Submit your post

Follow Us

तय कर लो कि इस लड़की ने गीता पर पेशाब किया या कुरान पर, जिसकी इसे ये सजा मिली?

सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट के मुताबिक, इस लड़की ने कुरान का अपमान किया था. नाराज होकर खुदा ने इसकी ये हालत कर दी.

गीता पर पेशाब करने से इंसान के साथ क्या हो सकता है?

वो ही, जो कुरान पर करने से हो जाता है!

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर खूब शेयर हो रही है. इसमें एक लड़की है. उसके चेहरे पर खूब सारे बाल दिख रहे हैं. सिर पर घने बाल. मोटी-घनी भंवें. मूंछ. दाढ़ी. और गाल पर भी खूब बाल.

वायरल हो रही इन तस्वीरों पर क्या लिखा है?
इस लड़की की फोटो के ऊपर दो तरह के संदेश हैं. दोनों संदेशों का व्याकरण बहुत खराब है. व्याकरण हमने सुधार दिया है. आप बस पढ़िए. पहले संदेश में लिखा है:

इस औरत ने दुनिया की सबसे बड़ी किताब गीता पर पेशाब किया था. इसीलिए भगवान ने इसका ये हाल किया है.

gita

कई और जगहों पर इसी से मिलता-जुलता एक दूसरा मेसेज है. उसमें लिखा है:

इस औरत ने दुनिया की सबसे बड़ी किताब कुरान पाक पर पेशाब किया था. इसीलिए खुदा ने इसका ये हाल किया है.

quran

खूब शेयर हो रही हैं ये तस्वीरें
दोनों संदेशों की लाइन, उसकी भाषा और व्याकरण की गलतियां बिल्कुल एक जैसी हैं. फर्क है गीता और कुरान का. भगवान और खुदा का. बस इतना ही अंतर है. बाकी पूरी तस्वीर और मैसेज एक जैसा है. इसे लोग खूब शेयर कर रहे हैं. हिंदू नाम वाले भगवान वाला मेसेज शेयर कर रहे हैं. और मुस्लिम खुदा वाला मेसेज.

क्या है इस वायरल हो रही पोस्ट का सच?
हमने इंटरनेट को थोड़ा खंगाला. हमें ये तस्वीर वाली लड़की इंटरनेट पर मिल गई. एक खबर नजर आई. मई 2016 की. ब्रिटेन, अमेरिका और भारत के कई अखबारों में मिली. तस्वीर में जो लड़की नजर आ रही है, उसका नाम है बीथी अख्तर. बीथी बांग्लादेश की रहने वाली हैं. उनके चेहरे पर उगे इतने सारे बालों की वजह है- वरवुल्फ सिंड्रोम. ये एक बहुत दुर्लभ किस्म की बीमारी है. इतनी दुर्लभ कि दुनिया में इसके गिनती के केस हुए हैं. शायद चार या पांच. इस सिंड्रोम की वजह से इंसान के चेहरे और शरीर पर घने बाल उग जाते हैं.

देखिए, इस पोस्ट को साढ़े छह हजार से ज्यादा लोग शेयर कर चुके हैं.
देखिए, इस पोस्ट को साढ़े छह हजार से ज्यादा लोग शेयर कर चुके हैं.

स्तन इतने बड़े हो गए कि चलना भी मुश्किल हो गया
बीथी बचपन से ही ऐसी थीं. उनकी मां के मुताबिक, वो जब पैदा हुई तब ही उसके शरीर पर खूब घने बाल थे. घरवालों ने सोचा कि धीरे-धीरे अपने आप चले जाएंगे. लेकिन ऐसा नहीं हुआ. इस सिंड्रोम की वजह से बीथी के मसूड़े सूज गए. फिर पीरियड्स के बाद एक और बड़ी दिक्कत हो गई. बीथी के स्तन काफी बड़े हो गए. 2016 में बीथी 12 साल की थीं. उनका कुल वजन था 38 किलो. इसमें से आधे से ज्यादा वजन उनके स्तनों का था. उनके स्तन इतने बड़े हो गए कि लटकते हुए पेट के नीचे पहुंच गए. इतने भारी स्तनों की वजह से बीथी न तो ठीक से खड़ी हो पातीं और न चल पातीं. इसी वजह से उनका स्कूल जाना भी बंद हो गया. जबकि वो पढ़ने में बहुत होशियार थीं. आगे चलकर डॉक्टर बनना चाहती थीं.

लोग बीथी को देखकर उनकी हंसी उड़ाते
चीजें इतने तक ही नहीं रहीं. लोग जब भी बीथी को देखते, उनका मजाक उड़ाते. उनके ऊपर हंसते. मानो वो कोई जोकर हों. कई लोग उन्हें दानव तक कह देते. जिस चीज में बीथी की कोई गलती नहीं थी, उसकी वजह से उनका मजाक उड़ता था. सिंड्रोम के कारण होने वाली परेशानी, पढ़ाई छूटने की तकलीफ, नॉर्मल जिंदगी न जी पाने का दर्द और इनके अलावा लोगों की हंसी. बीथी की तकलीफ देखकर उनके घरवालों को भी बड़ा दर्द होता. उनके पिता अब्दुल रज्जाक को बेटी के इलाज के लिए कर्ज लेना पड़ा. वो बस इतना चाहते थे कि उनकी बेटी सामान्य जिंदगी जी सके. खुश रह सके.

