Submit your post

Follow Us

‘तेरी मिट्टी’ लिखने वाले मनोज मुंतशिर ने अकबर, हुमायूं को बताया 'डकैत', बवाल हो गया

मनोज मुंतशिर. कविताएं लिखते हैं, फिल्मों के लिए गाने भी लिखते हैं. ‘मेरी फितरत मस्ताना’ नाम की किताब लिखी है. ‘तेरी मिट्टी में मिल जावां’ जैसे गाने लिखे हैं. लेकिन अभी मनोज चर्चा में हैं एक ट्वीट को लेकर, एक वीडियो को लेकर. 24 अगस्त को मनोज ने एक वीडियो ट्वीट किया. देखिए.

मनोज कह रहे हैं –

“पिछली कई सदियों से हमने अपने इतिहास की जमीनें लावारिस छोड़ रखी हैं. हम इस हद तक ब्रेनवॉश्ड हो गए कि अचानक हमारी प्री प्राइमरी टेक्स्ट बुक्स से ग से गणेश हटाकर ग से गधा लिख दिया गया और हमारे माथे पर बल तक नहीं पड़ा. हमारे घर तक आने वाली सड़कों के नाम भी किसी अकबर, हुमायूं, जहांगीर जैसे ग्लोरिफाइड डकैत के नाम पर रख दिए गए और हम रिबन काटते मौकापरस्त नेताओं को देखकर तालियां बजाते रहे.

चित्तौड़गढ़ में 30 हज़ार सिविलियन्स को जेहाद के नाम पर काट डालने वाला आदर्श राजा था? आगरा के किले के सामने मीना बाज़ार लगवाने वाला जिल्लेइलाही था? जिल्लेइलाही, यानी ख़ुदा की परछाई. ये कौन सा खुदा है, जिसकी परछाई इतनी काली है? अपने हीरोज़ और विलेन्स जात-पात से ऊपर उठकर चुनिए, जो इस महान देश की परंपरा है. रावण एक ब्राह्मण था. भगवान ब्रह्मा की डायरेक्ट ब्लड लाइन में जन्मा था, लेकिन आपने किसी ब्राह्मण को रावण की स्तुति करते देखा है?”

मनोज ने अपने यूट्यूब चैनल पर इसका पूरा वीडियो भी अपलोड किया. करीब 11 मिनट का वीडियो है. टाइटल है- आप किसके वंशज हैं?

ट्विटर और यूट्यूब पर कुछ लोग मनोज की तारीफ कर रहे हैं. वहीं, कुछ लोग हैं जो इससे सहमत नहीं हैं. इतिहासकार देवदत्त पटनायक ने ट्वीट किया कि इस शख़्स को इतिहास किसने पढ़ाया. उन्होंने लिखा कि ये बंगाल में मराठा घुसपैठ के बारे में क्या कहेंगे?

ट्विटर पर गीतांजलि नाम की यूज़र ने लिखा-

“ग से ‘गणेश’ जो हैं वो ग से ‘गधे’ में भी बसते हैं., गधे को दिक्कत नहीं, गणेश को दिक्कत नहीं, हमको क्यों दिक्कत हो. बाक़ी कूड़ा जो है वीडियो में, वो आप अपना नाम ‘गणेश’ रख के भी कहेंगे तो कूड़ा ही कहलाएगा.”

पत्रकार सौरभ शुक्ला ने लिखा –

“बहुत जगह रावण को पूजा जाता है. आप जो समझा रहे हैं वो नज़रिया आपका हो सकता है. मैं समझता हूं कि आपको एक पाला चुनना था वो आपने चुन लिया है. उम्मीद है आप इतिहास के साथ वर्तमान भी समझाऐंगे. चूड़ी बेचने वाले, भीख मांगने वाले मुसलमानों को पीटने वाले वर्तमान रावणों के बारे में भी बताएंगे”

डी नारायण नाम के यूज़र ने लिखा –

चोटी पर पहुंचना महत्वपूर्ण नहीं होता मनोज टिके रहना महत्वपूर्ण होता है. गुलज़ार साहब अभी जिंदा हैं. तुम्हारी फिसलन बता रही है कि तुम ढलान पर फंसे थे, रोक कर रखने वाला पत्थर हट गया है. कितना नीचे गिरोगे पता नहीं है. जरा उनकी लिखी किताबें पढ़ लेना जिन्हें आदर्श मानते हो.

आयुष नाम के यूज़र ने लिखा –

बंद करिए ये सब. इस्लाम और उर्दू से प्रभावित होकर ही आपने उपनाम बदला था. अब सत्तापक्ष में हिंदुत्व का परचम दिखाई पड़ रहा है तो उधर चल दिए. धर्म के पक्ष में अभी भी नहीं हो आप पार्टी पक्ष में हो. शुक्ला जी, अल-मुंतशिर (Al-Muntashir) खलीफा के नाम पर क्यों अपना उपनाम रखा है?

