Submit your post

Follow Us

संसद में राष्ट्रपति के अभिभाषण की छह खास बातें

181
शेयर्स

20 जून, 2019 को देश के राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने संसद के दोनों सदनों को संबोधित किया. संसद के सेंट्रल हॉल में लोकसभा में चुने गए नए सांसदों, राज्यसभा के सांसदों, लोकसभा स्पीकर, उपराष्ट्रपति और प्रानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में राष्ट्रपति ने मोदी सरकार 2.0 के एजेंडे को सामने रखा. पढ़िए राष्ट्रपति के अभिभाषण की 10 मुख्य बातें-

1. तीन तलाक और हलाला पर

तीन तलाक बिल राज्यसभा में अटका हुआ.(सांकेतिक फोटोःरॉयटर्स)
पिछली सरकार में तीन तलाक बिल राज्यसभा में अटक गया था.

राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार तीन तलाक के खिलाफ कानून बनाने की तैयारी में है. तीन तलाक और हलाला जैसी प्रथा का खत्म होना ज़रूरी है. पिछली मोदी सरकार में तीन तलाक का बिल लोकसभा से पास हो गया था, लेकिन राज्यसभा में बहुमत न होने की वजह से अटक गया था. इसके बाद अध्यादेश लाकर तीन तलाक को गैरकानूनी करार दिया गया. अब सरकार फिर से इसे संसद में पास करवाकर कानून का रूप देगी. इस कानून के बन जाने के बाद हलाला पर भी रोक लग जाएगी. मुस्लिम समुदाय में हलाला एक प्रथा है. इसकी नौबत तभी आती है, जब कोई कपल तलाक़ लेने के बाद फिर से शादी करने का ख्वाहिशमंद हो. इसके लिए महिला पहले अपने पति से तलाक लेती है, फिर उसे किसी और से निकाह करना पड़ता है. और सिर्फ निकाह ही नहीं, उस महिला को उस आदमी के साथ शारीरिक संबंध बनाने पड़ते हैं. शारीरिक संबंध बनने के बाद दूसरा पति चाहे तो अपनी मर्जी से तलाक देगा. और इसके बाद महिला अपने पहले पति से निकाह कर सकती है.

2. एक देश-एक चुनाव पर

Election Comission Of India

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने संसद के दोनों सदनों को संबोधित करते हुए कहा कि हर समय देश के किसी न किसी हिस्से में चुनाव होता ही रहता है. इसलिए समय की मांग है कि एक देश- एक चुनाव की व्यवस्था लाई जाए, ताकि देश का विकास तेजी से हो सके. राष्ट्रपति ने लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ करवाने के प्रस्ताव पर विचार करने की बात की. इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने देश की 40 राजनीतिक पार्टियों के अध्यक्षों को न्योता दिया था और सर्वदलीय बैठक बुलाई थी. इसमें 21 राजनीतिक दल शामिल हुए जबकि 16 पार्टियां शामिल नहीं हुईं. कांग्रेस में भी दो फाड़ नज़र आई और इस मामले का निष्कर्ष नहीं निकल पाया है. खुद चुनाव आयोग भी अभी इस एक देश एक चुनाव के लिए तैयार नहीं है.

3. जल शक्ति मंत्रालय

किसानों को पानी की समस्या रही है.
पूरे देश में पानी की समस्या बड़ी होती जा रही है.

राष्ट्रपति ने संसद को बताया कि देश में पानी का संकट 21वीं सदी की सबसे बड़ी समस्या है. जलस्रोत सूख रहे हैं. संकट गहराता जा रहा है. हमें अपने बच्चों के लिए पानी बचाना ही होगा. इसके जरिए जल संरक्षण के उपायों को और प्रभावी बनाया जाएगा. ग्राम सभाओं और सरपंचों के जरिए सुनिश्चित किया जा रहा है कि पीने के पानी की कमी दूर की जा सके. इसके लिए देश के लोग स्वच्छ भारत अभियान की तरह पानी को लेकर भी अभियान चलाएं. इसके लिए सरकार ने नए जलशक्ति मंत्रालय का गठन किया है. भविष्य में इसका फायदा दिखेगा. राष्ट्रपति ने कहा है कि पीने के पानी की दिक्कत को कम करने के लिए काम किया जा रहा है और किसानों को सिंचाई के लिए पानी मुहैया करवाया जा रहा है.

