Submit your post

Follow Us

राहुल गांधी ने शपथ लेने में गड़बड़ की, कांग्रेस ने बात छुपाई और मटियामेट हो गया

ग़लतियों और प्यार में क्या चीज कॉमन होती है. दोनों ही की नहीं जातीं हो जाती हैं.
ऐसी ही ग़लतियां दो सांसदों से हुई. 17वीं लोकसभा के पहले ही दिन. एक भाजपा एक कांग्रेस सांसद. एक भोपाल की सांसद प्रज्ञा ठाकुर. दूसरे अमेठी Oops सॉरी, सॉरी 😜 वायनाड के सांसद राहुल गांधी.

पहले प्रज्ञा ठाकुर की बात कर लेते हैं. उन्होंने सांसद पद की शपथ ली तो विवाद हो गया. नाम को लेकर. विवाद ये नहीं था कि उनका नाम साध्वी प्रज्ञा है या प्रज्ञा ठाकुर. विवाद ये था कि प्रज्ञा ने नाम के आगे अपने आध्यात्मिक गुरु का नाम लगाया. इसी पर अपोजीशन वाले बमक गए. नारेबाजी भी हुई.

प्रज्ञा ठाकुर शपथ लेने आईं, संस्कृत में शपथ लेनी शुरू की. अपने नाम के आगे स्वामी पूर्ण चेतनानंद अवधेशानंद गिरि का नाम लिया. अपोजीशन ने कहा, इसकी परमिशन नहीं मिलनी चाहिए. प्रज्ञा का बचाव ये था कि इस नाम का ज़िक्र, मैंने शपथ लेने के लिए जो फॉर्म भरा था, उसमें था.

बीच में आए प्रोटेम स्पीकर. बोले, चुनाव आयोग ने जो सर्टिफिकेट जारी किया है. उसमें जो नाम है. वही जाएगा.

हुआ ये कि हलफनामे में प्रज्ञा ठाकुर के पिता का नाम सी. पी. सिंह है. आप शपथ लेते हुए अपने नाम के साथ अपने पिता का नाम ले सकते हैं. यथा, ‘मैं नरेंद्र दामोदरदास मोदी’ यानी नियम कायदे के हिसाब से ‘साध्वी प्रज्ञा सी पी सिंह ठाकुर’ कहा जा सकता था. प्रज्ञा ठाकुर ने ‘साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर स्वामी पूर्ण चेतनानंद अवधेशानंद गिरी’ कहा. जो रिकॉर्ड के हिसाब से उनके पिता का नाम नहीं है. इसी वजह से आपत्ति हुई.

दो बार आपत्ति होने पर तीसरी बार में प्रज्ञा ठाकुर ने नाम के आगे वाला पार्ट पढ़ा और शपथ हो सकी. अंत में भारत माता की जय के नारे के साथ अपनी बात पूरी की. जिस तरह के एक्सप्रेशन प्रज्ञा ठाकुर के थे, लग रहा था . अपोजीशन वालों को वो कभी ‘मन से माफ़’ नहीं कर पाएंगी.


 

ऐसी ही गड़बड़ तब भी हुई, जब अमेठी के पूर्व सांसद 😜 और वायनाड के सांसद राहुल गांधी शपथ लेने गए. संसद सदस्य की शपथ ली. फिर वापस अपनी जगह पर लौटने लगे. लेकिन इन दो बातों के बीच एक तीसरी बात भी होनी होती है, रजिस्टर पर दस्तखत करना होता है. राहुल वो भूल गए. इस प्रोसेस की रक्षा को आगे आए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह. उनको याद दिलाने का काम किया.

अब राहुल तो अपने हिस्से की ग़लतियां कर बैठे, अब बारी थी कांग्रेस की. उसने ट्विटर पर ये वीडियो चढ़ाया. जिसमें वो हिस्सा ही उड़ा दिया, जहां राहुल दस्तखत करना भूले थे और वापस बुलाए गए थे. 🙊

जनता ने बात पकड़ ली और कहा कि हमको पता चल गया है तुमने वीडियो एडिटर का सदुपयोग कहां कराया है.

via GIPHY

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

इबारत : शरद जोशी की वो 10 बातें जिनके बिना व्यंग्य अधूरा है

आज शरद जोशी का जन्मदिन है.

इबारत : सुमित्रानंदन पंत, वो कवि जिसे पैदा होते ही मरा समझ लिया था परिवार ने!

इनकी सबसे प्रभावी और मशहूर रचनाओं से ये हिस्से आप भी पढ़िए

गिरीश कर्नाड और विजय तेंडुलकर के लिखे वो 15 डायलॉग, जो ख़ज़ाने से कम नहीं!

आज गिरीश कर्नाड का जन्मदिन और विजय तेंडुलकर की बरसी है.

पाताल लोक की वो 12 बातें जिसके चलते इस सीरीज़ को देखे बिन नहीं रह पाएंगे

'जिसे मैंने मुसलमान तक नहीं बनने दिया, आप लोगों ने उसे जिहादी बना दिया.'

ऑनलाइन देखें वो 18 फ़िल्में जो अक्षय कुमार, अजय देवगन जैसे स्टार्स की फेवरेट हैं

'मेरी मूवी लिस्ट' में आज की रेकमेंडेशन है अक्षय, अजय, रणवीर सिंह, आयुष्मान, ऋतिक रोशन, अर्जुन कपूर, काजोल जैसे एक्टर्स की.

कैरीमिनाटी का वीडियो हटने पर भुवन बाम, हर्ष बेनीवाल और आशीष चंचलानी क्या कह रहे?

कैरी के सपोर्ट में को 'शक्तिमान' मुकेश खन्ना भी उतर आए हैं.

वो देश, जहां मिलिट्री सर्विस अनिवार्य है

क्या भारत में ऐसा होने जा रहा है?

'हासिल' के ये 10 डायलॉग आपको इरफ़ान का वो ज़माना याद दिला देंगे

17 साल पहले रिलीज़ हुई इस फ़िल्म ने ज़लज़ला ला दिया था

4 फील गुड फ़िल्में जो ऑनलाइन देखने के बाद दूसरों को भी दिखाते फिरेंगे

'मेरी मूवी लिस्ट' में आज की रेकमेंडेशंस हमारी साथी स्वाति ने दी हैं.

आर. के. नारायण, जिनका लिखा 'मालगुडी डेज़' हम सबका नॉस्टैल्जिया बन गया

स्वामी और उसके दोस्तों को देखते ही बचपन याद आता है