13-14 साल की एक बच्ची लोगों को डराने का जरिया बन गई!
बीथी की कहानी देश-विदेश के कई अखबारों में छपी थी. उनकी तस्वीरें आपको इंटरनेट पर भी मिल जाएगी. शायद वहीं से लोगों को बीथी की तस्वीर मिली होगी. और उन्हें ये कारस्तानी करने की सूझी होगी. कि एक लड़की की परेशानी को अपने अजेंडा के लिए भुनाएं. बीथी की तस्वीर पर धार्मिक संदेश लिखकर उसे घुमाया जाने लगा. एक 13-14 साल की एक बच्ची लोगों को डराने का जरिया बन गई. ये हद शर्मनाक हरकत है.

बीथी को कैसा लगेगा ये पोस्ट्स देखकर?
बीथी को जन्मजात ये बीमारी है. वो इस सिंड्रोम के साथ पैदा हुईं. पैदा होने से पहले कोई कैसे किसी के साथ कुछ गलत कर सकता है? गीता या कुरान का अपमान कैसे कर सकता है? और एक नवजात बच्चे को कैसे कोई भगवान या खुदा (जो लोग मानते हों) सजा दे सकता है? बीथी को जो सिंड्रोम है, उसमें उनका कोई दोष नहीं. फिर भी उन्होंने बहुत भुगता. उनकी हंसी उड़ाई गई. सोचिए. अगर इन पोस्ट्स पर बीथी की नजर पड़े, तो उनको कैसा महसूस होगा? कि लोग उनकी बीमारी से कैसा-कैसा अजेंडा पूरा करने में लगे हैं.

जून 2016 में दुनिया के कई अखबारों ने बीथी की स्टोरी को कवर किया. ये ब्रिटिश अखबार मिरर का स्क्रीनशॉट है.
जून 2016 में दुनिया के कई अखबारों ने बीथी की स्टोरी को कवर किया. ये ब्रिटिश न्यूज़वेबसाइट मिरर का स्क्रीनशॉट है.

एक और बात है, जो समझ नहीं आ रही. कि गीता और कुरान वाले इन वायरल पोस्ट्स की भाषा एकदम एक जैसी क्यों है? दोनों ने साथ बैठकर लिखा कि एक-दूसरे से कॉपी किया? कॉपी किया, तो पहले किसने लिखा और नकल किसने की? जो भी हुआ है, ये तो पता चल ही गया है कि ये कितनी वाहियात हरकत है.

ये अमेरिका के न्यू यॉर्क पोस्ट में छपी बीथी की खबर का स्क्रीनशॉट है.
ये अमेरिका के न्यू यॉर्क पोस्ट में छपी बीथी की खबर का स्क्रीनशॉट है.

ये भी पढ़ें: 

फैंस को खुश करने के लिए ये काम धोनी ही कर सकता है

क्या गिरिराज सिंह के इस वीडियो से भी छेड़छाड़ हुई है?

अररिया का ‘असली वीडियो’ आया है और मामला ज्यादा पेचीदा हो गया है

बांग्लादेश के ‘नागिन डांस’ का जवाब हरभजन सिंह ने बिच्छू डांस से दिया है

शोभा डे ने मजाक किया, UNESCO ने उसका छीछालेदर कर दिया

आपने ये तस्वीर खूब देखी होगी, लेकिन क्या ये जानते हैं कि ये आदमी कौन है?


क्या है न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर वो बीमारी जो इरफान खान को हुई है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

इबारत : शरद जोशी की वो 10 बातें जिनके बिना व्यंग्य अधूरा है

आज शरद जोशी का जन्मदिन है.

इबारत : सुमित्रानंदन पंत, वो कवि जिसे पैदा होते ही मरा समझ लिया था परिवार ने!

इनकी सबसे प्रभावी और मशहूर रचनाओं से ये हिस्से आप भी पढ़िए

गिरीश कर्नाड और विजय तेंडुलकर के लिखे वो 15 डायलॉग, जो ख़ज़ाने से कम नहीं!

आज गिरीश कर्नाड का जन्मदिन और विजय तेंडुलकर की बरसी है.

पाताल लोक की वो 12 बातें जिसके चलते इस सीरीज़ को देखे बिन नहीं रह पाएंगे

'जिसे मैंने मुसलमान तक नहीं बनने दिया, आप लोगों ने उसे जिहादी बना दिया.'

ऑनलाइन देखें वो 18 फ़िल्में जो अक्षय कुमार, अजय देवगन जैसे स्टार्स की फेवरेट हैं

'मेरी मूवी लिस्ट' में आज की रेकमेंडेशन है अक्षय, अजय, रणवीर सिंह, आयुष्मान, ऋतिक रोशन, अर्जुन कपूर, काजोल जैसे एक्टर्स की.

कैरीमिनाटी का वीडियो हटने पर भुवन बाम, हर्ष बेनीवाल और आशीष चंचलानी क्या कह रहे?

कैरी के सपोर्ट में को 'शक्तिमान' मुकेश खन्ना भी उतर आए हैं.

वो देश, जहां मिलिट्री सर्विस अनिवार्य है

क्या भारत में ऐसा होने जा रहा है?

'हासिल' के ये 10 डायलॉग आपको इरफ़ान का वो ज़माना याद दिला देंगे

17 साल पहले रिलीज़ हुई इस फ़िल्म ने ज़लज़ला ला दिया था

4 फील गुड फ़िल्में जो ऑनलाइन देखने के बाद दूसरों को भी दिखाते फिरेंगे

'मेरी मूवी लिस्ट' में आज की रेकमेंडेशंस हमारी साथी स्वाति ने दी हैं.

आर. के. नारायण, जिनका लिखा 'मालगुडी डेज़' हम सबका नॉस्टैल्जिया बन गया

स्वामी और उसके दोस्तों को देखते ही बचपन याद आता है