Submit your post

Follow Us

फ़िल्म रिव्यू: नेत्रिकन

आज फ़िल्मी फ्राइडे है. कई फ़िल्में अलग-अलग ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज़ हो रही हैं. इन कई में से हमने आपके लिए डिज्नी+ हॉटस्टार पर रिलीज़ हुई तमिल फ़िल्म ‘नेत्रिकन ‘ देखी. ‘नेत्रिकन’ एक A रेटेड फ़िल्म है. यानी सिर्फ 18 साल के ऊपर के ही लोग इस फ़िल्म को देख सकते हैं. ‘नेत्रिकन’ 2011 में रिलीज़ हुई साउथ कोरियाई फ़िल्म ‘ब्लाइंड’ का तीसरा रीमेक है. ‘ब्लाइंड’ फ़िल्म का इससे पहले 2015 में ‘द विटनेस’ नाम से चाइना में और 2019 में  जापान में मिएनाई मोकुगेकी-शा’ नाम से भी रीमेक बन चुका है. ‘ब्लाइंड’ के हिंदी संस्करण की भी शूटिंग पूरी हो चुकी है. इस फ़िल्म में मुख्य रोल में आपको सोनम कपूर नज़र आएंगी. ‘ब्लाइंड’ का तमिल वर्शन यानी ‘नेत्रिकन’ फ़िल्म कैसी है. क्या फ़िल्म ओरिजनल थ्रिलर से मैच कर पाई या नहीं, इस पर आगे बात करेंगे.

#कहानी

ये कहानी है स्मार्ट एंड स्ट्रोंग सीबीआई अफ़सर दुर्गा की. हट्टे-कट्टे गुंडों को एक वार में चित कर देने वाली जांबाज़ महिला. लेकिन एक दिन सड़क दुर्घटना में दुर्गा अपनी आखें गवा देती है. जिस कारण वो सीबीआई की नौकरी करने में भी सक्षम नहीं रहती. लेकिन दुर्गा इस मुश्किल परिस्थिति का भी पूरे जज़्बे के साथ सामना करती है. नेत्रहीन जीवन जीने के सारे कौशल जैसे ब्रेल लिपि सीखना, हियरिंग सेंस, स्मेलिंग सेंस डेवलप करना, रास्ते याद रखने जैसे कौशल सीखने लगती है. यहां दुर्गा का पालतू डॉग कक्का उसका मार्गदर्शक बनता है. जिसे साथ लिए वो धीरे-धीरे इस जीवन में ढलने लगती है. एक तरफ़ जहां दुर्गा का जीवन आसान हो रहा होता है, वहीं दूसरी ओर शहर में कम उम्र की लड़कियों की गुमशुदगी की कंप्लेंटस से पुलिस थानों के रजिस्टर भरते जा रहे हैं. इन सब किडनैपिंग्स के पीछे है एक साइको आदमी, जो मासूम लड़कियों को किडनैप कर उन्हें यौन यातनाएं दे कर अपनी हवस का शिकार बना रहा है. एक दिन बस स्टॉप पर इस दरिंदे की नज़र दुर्गा पर पड़ती है. वो बाकी लड़कियों की तरह दुर्गा को भी किडनैप करने की कोशिश करता है. लेकिन चूंकि दुर्गा सीबीआई ऑफिसर रह चुकी होती है, उसे खतरे को आभास हो जाता है और वो चकमा दे वहां से बच निकलती है. इस वारदात की कंप्लेंट करने दुर्गा थाने जाती है.

यहां उसकी मुलाकात होती है इंस्पेक्टर मनीकंदन से. मनीकंदन कहने को तो इंस्पेक्टर हैं लेकिन इज्ज़त हवालदार भी नहीं करता इनकी. सीनियर निकम्मा समझते हैं.और साथ के अफ़सर ‘सांभर’ बुलाते हैं. दुर्गा की कंप्लेंट सुन मनीकंदन को शक होता है कि इस केस के तार कहीं ना कहीं शहर में हो रहे लड़कियों के अपहरणों से जुड़े हैं. अब इस केस की मुख्य गवाह नेत्रहीन दुर्गा बन चुकी है. मनीकंदन ये बात अपने सीनियर्स को बताते हैं लेकिन वे इस बात को फ़िज़ूल बता टाल देते हैं. लेकिन मनीकंदन और दुर्गा दोनों साथ मिलकर इस केस की छानबीन में जुट जाते हैं. क्या दुर्गा इस अपराधी को पकड़ने में कामयाब होती है. या इस साइकोपैथ का अगला शिकार बनती है ये आपको फ़िल्म में देखने को मिलेगा.

