Submit your post

Follow Us

बाहुबली राजा भैया के पिता हर साल मुहर्रम पर क्यों हाउस अरेस्ट कर दिए जाते हैं?

1.34 K
शेयर्स

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के बाहुबली नेता राजा भैया नहीं, उनके पिता राजा उदय प्रताप इस वक्त चर्चा में हैं. वजह जिला प्रशासन ने उनको नजरबंद कर दिया है. 9 सितंबर की शाम 5 बजे से 10 तारीख तक वो भदरी महल में नजर बंद रहेंगे. आप कहेंगे कि एक दिन पुरानी खबर क्यों बता रहे हो. तो वजह है इसको लेकर वायरल हो रहे सोशल मीडिया पोस्ट. देखिए –

1

इन पोस्ट्स का मजमून ये है कि राजा भैया के पिता को योगी सरकार ने नजरबंद किया. ताकि मोहर्रम पर मुसलमानों का जुलूस आसानी से निकल सके. और राजा भैया के पिता भंडारा न कर सकें.

कुल मिलाके इसे ऐसे पेश किया जा रहा है कि यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने मुहर्रम को तवज्जो दी, भंडारे को नहीं. हनुमान मंदिर में कार्यक्रम नहीं होने दिया. हमने इस पूरे मामले को जानने के लिए प्रतापगढ़ के अपने रिपोर्टर सुनील से बात की. उन्होंने बताया कि ये नजरबंद कोई पहली बार की कार्रवाई नहीं है. ये पिछले दो-तीन साल से हो रही कार्रवाई है. ये कार्रवाई पिछली अखिलेश सरकार भी करती थी, जिसमें राजा भैया मंत्री रहे थे. और अब की योगी सरकार भी.

ताजिया जुलूस निकलने की वजह से विवाद रहा है.
ताजिया जुलूस निकलने की वजह से कुंडा में विवाद रहा है.

तो पहली बात ये कार्रवाई नई नहीं है. अब पूरा मामला समझ लीजिए. प्रतापगढ़ की कुंडा विधानसभा में शेखपुर गांव है. यहां चार साल पहले एक बंदर के मर जाने के बाद राजा भैया के पिता ने उसकी स्मृति में एक मंदिर बना दिया था. यहीं पर वो भंडारा करने लगे. ठीक मोहर्रम के दिन ही. ये मंदिर उसी रास्ते पर पड़ता है जहां से कई गांवों के ताजिया जुलूस निकलते हैं. इससे ताजिया निकलते वक्त विवाद की स्थिति रहती है. 2016 में तो इतना तनाव रहा कि तीन दिन बाद निकल सका था ताजिये का जुलूस. इसी से बचने कि लिए पिछले कुछ सालों से पुलिस भंडारे की अनुमति नहीं दे रही है. इस पर राजा भैया के पिता अड़े रहते हैं. इसलिए उनको नजरबंद करने की कार्रवाई की जाती है.

तो जिस तरह से सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर किए जा रहे हैं. नफरत और टेंशन फैलाने के मकसद से. वैसा नहीं है ये मामला. पुलिस ने एहतियातन ये कदम उठाया है. ताकि इस साल भी कोई विवाद न हो. शांति से ताजिया का जुलूस निकल जाए. प्रतापगढ़ जिला प्रशासन ने भंडारे और हनुमान पाठ करने की अनुमति देने से इनकार पहले रही कर दिया था. इलाके में धारा 144 भी लागू कर दी गई थी. सुरक्षा के मद्देनजर क्षेत्र में जगह-जगह पुलिस बल भी तैनात है.


लल्लनटॉप वीडियो देखें-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

अर्जन सिंह डेथ एनिवर्सरी: पहले एयरफोर्स मार्शल के 4 किस्से, जो शरीर में खून की गर्मी बढ़ा देंगे

लाख चाहने के बावजूद अंग्रेज इनके खिलाफ कोर्ट मार्शल में कोई एक्शन नहीं ले पाए थे.

आयुष्मान खुराना की 22 अंतरंग बातेंः मां के सामने एक लड़की ने उनके स्पर्म मांग लिए थे!

बड्डे बॉय को इतना पर्सनली कहीं और जान पाएं तो बताएं.

Dabangg 3 से सलमान खान का दनदनाता हुआ पहला ऑफिशियल वीडियो आ गया है

'स्वागत नहीं करोगे हमारा' से 'स्वागत तो करो हमारा' तक का सफर देखकर आप भी कहेंगे- भाई भाई भाई भाई!

इन 5 किरदारों से पता चलता है कि अतुल कुलकर्णी की एक्टिंग रेंज कितनी ज़बरदस्त है

वो एक्टर जिसने मुसलमानों को पाकिस्तान चले जाने को कहा और बाद में खुद रामप्रसाद बिस्मिल बन गया.

अक्षय कुमार बनेंगे वो राजपूत राजा जिसे दुश्मन कैद करके ले गया आंखें फोड़ दी, फिर भी मारा गया

कल्पना नहीं कर सकते 'पृथ्वीराज' थियेटरों में उतरेगी तो क्या होगा!

इंडिया के वो क्रिकेटर्स जिन्होंने फिल्मों में सिर्फ गेस्ट रोल नहीं बाकायदा एक्टिंग की

जब तक हम 10 क्रिकेटर्स का नाम बताते, लिस्ट में एक और नया नाम जुड़ गया.

वो पांच वजहें जिनके लिए 'छिछोरे' देखी ही जानी चाहिए

देख लो भाई, पहली फ़ुर्सत में देख लो.

फ़िल्म 'आधार' का टीज़रः मुक्काबाज़ वाले हीरो की ये फिल्म हर कोई देखने वाला है

गांव का पहला आदमी, जो आधार कार्ड बनवाने के लिए आगे आया और उसकी ऐसी-तैसी हो गई.

सनी देओल के बेटे की पहली फ़िल्म के ट्रेलर में सिर्फ एक चीज़ देखने लायक है

'पल पल दिल के पास' से डेब्यू करने जा रहे हैं करण देओल.

हमारी हर फिल्म और वेब सीरीज़ में पाकिस्तान अपनी जगह कैसे बना लेता है?

The Family Man Trailer: मनोज बाजपेयी और शाहरुख-इमरान हाशमी की वेब सीरीज़ में ये दो चीज़ें डिट्टो हैं.