस से भागे थे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

सरोज ख़ान के कोरियोग्राफ किए हुए 11 गाने, जिनपर खुद-ब-खुद पैर थिरकने लगते हैं

पिछले कई दशकों के आइकॉनिक गाने, उनके स्टेप्स और उनके बारे में रोचक जानकारी पढ़ डालिए.

मोहम्मद अज़ीज़ के ये 38 गाने सुनकर हमने अपनी कैसेटें घिस दी थीं

इनके जबरदस्त गानों से कितने ही फिल्म स्टार्स के वारे-न्यारे हुए.

डॉक्टर्स डे पर फिल्मी डॉक्टर्स के 21 अनमोल वचन

बत्ती बुझेगी, डॉक्टर निकलेगा, सॉरी कहेगा. हमारी फिल्मों के डॉक्टर्स के डायलॉग सदियों से वही के वही रह गए हैं.

फादर्स डे बेशक बीत गया लेकिन सेलेब्स के मैसेज अब भी आंखें भिगो देंगे

'आपका हाथ पकड़ना मिस करता हूं. आपको गले लगाना मिस करता हूं. स्कूटर पर आपके पीछे बैठना मिस करता हूं. आपके बारे में सब कुछ मिस करता हूं पापा.'

वो एक्टर जो लोगों को अंग्रेज़ लगता था, लेकिन था पक्का हिंदुस्तानी

जिसकी हिंदी, उर्दू और अंग्रेज़ी पर गज़ब की पकड़ थी.

भारत-चीन तनाव: PM मोदी के बयान पर भड़के पूर्व फौजी, कहा- वे मारते मारते कहां मरे?

पीएम ने कहा था न कोई हमारी सीमा में घुसा है न ही हमारी कोई पोस्ट किसी दूसरे के कब्जे में है.

'बुलबुल' ट्रेलर: देखकर लग रहा है ये बिल्कुल वैसी फिल्म है, जैसी एक हॉरर फिल्म होनी चाहिए

डर भी, रहस्य भी, रोमांच भी और सेंस भी. ऐसा लग रहा है कि फिल्म 'परी' से भी ज्यादा डरावनी होगी.

इस आदमी पर से भरोसा उसी दिन उठ गया था, जब इसने सनी देओल का जीजा बनकर उन्हें धोखा दिया था

परदे पर अब तक 182 बार मर चुका है ये एक्टर.

'गो कोरोना गो' वाले रामदास आठवले की कही आठ बातें, जिन्हें सुनकर दिमाग चकरा जाए

अब आठवले ने चायनीज फूड के बहिष्कार की बात कही है.

विदेशी मीडिया को क्यों लगता है कि भारत-चीन सीमा पर हालात बेकाबू हो सकते हैं?

सब जगह लद्दाख झड़प की चर्चा है.