Submit your post

Follow Us

बाहुबली 2 देखने जा रहे हैं तो भूलकर भी न करें ये काम, वरना पछताएंगे

बाहुबली रिलीज हो गई है. हचक के चल भी रही है. हॉली-बॉलीवुड सब पनाह मांग गए हैं. रामगोपाल वर्मा ने इसको डायनासोर फिल्म बता दिया है. जिसके आने से बाकी सब दुबक गए हैं. आशा ही नहीं अपितु पूर्ण विश्वास है कि आप भी फिल्म को लेकर एक्साइटेड होंगे. जो लोग फर्स्ट डे फर्स्ट शो नहीं देख पाए हैं वो इधर आएं. कृपया ध्यान दें. आपका शो कुछ चीजें खराब कर सकती हैं. इनका ध्यान रखें और फिल्म एंजॉय करें.

1. फेसबुक पर धमका दें

अगर आपके फेसबुक पर ठीक ठाक फ्रेंड्स और फॉलोवर्स हैं तो इसका मतलब उनमें से कुछ लम्पूतिए भी होंगे. अर्थात इनके पास पैसा बहुत होता है लेकिन अक्ल नहीं होती. आपके पास फिल्म देखने का शऊर जो है, वो इनके पास नहीं है. तो ये वहां फिल्म देखकर आएंगे और फेसबुक पर उगल देंगे कि कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा. और भी ढेर सारे सस्पेंस खोल देंगे. तो सीधा पोस्ट लिख दो “जिसने बाहुबली पर पोस्ट डाली, सीधा ब्लॉक.” अगर ये धमकी काम कर गई तो आप स्पॉइलर्स से बच जाएंगे.

2. व्हाट्सऐप डिलीट कर दें

ये सबसे खतरनाक टूल है. आपकी जिंदगी में एक ही चीज रह सकती है. या तो बाहुबली का एक्साइटमेंट या फिर व्हाट्सऐप. क्योंकि व्हाट्सऐप पर कुछ भकुए ‘लीक बाहुबली’ के नाम से छोटे छोटे वीडियो भेजते रहेंगे. जो उन्होंने उधारी के पैसे से टिकट लेकर हॉल में गए और रिकॉर्ड किए हैं. सो बी केयरफुल. इसको अनइंस्टॉल कर दो.

3. स्क्रीन के सामने फोन न निकालें

एक जने हमारे मित्र हैं, वो हमको मित्रता का फर्ज निभाने का पूरा मौका दे दिए थे. हमको ही उन्हें हवालात से छुड़ाना पड़ता. मुचलका भर के. वो फिल्म देखने गए थे और वहीं से लाइव कर दिए. उनको पता नहीं था कि उनके इस एक्साइटमेंट की कीमत तीन साल की जेल है.

4. अखबार और वेबसाइट्स के रिव्यू से दूर रहें

याद रखो किसी का रिव्यू पढ़कर फिल्म देखने जाओगे तो पछताओगे. साला दो साल से अपने अंदर आग दबा रखे हो. उसको निकलने का मौका दो. किसी कलमघसीट के दो कौड़ी के रिव्यू पर सैकड़ों करोड़ की फिल्म का फैसला न करो. हम तो कहेंगे कि शिवाय और नूर देखने भी जाओ. इतना पैसा बचाकर कहां रखोगे. बाहुबली के लिए तो मन में अरमान पाले थे, उनको पूरा करो. जाओ वत्स.

5. बस यही कर लें

अगर फिल्म देख रहे हैं या देख आए हैं तो ऊपर जो चीजें गिनाई गई हैं, वही अपने ऊपर भी लागू करें. अपने ही दोस्तों के साथ स्पॉइलर्स शेयर करके पीठ में छुरा भोंकने जैसा काम होगा. और कृष्ण सुदामा की कहानी तो सुने ही होगे. सुदामा ने बचपन में कृष्ण से धोखा किया था. अकेले भुने चने खा लिए थे. तो वो जीवन भर गरीब रहे. ऊपर वाला ऐसे कमीने दोस्तों के लिए नरक में अलग कम्पार्टमेंट की व्यवस्था रखता है.