4. सेना के जवानों, देश के किसानों पर

इंडियन आर्मी: संकेतात्मक तस्वीर
इंडियन आर्मी: सांकेतिक तस्वीर

राष्ट्रपति ने कहा कि देश की सुरक्षा में जुटे जवानों के लिए सरकार फैसले ले रही है. जवानों के बच्चों को मिलने वाली स्कॉलरशिप में बढ़ोतरी की गई है. इस स्कॉलरशिप में राज्य पुलिस के जवानों के बच्चों को भी शामिल किया गया है. राष्ट्रपति ने कहा कि किसानों के लिए भी सरकार ने योजनाएं शुरू की हैं. किसानों के लिए पेंशन योजना लागू की जा रही है. सरकार ने छोटे दुकानदारों के लिए भी पेंशन की योजना शुरू की है, जिससे 3 करोड़ दुकानदारों को लाभ मिलेगा.

5. गांवों के विकास पर

भूमि अधिग्रहण बिल भी राज्यसभा में अटका हुआ है.
राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुनी हो जाएगी.

राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार ग्रामीण भारत को मज़बूत बनाने के लिए निवेश कर रही है. अकेले खेती के लिए 25 लाख करोड़ रुपये का निवेश करने का प्रस्ताव है. किसानों को मदद के तौर पर 12 हजार करोड़ रुपये दिए जा चुके हैं. किसानों को आधुनिक खेती को लेकर शिक्षित किया जा रहा है. 2022 तक सभी किसानों की आय दोगुनी कर दी जाएगी. पिछले कई साल से रुकी हुई सिंचाई की योजनाएं पूरी हो रही हैं. मछली पालन को बढ़ावा दिया जा रहा है, जिससे ब्लू क्रांति आ सके.

6. नदियों की सफाई पर

राष्ट्रपति ने कहा कि गंगा के बाद यमुना और दूसरी नदियों की भी सफाई होगी.

राष्ट्रपति ने कहा कि नमामि गंगे योजना के तहत गंगा में नालों के गिरने पर रोक को और अधिक प्रभावी किया जाएगा. गंगा सफाई के बाद कावेरी, पेरियार और यमुना नदी भी साफ होगी. गंगा की धारा को अवरिल बनाया जाएगा.


एक देश, एक चुनाव के मुद्दे पर हुई सर्वदलीय मीटिंग में क्या हुआ?| दी लल्लनटॉप शो| Episode 240

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

संजय दत्त की अगली फिल्म, जो उन्हें सुपरस्टार वाला खोया रुतबा वापस दिला सकती है

'प्रस्थानम' ट्रेलर फिल्म के सफल होने वाली बात पर जोरदार मुहर लगा रही है.

सेक्रेड गेम्स 2: रिव्यू

त्रिवेदी के बाद अब 'साल का सवाल', क्या अगला सीज़न भी आएगा?

फिल्म रिव्यू: बाटला हाउस

असल घटना से प्रेरित होते हुए भी असलियत के बहुत करीब नहीं है. लेकिन बहुत फर्जी होने की शिकायत भी इस फिल्म से नहीं की जा सकती.

फिल्म रिव्यू: मिशन मंगल

फील गुड कराने वाली फिल्म.

दीपक डोबरियाल की एक शब्दशः स्पीचलेस कर देने वाली फिल्म: 'बाबा'

दीपक ने इस फिल्म में अपनी एक्टिंग का एवरेस्ट छू लिया है.

फिल्म रिव्यू: जबरिया जोड़ी

ये फिल्म कंफ्यूज़ावस्था में रहती है कि इसे सोशल मैसेज देना है कि लव स्टोरी दिखानी है.

क्या जापान का ये आर्क ऐटम बम और सुनामी झेलने के बाद भी जस का तस खड़ा है?

क्या ये आर्क परमाणु बम, भूकंप और विशाल समुद्री लहरें झेल गया है?

फिल्म रिव्यू: ख़ानदानी शफ़ाखाना

'खानदानी शफाखाना' की सबसे दिलचस्प बात उसका नाम और कॉन्सेप्ट ही है.

ऐसी बवाल गैंग्स्टर फिल्म आ रही है कि आप दोस्तों से Netflix का पासवर्ड मांगते फिरेंगे

जिसने बनाया है, अनुराग कश्यप ने उसके पैर पकड़ लिए थे

जानिए कैसे खरीदते हैं यूट्यूब पर वीडियो के व्यूज़

इतने बड़े अचीवमेंट के बावजूद बादशाह को गूगल-यूट्यूब ने वो नहीं दिया, जो दुनियाभर के मशहूर सेलेब्रिटीज़ को दिया.