Submit your post

Follow Us

फ़िल्म रिव्यू : बादशाहो

इमरजेंसी के दौर की कहानी. गायत्री देवी का जीवन. उनका सोना. इंदिरा गांधी की ज़िद. जयपुर से दिल्ली का रास्ता और आर्मी के ट्रक्स. इन सब के कॉम्बिनेशन से बनी कहानी हर हिन्दुस्तानी ने सुन रखी होगी. और इसी कहानी पर बनी फ़िल्म आई बादशाहो. अजय देवगन, इमरान हाशमी, इलियाना डिक्रूज़, विद्युत जामवाल, एषा गुप्ता और संजय मिश्रा. डायरेक्टर मिलन लुथरिया. मिलन ने इससे पहले वंस अपॉन अ टाइम इन मुंबई बनाई और डर्टी पिक्चर भी. ये फ़िल्म चूंकि इमरजेंसी के टाइम को दिखाती है इसलिए ये भी एक पीरियड ड्रामा फ़िल्म है, उनकी बाकी दो फिल्मों की तरह.

भवानी यानी अजय देवगन, गीतांजलि देवी यानी इलियाना का पर्सनल बॉडीगार्ड है. दोनों के बीच में इसके अलावा भी रिलेशनशिप डेवेलप हो जाती है. भवानी डेडिकेटेड है. इसलिए जब गीतांजलि जेल जाती है तो वो उसे वहां से निकालने का और उसके चुराए जा रहे सोने को बचाने का जिम्मा उठाता है. भवानी इस काम में मदद लेता है दलिया यानी इमरान हाशमी, गुरु जी यानी संजय मिश्रा और वो नाम जो याद नहीं रहता यानी ईशा गुप्ता की. चोरी को रोकने जयपुर आता है आर्मी का अफ़सर यानी विद्युत जामवाल. अब कहानी यही है कि सोना मिलता किसको है.

'बादशाहो' में विद्युत जमवाल, इलियाना डिक्रूज, अजय देवगन, इमरान हाशमी, ईशा गुप्ता और संजय मिश्रा.
‘बादशाहो’ में विद्युत जामवाल, इलियाना डिक्रूज, अजय देवगन, इमरान हाशमी, ईशा गुप्ता और संजय मिश्रा.

फ़िल्म में कई समस्याएं हैं. मुख्य समस्या ये है कि जहां की फ़िल्म बनाई है वहां की भाषा ही नहीं पकड़ पाए. इस देश में एक फ़िल्म बनी थी – लगान. आमिर खान एक्टर भी थे और प्रोड्यूसर भी. फ़िल्म में चूंकि बोली वही उत्तर प्रदेश के किसी गांव वाली थी, आमिर ने सोचा था कि वो एक महीना किसी गांव में जाकर रहेंगे और वहां उनकी बोली सीखेंगे. लेकिन फिर वो प्रोडक्शन और बाकी कामों में ऐसा उलझ गए कि शूटिंग का दिन आ गया. उन्होंने बस ऐसे ही, कैसे भी डायलॉग्स बोले. मुद्दे की बात ये है कि आमिर ने कम से कम सोचा तो था कि वो प्रैक्टिस करेंगे. लेकिन अजय देवगन को तो शायद सेट पर आने के बाद मालूम चला था कि कहानी राजस्थान की है तो बोली-भाषा भी वही होनी चाहिए.

फ़िल्म का टाइटल है बादशाहो. ‘बादशाह’ पर्शियन भाषा का शब्द है. ज़्यादातर मुस्लिम शासकों के लिए इस्तेमाल किया जाता है. वरना राजा कहकर काम चला लिया जाता है. लेकिन जब बादशाह को बादशाहो कह दिया जाता है तो वो पूरी तरह से पंजाबी हो जाता है. और उस पर्शियन बादशाह को पंजाबी लस्सी पिलाकर राजस्थान की रेत पर लाकर छोड़ दिया गया. अब वो छटपटा रहा है. फ़िल्म में जो राजस्थानी बोली के नाम पर चूरन चटाया जा रहा है वो असल में गुड़गांव के टायर खोलने वाले बोलते हैं. बस ‘न’ को ‘ण’ कह देने से राजस्थानी नहीं हो जाती.


एक समस्या और. कहानी है इमरजेंसी के दौर की. 80 के दशक से भी पहले की. गाने आते हैं तो एक को छोड़कर बाकी किसी में एक भी राजस्थानी इंस्ट्रूमेंट की आवाज़ नहीं सुनाई देती है. साथ ही गानों में ‘नॉटी’ और ‘फंकी’ जैसे शब्द और ‘मूव योर बॉडी हौले हौले’ जैसे जुमले हैं. सुनने में अजीब लगता है. एक पीरियड ड्रामा थी ‘लुटेरा’ और एक है ‘बादशाहो’. आगे न ही कुछ कहा जाए.

फ़िल्म में एक्शन खूब है. जिसे बिना कहानी के एक्शन देखना हो और WWE देखते-देखते पक चुका हो, वो इस फ़िल्म को देखे.


 

एक मज़ेदार बात भी है. संजय मिश्रा. फ़िल्म की सभी अच्छी लाइनें उन्हीं के पास थीं. क्यूंकि उन्हें इस फ़िल्म में किसी से प्यार नहीं हुआ था न. जिसको प्यार था वो ऐसी सेंटी लाइनें बोल रहा था कि सांस लेना मुश्किल हो जाए. फ़िल्म में लड़कियों को क्यूं रखा, मालूम नहीं. इलियाना चूंकि मेन किरदार ही थीं इसलिए उनका होना समझा जा सकता है लेकिन ईशा गुप्ता? वो फ़िल्म में न होतीं तो एक चवन्नी का भी फ़र्क नहीं पड़ता. इलियाना जेल में थीं तो भी वैसी ही दिख रही थीं जैसे वो अपने महल में दिखती थीं. ऐसा जेल भगवान सबको दे.

baadshaho
फ़िल्म का एक सीन.

