Submit your post

Follow Us

पड़ताल : क्या महात्मा गांधी ने भीमराव आंबेडकर के पैर छुए थे?

2 अक्टूबर यानी महात्मा गांधी जी का बर्थडे. या 14 अप्रैल, आंबेडकर जयंती. ये दिन पास आया नहीं कि सोशल मीडिया पर एक फोटो बहुत चलने लगती है.

इस तस्वीर को गांधीवादी भी जमकर शेयर करते हैं. और जो गांधीवादी नहीं हैं, वो भी शेयर करते हैं. बाबा साहब के चाहने वाले भी शेयर करते हैं.

क्या है दावा?

इस तस्वीर में महात्मा गांधी बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर के पैर छूते नजर आ रहे हैं. कहना न होगा कि इस तस्वीर के साथ देखते ही शेयर करो की अपील भी संलग्न है. पहले इस बात के कुछ नमूने देख लीजिए.

fake


 

Ramesh tweet


 

देख लिया न आपने? कैसे इन तस्वीरों में गांधी आंबेडकर के पैर पड़ रहे हैं. पर अगर अब हम आपको कहें कि ये तस्वीर असली नहीं है तो आप क्या करेंगे? पहले तो सवाल उठाएंगे कि ऐसा कैसा हो सकता है? फोटो में तो साफ-साफ दिख रहा है कि गांधी पैर छू रहे हैं. तो आपके लिए 2016 के ग़ालिब झलेला का एक ताजा शेर पेश है:

ये सोशल मीडिया नहीं आसां, बस इतना समझ लीजिए
फोटोशॉप का भड़कीला दरिया है, तैर के जाना है…

अब शायरी खत्म करते हैं. पर्दा उठाते हैं.

शुरू करते हैं पड़ताल 

दरअसल ये दोनों ही तस्वीरें अलग-अलग हैं. दोनों को किसी एक फोटोशॉप वाले बंदे ने जोड़ दिया है. बारी-बारी से जानिए, ये दोनों तस्वीरें कहां और कब की हैं.

1.

ये डॉक्टर आंबेडकर की फुल फैमिली फोटो है. तस्वीर में डॉ आंबेडकर अपनी वाइफ सविता के साथ बैठे हैं. बीच में बैठा है उनका पालतू कुत्ता. और पीछे खड़े हैं उनके यहां काम करने वाले सुदामा. ये हुई पहली तस्वीर.

ये है असली तस्वीर
ये है असली तस्वीर

2.

अब बात दूसरी तस्वीर की. ये तस्वीर है साल 1930 की. बापू जी डांडी मार्च के लिए नमक उठा रहे हैं. पीछे गांधी समर्थक लोग खड़े हैं.Salt_March

अब देखिए फोटोशॉप करने वाले की कलाकारी. 

Photoshop image

फोटो बनाने वाले ने आंबेडकर की फैमिली और गांधी की नमक उठाते हुए वाली फोटो उठाई. फोटोशॉप खोला और दिखा डाली कलाकारी.  नतीजा आपके सामने है. अब अगर आपने ये तस्वीर फोटोशॉप के बाद वाली ही कहीं देखी थी, तो लीजिए इस स्टोरी का लिंक और जाकर दिखा डालिए दुनियावालों को कि मार्केट में झूठ फैला हुआ है.

गांधी की आंबेडकर के पैर छूती तस्वीर झूठी है.


क्रेडिट: smhoaxslayer

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

इबारत : शरद जोशी की वो 10 बातें जिनके बिना व्यंग्य अधूरा है

आज शरद जोशी का जन्मदिन है.

इबारत : सुमित्रानंदन पंत, वो कवि जिसे पैदा होते ही मरा समझ लिया था परिवार ने!

इनकी सबसे प्रभावी और मशहूर रचनाओं से ये हिस्से आप भी पढ़िए

गिरीश कर्नाड और विजय तेंडुलकर के लिखे वो 15 डायलॉग, जो ख़ज़ाने से कम नहीं!

आज गिरीश कर्नाड का जन्मदिन और विजय तेंडुलकर की बरसी है.

पाताल लोक की वो 12 बातें जिसके चलते इस सीरीज़ को देखे बिन नहीं रह पाएंगे

'जिसे मैंने मुसलमान तक नहीं बनने दिया, आप लोगों ने उसे जिहादी बना दिया.'

ऑनलाइन देखें वो 18 फ़िल्में जो अक्षय कुमार, अजय देवगन जैसे स्टार्स की फेवरेट हैं

'मेरी मूवी लिस्ट' में आज की रेकमेंडेशन है अक्षय, अजय, रणवीर सिंह, आयुष्मान, ऋतिक रोशन, अर्जुन कपूर, काजोल जैसे एक्टर्स की.

कैरीमिनाटी का वीडियो हटने पर भुवन बाम, हर्ष बेनीवाल और आशीष चंचलानी क्या कह रहे?

कैरी के सपोर्ट में को 'शक्तिमान' मुकेश खन्ना भी उतर आए हैं.

वो देश, जहां मिलिट्री सर्विस अनिवार्य है

क्या भारत में ऐसा होने जा रहा है?

'हासिल' के ये 10 डायलॉग आपको इरफ़ान का वो ज़माना याद दिला देंगे

17 साल पहले रिलीज़ हुई इस फ़िल्म ने ज़लज़ला ला दिया था

4 फील गुड फ़िल्में जो ऑनलाइन देखने के बाद दूसरों को भी दिखाते फिरेंगे

'मेरी मूवी लिस्ट' में आज की रेकमेंडेशंस हमारी साथी स्वाति ने दी हैं.

आर. के. नारायण, जिनका लिखा 'मालगुडी डेज़' हम सबका नॉस्टैल्जिया बन गया

स्वामी और उसके दोस्तों को देखते ही बचपन याद आता है