Submit your post

Follow Us

ढिंचाक पूजा का नया गाना, वो मोदी विरोधी हो गईं हैं

6.05 K
शेयर्स

2 अक्टूबर 2014. जिस रोज़ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वच्छ भारत अभियान शुरू कर रहे थे. उसी रोज़ एक ऐतिहासिक शुरुआत और हुई थी. ढिंचाक पूजा ने अपना यूट्यूब चैनल शुरू किया था.

कालांतर में Dhinchak Pooja ने गायन के क्षेत्र में इतने व्यू और इतना नाम कमाया. जितनी शोहरत किसी एवरेज प्रतिभावान सिंगर को सपने में भी न मिले. फिलहाल ढिंचाक पूजा का एक और गाना आया है. जो मोदी विरोधी है. यदि आप मोदी समर्थक हैं और ये बात सुनते ही उन्हें गालियां देने को भाग रहे हैं तो रुकिए. पहली बात किसी को गाली देना अच्छी बात नहीं. दूसरे, वीडियो में कमेंट डिसेबल हैं. आप कुछ नहीं लिख पाएंगे.

अब आते हैं वीडियो पर. टाइटल है. विकास पूछ रहा है. इससे हमें अखिलेश यादव के “विकास पूछ रहा है” वाले ट्वीटों की श्रृंखला याद आती है. ये इकलौता साम्य नहीं है. पहले ही दृश्य में समाजवादी हवा लगती है, जब पूजा साइकल पर सवारी करती नज़र आती हैं. ये सुन मैंने ढिंचाक पूजा के फैंस से जानना चाहा कि माजरा क्या है. जवाब मिला ये तो तो ‘विकास पूछ रहा है’ वाले गाने का पूजाकरण है. मैंने कहा, लेओ अभी पता चला ऐसा कोई गाना भी आया था.

खैर गाने में विकास रिवर्स होते नज़र आता है, पहले पूजा कहती थीं “ऑडी में मैं घूमती, सुबह शाम और रात में.” फिर वो “दिलों के शूटर” स्कूटर पर आईं और अब साइकल पर. गाने के बोल सुनाई पड़ते हैं.

सबर का बांध टूट रहा है.
पूरा भारत पूछ रहा है.
बदहाली से जूझ रहा है.
सुनो विकास पूछ रहा है.

ये सुन मेरे मन में सवाल आता है. वो क्या मजबूरी है, जिसके कारण ढिंचाक पूजा को इतनी गर्मी में काली जैकेट पहनने पर मजबूर होना पड़ा.

ग्लोबल वार्मिंग को धता बताता संगीत
ग्लोबल वार्मिंग को धता बताता संगीत

बीच में ढेर सी जिबरिश वाले लिरिक्स के बाद ये पंक्तियां बजती हैं.

राज तुम्हारा काज तुम्हारा
पांच साल रहा ताज तुम्हारा
फिर क्यों हर बात का दोषी
हो रहा विपक्ष बेचारा

विपक्ष को कुरते पर लगाए एक लड़का और एक साड़ी वाली लड़की नज़र आती है. मैं पूछना चाहता हूं क्या ये सिंबॉलिक राहुल और प्रियंका हैं?

Dhinchak pooja Vikaas song Vipaksha

आगे की पंक्तियों में सीधा हमला भाजपा पर है.

अच्छे दिन की लगी थी रट
फिर वो नारा गया क्यों घट
सबका साथ सबका विकास
धन्नासेठों में गया क्यों बंट

इन पंक्तियों तक ढिंचाक पूजा जनकवि हो पड़ती हैं और ये गाना जनगीत. जब ‘अभी-अभी हुआ यकीन कि आग है मुझमें कहीं’ लिखने वाले प्रधानमंत्री में फ़कीरी खोज लेते हैं. तब ढिंचाक पूजा सरकारी नारों पर सवाल उठा रही हैं. धन्नासेठों का ज़िक्र कर वो रफ़ाल डील पर सवाल उठा रही हैं. मन किया कि उन्हें राष्ट्रकवि घोषित कर दूं, फिर लगा ये कुछ ज़्यादा ही हो रहा है.

अब गाने का वो हिस्सा आया, जहां गीतकार समाज को संदेश देता है. कहा गया.