इन दो अभिनेताओं की बदौलत ही फ़िल्म में रुचि बनी रहती है.
इन दो अभिनेताओं की बदौलत ही फ़िल्म में रुचि बनी रहती है.

#कैसी है फ़िल्म

‘नेत्रिकन’ एक टिपिकल थ्रिलर फ़िल्म लगती है. यानी आजतक बनी ज्यादातर थ्रिलर फिल्मों वाला ही कांसेप्ट है. एक साइको विलन. जो सारे अपराध डिम रेड एंड यलो लाइट में करता है. ब्लैक हूडी पहनता है. खैर, ‘नेत्रिकन’ में थ्रिलर फ़िल्म वाला आनंद पूरी फ़िल्म के दौरान कहीं नहीं आता. कुछ-कुछ सीन्स इलास्टिक की तरह खिंचे हुए लगते हैं. एक अच्छी थ्रिलर फ़िल्म में बैकग्राउंड स्कोर बहुत अहम भूमिका निभाता है लेकिन ‘नेत्रिकन’ का बैकग्राउंड स्कोर एकदम बेजान है. फ़िल्म में कुछ सीक्वेंस बहुत क्लीशे और इललॉजिकल हैं. फ़िल्म में गिरीश गोपालकृष्णन का संगीत अच्छा है. लेकिन गैरज़रूरी है. जो फ़िल्म की बजाय अगर सिर्फ प्रमोशन में इस्तेमाल होता तो ज्यादा बेहतर होता. क्यूंकि फ़िल्म में बीच-बीच में आने वाले गाने मन में उत्पन्न हो रहे थोड़े-बहुत रोमांच को भी स्वाहा कर देते हैं. फ़िल्म की एंडिंग भी आधे लोग पहले ही आसानी से प्रिडिक्ट कर सकते हैं. लेकिन इन सब कमियों के बावजूद फ़िल्म बोर नहीं करती. ज्यादा मज़ा तो नहीं आता लेकिन मज़े की उम्मीद बनी रहती है.

नयनतारा ने फ़िल्म में कमाल अभिनय किया है.
नयनतारा ने फ़िल्म में कमाल अभिनय किया है.

#एक्टिंग एंड डायरेक्शन

फ़िल्म में दुर्गा की मुख्य भूमिका में हैं नयनतारा. फ़िल्म में नयनतारा का अभिनय ही है जो दर्शक को अंत फ़िल्म से जोड़े रखने में कामयाब होता है. एक नेत्रहीन लड़की की बॉडी लैंग्वेज के हिसाब से देखें तो खामी लगती है. लेकिन चूंकि किरदार को स्मार्ट सेंसेस वाला दिखाया है तो यहां उन्हें ‘बेनिफिट ऑफ़ डाउट’ दे सकते हैं. बाकी आखों में उन्होंने जो पूरी फ़िल्म के दौरान स्थिरता बरकरार रखी है, वो सराहनीय है. पुलिस इंस्पेक्टर मनीकंदन का रोल किया है मनीकंदन अचारी ने. ये करैक्टर काफ़ी अच्छा लिखा गया है. एक नाइव किस्म का अंडरडॉग पुलिस अफ़सर. इस किरदार को मनीकंदन ने उतने ही अच्छे से पोट्रे किया है. फ़िल्म में ये करैक्टर हंसाने और रुलाने दोनों में सफ़ल होता है. फ़िल्म के विलन बने हैं अजमल अमीर. एक सरफ़िरे अपराधी की भूमिका निभाने में अजमल विफ़ल होते हैं. बेसिक मुखमुद्राओं का सहारा लेकर इस इंटेंस करैक्टर को पोट्रे करने की उनकी कोशिश पूरे तरीके से कमज़ोर बैठती है. कुछ पुरानी इंग्लिश फिल्मों के खलनायकों के जेश्चर्स को दोहराने के अलावा वो अपनी तरफ़ से किरदार को नयापन देने में नाकाम होते हैं. फ़िल्म को डायरेक्ट किया है मिलिंद राउ ने. मिलिंद के निर्देशन में भी कोई ख़ास बात नज़र नहीं आती. राजशेखर की सिनेमेटोग्राफी में भी कोई दृश्य ऐसा नहीं, जिस पर अलग से चर्चा की जाए.

