Submit your post

Follow Us

राजकुमार राव-पत्रलेखा की हुई शादी, देखिए शादी की 8 खूबसूरत फ़ोटोज़

राजकुमार राव करीब 11 साल बाद अपनी गर्लफ्रेंड पत्रलेखा के साथ 15 नवंबर को विवाह बंधन में बंध गए. राजकुमार और पत्रलेखा की शादी चंडीगढ़ के ‘द ओबेरॉय सुखविला’ रिज़ॉर्ट में हुई. राजकुमार के इस विवाह उत्सव में सिर्फ कुछ बहुत ही करीबी दोस्त और परिवारजन शामिल हुए. अपनी शादी की खुशखबरी राज ने अपने फैन्स के साथ साझा करते हुए सोशल मीडिया पर लिखा,

फाइनली 11 सालों के प्यार, दोस्ती, रोमांस और खूब सारी मस्ती के बाद मैंने आज अपनी सोलमेट से शादी कर ली है. वो मेरे लिए आज सब कुछ है. मेरी बेस्टफ्रेंड, मेरा परिवार सब वही है. दुनिया में तुम्हारा पति कहलाए जाने से बड़ी कोई ख़ुशी नहीं हैं पत्रलेखा.

इस खूबसूरत कैप्शन के साथ राज ने अपनी शादी की कुछ खूबसूरत फ़ोटोज़ भी शेयर की. आप भी देखते चलें राजकुमार और पत्रलेखा की शादी की आठ खूबसूरत तस्वीरें. लेकिन तस्वीरें देखने से पहले देखिए राजकुमार को पत्रलेखा को प्रोपोज़ करते हुए इस वायरल वीडियो में.


View this post on Instagram

A post shared by WedAbout.com (@wedabout)

 


 

०ईई ८८८८

 


 

इ०८९य८त्यो९य८त्य८९

 


व्केवीवे


257444009 4716052815082058 6863608188881448732 N


यूउय्गुग


256083407 3015479712100348 9083009339353868935 N


 

256873506 111382704572560 3324722088845730262 N


256315933 580097419883192 2635882774386077647 N


जो लोग पत्रलेखा से परिचित ना हों उन्हें बता दें पत्रलेखा भी एक्ट्रेस हैं. उन्होंने अपना डेब्यू साल 2014 में राजकुमार राव के अपोजिट ही हंसल मेहता की फिल्म ‘सिटीलाइट्स’ से किया था. पत्रलेखा का जन्म शिलोंग, मेघालय में हुआ था. राजकुमार और पत्रलेखा 2010 से डेट कर रहे थे.


वीडियो:नेटफ्लिक्स की सबसे महंगी फिल्म ‘रेड नोटिस’ घाटे का सौदा साबित हुई या फायदे का?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

फिल्म रिव्यू: मिन्नल मुरली

ये देसी सुपरहीरो फिल्म कभी नहीं भूलती कि सुपरहीरो का कॉन्सेप्ट ही विदेशी है.

फिल्म रिव्यू- अतरंगी रे

'अतरंगी रे' बोरिंग फिल्म नहीं है. इसे देखते हुए आपको फन फील होगा. मगर फन के अलावा इसमें कुछ भी नहीं है.

प्रभास की 'राधे श्याम' का ट्रेलर देख 'टाइटैनिक' की याद आ गई

'राधे श्याम' के ट्रेलर की ये ख़ास बातें नोट की आपनें ?

मूवी रिव्यू: The Matrix Resurrections

'मेट्रिक्स' फैन्स खुश तो होंगे, लेकिन फिल्म को कोसेंगे भी.

फिल्म रिव्यू: 83

'83' जीते जी अमर हुए लोगों की कहानी है. वो नींव के पत्थर, जिनकी वजह से आज भारतीय क्रिकेट की इमारत इतनी बुलंद है.

फिल्म रिव्यू- पुष्पा: द राइज़

'पुष्पा' को देखते वक्त लॉजिक की तलाश मत करिए. थिएटर से निकलते वक्त फिल्म को नहीं, उसे देखने के अनुभव को अपने साथ लेकर जाइए.

फिल्म रिव्यू - 420 IPC

हिसाब-किताब एक दम दिल्ली के मौसम जैसा है. ठंडा.

मूवी रिव्यू - स्पाइडरमैन: नो वे होम

फिल्म को लेकर जितनी हाइप बनी, क्या ये उस पर खरी उतरती है?

वेब सीरीज़ रिव्यू- आरण्यक

इस सीरीज़ के मेकर्स ये तय नहीं कर पाए कि इस सीरीज़ को सुपरनैचुरलर बनाया जाए, थ्रिलर वाले गुण डाले जाएं, whodunnit वाले ज़ोन में रखें या पुलिस प्रोसीजरल शो बनाएं.

मूवी रिव्यू: चंडीगढ़ करे आशिकी

आयुष्मान की नई फिल्म रिफ्रेशिंग है, लेकिन कुछ खामियां यहां भी हैं.