Submit your post

Follow Us

जाने से पहले इरफान ने क्या ये कहा - अम्मा मुझे लेने आई हैं?

29 अप्रैल की सुबह दिग्गज एक्टर इरफान गुज़र गए. 28 अप्रैल को कोलन इन्फेक्शन के बाद जल्दी-जल्दी में मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती करवाया गया. वो आईसीयू वार्ड में एडमिट थे. 25 अप्रैल को इरफान की मां सईदा बेगम का इंतकाल हो गया था. अब कुछ रिपोर्ट्स आ रही हैं, जिसमें ये बताया जा रहा है कि इरफान ने मरने से पहले अपनी मां को याद किया था. उन्होंने अपनी पत्नी सुतपा से कहा-

”देखो, वह मेरी तरफ बैठी हैं, अम्मा मुझे लेने आई हैं.”


View this post on Instagram

#rip #irfankhan

A post shared by Viral Bhayani (@viralbhayani) on

ये सुनकर उनकी पत्नी रोने लगी. इसके कुछ ही देर बाद इरफान गुज़र गए. इंडिया में होने के बावजूद लॉकडाउन की वजह से इरफान अपनी मां के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाए. उन्होंने वीडियो कॉल के ज़रिए उन्हें श्रद्धांजली दी. बताया जा रहा है कि इस चीज़ ने इरफान को बुरी तरह से तोड़ दिया. वो अपनी मां के बहुत करीब थे. क्योंकि उनके पिता का इंतकाल काफी (एनएसडी में भर्ती होने से 15 दिन) पहले हो गया था.

बचपन के दिनों में मां के साथ इरफान और उनके दोनों भाई सलमान और इमरान.
बचपन के दिनों में मां के साथ इरफान और उनके दोनों भाई सलमान और इमरान.

मां की मौत के ठीक तीन दिन बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया और चौथे दिन वो गुज़र गए. वर्सोवा के कब्रिस्तान में उनका अंतिम संस्कार किया गया. इस आखिरी सफर में कुछ चुनिंदा लोगों को ही शामिल होने की परमिशन मिल पाई क्योंकि देशभर में कोरोवायरस की वजह से लॉकडाउन लगा हुआ है. इसमें इरफान का परिवार और उनके करीबी दोस्त-फिल्ममेकर्स विशाल भारद्वाज और तिग्मांशु धूलिया शामिल थे.

अपनी मां और परिवार के बाकी सदस्यों के साथ इरफान.
अपनी मां और परिवार के बाकी सदस्यों के साथ इरफान.

इरफान पिछले 2 साल से बीमार चल रहे थे. उन्हें न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर नाम का एक रेयर कैंसर था. इसके इलाज के लिए वो लंदन गए थे. वहां से लौटने के बाद उन्होंने अपनी फिल्म ‘अंग्रेज़ी मीडियम’ की शूटिंग पूरी की. फिल्म के रिलीज़ होते ही देशभर में कोरोना का आतंक फैलने लगा. बचाव के लिए सभी थिएटर्स को बंद कर दिया गया. देशभर में लॉकडाउन लग गया. अप्रैल की शुरुआत में ‘अंग्रेज़ी मीडियम’ को डिज़्नी+हॉटस्टार पर रिलीज़ किया गया. होमी अदजानिया डायरेक्टेड ये फिल्म इरफान की आखिरी फिल्म साबित हुई.


वीडियो देखें: मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती इरफ़ान का निधन

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

ज़ूम के अलावा और कौन से फ्री ऐप हैं, जिनसे आप वीडियो कॉल कर सकते हैं

वर्क फ्रॉम होम में मीटिंग से लेकर रिश्तेदारों से बात तक, सब वीडियो कॉल पर हो रहा है.

12 फनी मीम: 'एक्स्ट्रैक्शन', 'शोले', 'फूल और कांटे' जैसी फिल्मों के जरिए मुंबई पुलिस ने क्या मैसेज दिए

'एक्सट्रैक्शन' फिल्म पर भी नया कोरोना लॉकडाउन मीम आया है

दुनियाभर में जिसकी किस्सागोई मशहूर है, उस राइटर की ये 15 बातें याद रखने लायक़ हैं

अपनी एक किताब से इन्होंने वो कर दिखाया जो राइटर जीवनभर करने की सोचते हैं.

पंकज त्रिपाठी के हिसाब से ये 8 मूवीज़ और बुक ज़रूर आज़मानी चाहिए

हमारी सीरीज़ 'मेरी मूवी लिस्ट' में आज की रेकमेंडेशन एक्टर पंकज त्रिपाठी की ओर से.

रामायण सीरियल के एक्टर्स की ये 20 दुर्लभ फोटोज़ देखकर आंखें चमक उठेंगी

ये विंटेज तस्वीरें देखकर एक पूरा ज़माना आंखों के सामने खड़ा हो जाता है.

ज़ोहरा सहगल की ज़िंदगी से भरी ये 10 बातें सुनकर उनकी ज़िंदादिली को सलाम करेंगे

कई फ़िल्मों और टीवी धारावाहिकों में काम कर चुकीं ज़ोहरा सहगल का आज बड्डे है.

'श्री कृष्ण' का रोल करने वाले ये तीनों एक्टर्स आज कल कहां हैं?

जानना ज़रूरी है क्योंकि रामानंद सागर कृत 'श्री कृष्ण' भी टीवी पर आ रहा है.

आग में कलम डुबाकर लिखने वाले रामधारी सिंह 'दिनकर' की ये 10 बातें सुन लीजिए

आज़ादी की लड़ाई में कलम को बिगुल बना दिया था इस कवि ने.

वरुण धवन की 18 ज़रूर पढ़ने वाली बातें: उन्होंने ऐसे नशेड़ी का रोल किया है जो इंसान को मारकर शरीर से नशा निकालता है

एक फिल्म के शूट में पिता डेविड धवन ने इतनी बुरी हालत की कि वरुण वैन में जाकर रोने लगे.

दुनिया में भारतीय सिनेमा का डंका बजाने वाले इस फिल्मकार की 10 बातें सबको सुननी चाहिए

सत्यजीत राय की वजह से भारत की फ़िल्मों को दुनियाभर में पहचाना मिली.