जुमलों के जरिये अच्छे दिन बांटे जाते हैं.
तो जनता के खातों से पैसे काटे जाते हैं.
व्यापारी की खुशियों को वापस लौटाओगे.
महिलाओं की सुरक्षा का अहसास कराओगे.

इन पंक्तियों के दौरान ढिंचाक पूजा के बगल में एक महिला खड़ी थीं. जिस समय रोबोटिक कट्स के साथ हमारी स्टार ने ‘महिलाओं की सुरक्षा’ कहा. मैं कुर्सी से कूदकर नीचे गिर पड़ा, फर्श पर पड़े-पड़े लिख रहा हूं. महिलाओं को सुरक्षा मिलनी चाहिए. ताकि कोई भी ऐसे जाकर उन्हें गाने के शूट के नाम पर परेशान न कर सके.

गाने के नाम पर अत्याचार कब तक?
गाने के नाम पर अत्याचार कब तक?

इस सब के बाद भी वीडियो में बहुत कुछ है. साहेब, तुमसे न हो पाएगा टाइप्स बातें हैं. म्यूजिक तेज़ हो गया और भी कई चीजें स्क्रीन पर हुईं. लेकिन मैं भी इंसान हूं, मेरा भी ध्यान वैसे ही गाने से उठ गया जैसे पीछे खड़े विकास का मन बोरियत से चट गया.

कहां फंस गया मैं?
कहां फंस गया मैं?
लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

सलमान की अगली फिल्म के विलेन की पिक्चर, जिसके एक मिनट के सीन पर 20-20 लाख रुपए खर्चे गए हैं

'पहलवान' ट्रेलर: साउथ के इस सुपरस्टार को सुनील शेट्टी अपनी पहली ही फिल्म में पहलवानी सिखा रहे हैं.

संत रविदास के 10 दोहे, जिनके नाम पर दिल्ली में दंगे हो रहे हैं

जो उनके नाम पर गाड़ियां जला रहे हैं उन्होंने शायद रविदास को पढ़ा ही नहीं है.

'सेक्रेड गेम्स' वाले गुरुजी के ये 11 वचन, आपके जीवन की गोची सुलझा देंगे

ग़ज़ब का ज्ञान बांटा है गुरुजी ने.

'मैं मरूं तो मेरी नाक पर सौ का नोट रखकर देखना, शायद उठ जाऊं'

आज हरिशंकर परसाई का जन्मदिन है. पढ़ो उनके सबसे तीखे, कांटेदार कोट्स.

वो एक्टर, जिनकी फिल्मों की टिकट लेते 4-5 लोग तो भीड़ में दबकर मर जाते हैं

आज इन मेगास्टार का बड्‌डे है.

अक्षय कुमार की भयानक बासी फिल्म का सीक्वल, जिसकी टक्कर रणबीर की सबसे बड़ी फिल्म से होगी

'पंचनामा सीरीज़' और 'दोस्ताना' के बाद कार्तिक आर्यन के हत्थे एक और सीक्वल.

सैफ अली खान की वो फिल्म, जिसका इंतज़ार 'सेक्रेड गेम्स' से दुगनी बेसब्री से किया जाना चाहिए

लाल कप्तान टीज़र: इंडिया के किसी स्टार को पहले ऐसा कुछ करते देखा हो, तो पइसे वापस ले जाना.

इस 'तिरंगा' से आज़ादी कब मिलेगी सरकार?

इस स्वतंत्रता दिवस पर हमें चाहिए इन 5 महा चिरकुट कामों से आज़ादी.

यश चोपड़ा ने जब रेखा और जया से कहा, 'यार मेरे सेट पर गड़बड़ी ना करना यार!'

आज फिल्म 'सिलसिला' को 38 साल पूरे हो गए हैं. जानिए वो 16 किस्से जो यश चोपड़ा और उनकी फिल्मों की मेकिंग के बारे में आपको बहुत कुछ बताएंगे.

बॉलीवुड का वो धाकड़ विलेन जिसका शरीर दो दिन तक सड़ता रहा!

जानिए महेश आनंद की लाइफ और उनकी फिल्मों से जुड़े कुछ दिलचस्प किस्से.