ये भी पढ़ें:

फिल्म रिव्यू बाहुबली 2 – जय माहिष्मती!

बाहुबली-2 लीक हो गई है!

बाहुबली-2 के विजुअल्स को और मजेदार बनाने वाले इस इंसान से मिलिए

तमिल फिल्म इंडस्ट्री जो करती है वो बॉलीवुड वाले कर लें तो क्रांति आ जाए

औरंगजेब इतना अच्छा आदमी था कि वो राम मंदिर बनाना चाहता था

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

फ़िल्म रिव्यू: धुइन

फ़िल्म रिव्यू: धुइन

ऐसी कहानियां जहां हम खुद को खोते हैं, फिर से पाने के लिए, ऐसी कहानियां देखी जानी चाहिए

फिल्म रिव्यू- सरकारु वारी पाटा

फिल्म रिव्यू- सरकारु वारी पाटा

विवादों की वजह से चर्चा में रहे महेश बाबू की नई फिल्म कैसी है?

मूवी रिव्यू: जयेशभाई जोरदार

मूवी रिव्यू: जयेशभाई जोरदार

सोशल मैसेज वाली फिल्मों में एक चीज़ बड़ी कॉमन रहती है, कि वहां मैसेज ह्यूमर की आड़ में दिया जाता है. ‘जयेशभाई जोरदार’ भी उस लिहाज़ से कुछ अलग नहीं.

वेब सीरीज़ रिव्यू: मॉडर्न लव मुंबई

वेब सीरीज़ रिव्यू: मॉडर्न लव मुंबई

अगर आपको 'मॉडर्न लव' का पूरा आनंद लेना है तो इसके नज़दीक जाना पड़ेगा. पास जाइए और ठहरकर इसे महसूस कीजिए.

अवतार 2: क्यों अचंभे में डाल देगी 2022 की ये सबसे बड़ी फ़िल्म!

अवतार 2: क्यों अचंभे में डाल देगी 2022 की ये सबसे बड़ी फ़िल्म!

डायरेक्टर जेम्स कैमरून ने फ़िल्म के लिए नई टेक्नोलॉजी बना दी.

कौन थे ब्लैक टॉरनेडो के वो वीर योद्धा, जिन पर एक जबरदस्त फ़िल्म 'मेजर' आ रही है?

कौन थे ब्लैक टॉरनेडो के वो वीर योद्धा, जिन पर एक जबरदस्त फ़िल्म 'मेजर' आ रही है?

इस तरह के ट्रीटमेंट वाली वॉर मूवी भारत में शायद नहीं देखी होगी.

'पंचायत' के दूसरे सीज़न की कहानी पता चल गयी

'पंचायत' के दूसरे सीज़न की कहानी पता चल गयी

इस सीज़न इन चार मुद्दों के इर्दगिर्द होने वाली है पंचायत.

'पृथ्वीराज' फिल्म की कहानी, जिसे डायरेक्टर 18 साल से बनाना चाहते थे

'पृथ्वीराज' फिल्म की कहानी, जिसे डायरेक्टर 18 साल से बनाना चाहते थे

फिल्म में ऐसे किरदारों को भी दिखाया जाएगा, जिनके बारे में ज़्यादा सुनने को नहीं मिलता.

वेब सीरीज़ रिव्यू: होम शांति

वेब सीरीज़ रिव्यू: होम शांति

TVF के वीडियोज़ का नॉस्टैल्जिया ताज़ा करना है, तो देख डालिए.

फिल्म रिव्यू- थार

फिल्म रिव्यू- थार

'थार' अपने किस्म की पहली फिल्म लगती है, जहां सबकुछ ऑन पॉइंट है. सिवाय मेन स्टोरीलाइन के