कहानी में ट्विस्ट पे ट्विस्ट आते रहते हैं. और आपको समझ में आ जाता है कि ट्विस्ट आने वाला है. ऐसा लगता है कि लिखने वाले के साथ कोई बैठा था और हर आधे घंटे पर उसे याद दिला रहा था, “भाई, एक ट्विस्ट डाल दे.”

फ़िल्म देखनी है तो देखिए, मैं नहीं कह रहा कि देखिए. मेरे जो दो-सवा दो घंटे बर्बाद हुए, आइए उनके लिए 2 मिनट का मौन रखते हैं. ईशा गुप्ता ने एक्टिंग की जो लेनी-देनी की है, उसके लिए 2 मिनट का एक्स्ट्रा मौन रखते हैं. बाकी का तो ऐसा है कि काफी कसर अजय पिछली फ़िल्म शिवाय में पूरी कर ही चुके हैं.

ॐ शांति! शांति!! शांति!!!


 ये भी पढ़ें:

फ़िल्म रिव्यू : शुभ मंगल

‘पप्पी नाम है हमारा, लिख के बताएं कि दे के?’ एक पात्र और ठहाके बेशुमार..

क्रिकेटर अंबाती रायुडू को इतना गुस्सा क्यों आ गया जो बुज़ुर्ग को थप्पड़ मार दिया!

13 किलो वजन घटाया, IPL को गरियाया, फिर टीम इंडिया में आया ये लड़का

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

10 नंबरी

शोएब अख्तर ने विराट कोहली पर क्या कमेंट किया कि अनुष्का के फैन्स भड़क गए

शोएब अख्तर ने विराट कोहली पर क्या कमेंट किया कि अनुष्का के फैन्स भड़क गए

शोएब ने कहा कि विराट को शादी नहीं करनी चाहिए थी.

क्या होता है 'लैवेंडर मैरिज' जिस पर राजकुमार और भूमि की फिल्म 'बधाई दो' बनी है?

क्या होता है 'लैवेंडर मैरिज' जिस पर राजकुमार और भूमि की फिल्म 'बधाई दो' बनी है?

गे और लेस्बियन रिलेशनशिप को एक्सप्लोर करने वाली फिल्म 'बधाई दो' का ट्रेलर आया है.

नेटफ्लिक्स, हॉटस्टार समेत बाकी ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर इस हफ्ते क्या-कुछ आ रहा है?

नेटफ्लिक्स, हॉटस्टार समेत बाकी ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर इस हफ्ते क्या-कुछ आ रहा है?

24 से 30 जनवरी तक रिलीज़ होने वाली फिल्मों और सीरीज़ की लिस्ट.

एटली की फिल्म के लिए अल्लू अर्जुन को मिलेगी 100 करोड़ रुपए फीस!

एटली की फिल्म के लिए अल्लू अर्जुन को मिलेगी 100 करोड़ रुपए फीस!

शाहरुख खान की फिल्म खत्म करने के बाद अल्लू अर्जुन के साथ फिल्म शुरू करेंगे एटली.

सलमान के पड़ोसी का आरोप, उनके फार्महाउस में गड़ी हैं स्टार्स की लाशें

सलमान के पड़ोसी का आरोप, उनके फार्महाउस में गड़ी हैं स्टार्स की लाशें

सलमान खान ने उन्हीं के खिलाफ डिफेमेशन केस किया था, अब जवाब दिया है.

सुशांत सिंह राजपूत की फिल्मों के 16 बेहतरीन डायलॉग्स, जो ज़िंदगी जीने का तरीका समझाते हैं

सुशांत सिंह राजपूत की फिल्मों के 16 बेहतरीन डायलॉग्स, जो ज़िंदगी जीने का तरीका समझाते हैं

कुछ ऐसे हैं, जिन्हें सुनकर आपको लगेगा जैसे ये आपके लिए ही लिखे गए हों.

22 बातों में जानिए 'पुष्पा' वाले सुपरस्टार अल्लू अर्जुन की पूरी कहानी

22 बातों में जानिए 'पुष्पा' वाले सुपरस्टार अल्लू अर्जुन की पूरी कहानी

वो सुपरस्टार, जिसकी फैमिली में पहले ही 12 स्टार्स हैं.

'सर' वाली एक्ट्रेस ने अंडर आर्म के बाल वाली फोटो डाली, लोग हल्ला करने लगे

'सर' वाली एक्ट्रेस ने अंडर आर्म के बाल वाली फोटो डाली, लोग हल्ला करने लगे

कुछ लोग उनका मैसेज समझ रहे हैं, तो कुछ 'महिला के बदन पर बाल कैसे' वाले थॉट से ग्रसित कमेंट्स कर रहे हैं.

परवीन बाबी के किस्से, जिन्हें डर था कि अमिताभ बच्चन उन्हें मरवा देंगे

परवीन बाबी के किस्से, जिन्हें डर था कि अमिताभ बच्चन उन्हें मरवा देंगे

जिन्होंने हिंदुस्तान को बताया कि एक औरत किसी के साथ रह भी सकती है. खुलेआम. बिना शादी के.

CID के ACP प्रद्युम्न ने बताया, काम नहीं मिल रहा, घर बैठकर थक गए

CID के ACP प्रद्युम्न ने बताया, काम नहीं मिल रहा, घर बैठकर थक गए

'मैं ये नहीं कहूंगा कि मुझे बहुत ऑफर्स मिल रहे हैं. नहीं है, तो नहीं है.'