इसी कॉमेंट का रिप्लाई करते हुए अर्पित दीक्षित ने लिखा –

इस्लाम के अंतर्गत सिर्फ मुगल आते हैं?? या इस्लाम का अस्तित्व सिर्फ मुगलों से है? आप पूरे वीडियो में बता दो कि मनोज सर ने इस्लाम के बारे में कुछ भी गलत बोला हो. मुगल ही इस्लाम नहीं थे.

इसके अलावा, यूट्यूब पर शशिकांत बाजपेई ने लिखा कि हमें अपनी संस्कृति को जानने की अत्यंत अनिवार्य आवश्यकता है और अपने बच्चों को भी अपने पूर्वजों के विषय में जानकारी देना जरूरी है. वहीं, सुमित कुमार ने लिखा कि किसी सेलेब्रिटी को आज तक इतने निर्भीक होकर किसी संवेदनशील मुद्दे को उजागर करते नहीं देखा.


मनोज मुंतशिर से उनकी किताब ‘मेरी फितरत है मस्ताना’ पर बातचीत!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

अक्षय की 'सूर्यवंशी' से अलग वो फिल्मी पुलिसवाले, जिन्होंने बताया कि पुलिस कैसी होनी चाहिए

अक्षय की 'सूर्यवंशी' से अलग वो फिल्मी पुलिसवाले, जिन्होंने बताया कि पुलिस कैसी होनी चाहिए

सिनेमा का स्टुडेंट होने के नाते, हमने उन फिल्मों को ढूंढा, जिसमें पुलिस को वैसा दिखाया गया है, जैसे उन्हें होना चाहिए.

जाति व्यवस्था पर बात करने वाली वो 5 हिंदी फिल्में, जिन्हें देखकर दिमाग की नसें खुल जाएंगी

जाति व्यवस्था पर बात करने वाली वो 5 हिंदी फिल्में, जिन्हें देखकर दिमाग की नसें खुल जाएंगी

इन फिल्मों को देखकर आपको गुस्सा भी आएगा और शर्म भी.

सूर्या की 'जय भीम' में हिंदी बोलने पर थप्पड़ मारने पर इतना विवाद क्यों हो रहा है?

सूर्या की 'जय भीम' में हिंदी बोलने पर थप्पड़ मारने पर इतना विवाद क्यों हो रहा है?

इस तमिल फिल्म के एक सीन में प्रकाश राज हिंदी बोलने वाले शख्स को थप्पड़ मार देते हैं. मगर इस हंगामे के पीछे की वजह क्या है?

मैग्ज़ीन कवर पर कटरीना कैफ को देखकर लोग ट्रोल क्यों कर रहे हैं?

मैग्ज़ीन कवर पर कटरीना कैफ को देखकर लोग ट्रोल क्यों कर रहे हैं?

लोग सोशल मीडिया पर उनके बारे में भद्दी-भद्दी बातें लिख रहे हैं.

किस बात पर टीवी स्टार तेजस्वी प्रकाश पर भड़क पड़े सलमान खान?

किस बात पर टीवी स्टार तेजस्वी प्रकाश पर भड़क पड़े सलमान खान?

'मैडम मेरे साथ ये सब मत करिए!'

वर्ल्ड कप के बाकी बचे मैचेज़ की जगह नवंबर में आने वाली ये 14 फिल्में/सीरीज़ देख सकते हैं

वर्ल्ड कप के बाकी बचे मैचेज़ की जगह नवंबर में आने वाली ये 14 फिल्में/सीरीज़ देख सकते हैं

इनमें से कई फिल्में-सीरीज़ तो आपकी वॉचलिस्ट पर होनी चाहिए.

पुनीत राजकुमार की डेथ पर इन 12 सेलेब्रिटीज़ ने क्या कहा?

पुनीत राजकुमार की डेथ पर इन 12 सेलेब्रिटीज़ ने क्या कहा?

पुनीत को हार्ट अटैक के बाद जिस हॉस्पिटल ले जाया गया था, उन्होंने अपने स्टेटमेंट जारी कर बताई ये बातें.

आर्यन को बेल मिलते ही शेखर सुमन ने शाहरुख खान को क्या हिदायत दे डाली?

आर्यन को बेल मिलते ही शेखर सुमन ने शाहरुख खान को क्या हिदायत दे डाली?

शेखर सुमन की ये वॉर्निंग पूरी फिल्म इंडस्ट्री को नाराज कर सकती है.

जब लोगों ने एक्ट्रेस नेहा शर्मा की सेल्फी को अश्लील बनाकर इंटरनेट पर वायरल कर दिया!

जब लोगों ने एक्ट्रेस नेहा शर्मा की सेल्फी को अश्लील बनाकर इंटरनेट पर वायरल कर दिया!

नेहा शर्मा को इसके बारे में वेब सीरीज़ के सेट पर जाकर पता चला.

आर्यन खान मामले में इंडस्ट्री की चुप्पी पर मीका सिंह ने कसके डपटा दिया

आर्यन खान मामले में इंडस्ट्री की चुप्पी पर मीका सिंह ने कसके डपटा दिया

''इंडस्ट्री में सबके बच्चे एक बार अंदर जाएंगे, तब जाकर ये यूनिटी दिखाएंगे.''