अजमल अमीर एज़ जेम्स.
अजमल अमीर एज़ जेम्स.

#देखें या नहीं

‘नेत्रिकन’ सस्पेंस थ्रिलर जॉनर के साथ न्याय नहीं कर पाती. इस डूबते जहाज़ को नयनतारा और मनीकंदन अचारी अपने अभिनय से अंत तक बचाए रखने की भरपूर कोशिश करते हैं. लेकिन फ़िल्म की घिसी कहानी, बेदम बैकग्राउंड स्कोर,और अत्यधिक लंबाई जैसे सुराखों के चलते अंत में शिप यानी फ़िल्म डूब ही जाती है.


वीडियो : कुरुति: सांप्रदायिक नफ़रत पर बनी ये फिल्म क्यों मिस नहीं करनी चाहिए?

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

बड़े एक्टर ने शूटिंग के वक्त प्रॉप गन चलाई, महिला की मौत हो गई

बड़े एक्टर ने शूटिंग के वक्त प्रॉप गन चलाई, महिला की मौत हो गई

हादसे में फिल्म डायरेक्टर जोएल सूज़ा भी घायल हो गए.

जेल पहुंचे शाहरुख खान, लोग बोले, 'विनम्रता हो तो ऐसी'

जेल पहुंचे शाहरुख खान, लोग बोले, 'विनम्रता हो तो ऐसी'

आर्यन से मिलकर जेल से बाहर आते शाहरुख का वीडियो वायरल हो रहा है.

गेल, कोहली ABD नहीं तो फिर किसके नाम हैं T20 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन?

गेल, कोहली ABD नहीं तो फिर किसके नाम हैं T20 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन?

कमाल की है ये लिस्ट.

आजकल कहां हैं 2007 T20 वर्ल्ड कप जीतने वाले भारतीय क्रिकेटर?

आजकल कहां हैं 2007 T20 वर्ल्ड कप जीतने वाले भारतीय क्रिकेटर?

कुछ तो एकदम ही अलग चले गए.

अक्षय कुमार के वो 7 रिस्की स्टंट, जिन्हें देख चीखें निकल गईं

अक्षय कुमार के वो 7 रिस्की स्टंट, जिन्हें देख चीखें निकल गईं

क्योंकि खिलाड़ी बनने के लिए अक्षय कुमार होना पड़ता है.

अक्षय की 'गोरखा' के पोस्टर में रिटायर्ड मेजर ने करारी ग़लती पकड़ ली

अक्षय की 'गोरखा' के पोस्टर में रिटायर्ड मेजर ने करारी ग़लती पकड़ ली

मूवी में अक्षय मेजर ईयान कार्डोजो का रोल प्ले करेंगे.

आर्यन खान मामले पर रिया चक्रवर्ती ने क्या कमेंट कर दिया?

आर्यन खान मामले पर रिया चक्रवर्ती ने क्या कमेंट कर दिया?

जिस सिचुएशन में अभी आर्यन हैं, कुछ समय पहले रिया भी वैसी ही सिचुएशन में फंसी हुई थीं

आर्यन मामले में इंडस्ट्री की चुप्पी पर भड़के शत्रुघ्न सिन्हा, कहा- 'ये लोग गोदी कलाकार हैं'

आर्यन मामले में इंडस्ट्री की चुप्पी पर भड़के शत्रुघ्न सिन्हा, कहा- 'ये लोग गोदी कलाकार हैं'

शत्रुघ्न सिन्हा ने अपनी नाराज़गी ज़ाहिर करते हुए कहा- 'ये इंडस्ट्री कुछ डरपोक लोगों का झुंड है.'

अपनी को-एक्टर की ये बात बताकर नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने पूरी इंडस्ट्री की पोल खोल दी!

अपनी को-एक्टर की ये बात बताकर नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने पूरी इंडस्ट्री की पोल खोल दी!

नवाज ने बताया कि लोगों को लगता है नेपोटिज़्म हिंदी फिल्म इंडस्ट्री की सबसे बड़ी समस्या है. मगर सबसे बड़ी समस्या ये है!

करीना को 12 करोड़ पर कलपने वालो, रणबीर को 'रामायण' के लिए इतने करोड़ मिल रहे

करीना को 12 करोड़ पर कलपने वालो, रणबीर को 'रामायण' के लिए इतने करोड़ मिल रहे

ऋतिक को भी इतने पैसे ऑफर हुए हैं.