Submit your post

Follow Us

अक्षय कुमार की इस फिल्म का दूसरा ट्रेलर आ गया और ये कतई रिकॉर्ड तोड़ू लग रहा है

61
शेयर्स

मंगलग्रह को एक्सप्लोर करने के लिए इंडिया ने अपनी पहली कोशिश को नाम दिया- मार्स ऑर्बिटर मिशन. हिंदी में- मंगलयान. और शॉर्ट में ‘मॉम’ (MOM). मंगल जाने की हमारी ये पहली कोशिश कामयाब रही. 5 नवंबर, 2013 को सैटेलाइट लॉन्च किया गया. 24 सितंबर, 2014 को ये अपनी मंजिल, यानी मंगल पर पहुंच गया. इंडिया की इसी कामयाबी पर फिल्म आ रही है- मिशन मंगल. रिलीज होने का टाइम पूरा देशभक्त- 15 अगस्त. फिल्म का पहला ट्रेलर 18 जुलाई को आया था. अब दूसरा ट्रेलर आया है. इस दूसरे ट्रेलर में क्या है, ये हम आपको इस स्टोरी में बता रहे हैं.

>> ट्रेलर में क्या-क्या दिख रहा है?

‘मिशन मंगल’ का न्यू ट्रेलर अक्षय कुमार (राकेश धवन) की अनाउंसमेंट से शुरू होता है. वो बताते हैं- GSLV फैटबॉय मिशन फेल हो गया है. ‘फैटबॉय’ वो मिशन था, जिसके ज़रिये ISRO अपने एस्ट्रोनॉट्स को स्पेस में भेजना चाहता था. ताकि वो वहां से ज़रूरी जानकारियां ला सकें. मगर ये मिशन सफल नहीं हो पाया. इस मिशन के फेल होने के बाद ‘इंडियन स्पेस मिशन’ (जो कि ISRO की तर्ज़ पर आया है फिल्म में) अक्षय के किरदार को मंगलग्रह पर मिशन भेजने की तैयारी करने को कहता है. इसके जवाब में अक्षय कुमार फुसफुसाती सी आवाज़ में एक डायलॉग मारते हैं –

पूरे इसरो को पता है कि ये होने वाला नहीं है.

मतलब उन्हें बिल्कुल ये कॉन्फिडेंस है कि मंगल पर मिशन भेजने का टास्क पूरा नहीं हो सकता. मगर फिर ट्रेलर में दिखाया जाता है स्ट्रगल. मिशन के लिए साइंटिस्ट ढूंढने का, उनके काम को परफेक्शन तक लाने का, हार नहीं मानने का, लड़ने का आदि-आदि. ये सब करने के बाद टीम मार्स पर जाने की तैयारी करती है. उन्हें किन-किन मुश्किलों से गुज़रना पड़ता है, ये ट्रेलर बता रहा है. हम इसी प्रोसेस को फिल्म में देखेंगे. लेकिन ट्रेलर में करेक्टर्स की पर्सनल साइड को भी दिखाने की कोशिश की गई है. माने जो लोग इस मिशन में शामिल हैं, वो कैसे हैं? उनका वैल्यू सिस्टम कैसा है? और इतने जोखिम वाले मिशन की तैयारी को वो अपनी आम जिंदगी से कैसे जोड़ते हैं. ये चीज़ें फिल्म में इंट्रेस्ट बढ़ा रही हैं.

>> इस न्यू ट्रेलर की ख़ास बात क्या है?

विमिन पावर. हालांकि ये पावर पहले ट्रेलर में भी दिखी थी, मगर इतनी नहीं. इस वाले ट्रेलर में इसे और अच्छे से दिखाया गया. ये बात ‘मिशन मंगल’ देखने वाली हर महिला को छुएगी भी शायद. इस ट्रेलर में विद्या बालन का किरदार महिलाओं की एक क्लिशेड छवि दिखाता है- किफायत. विद्या मार्स मिशन के बजट को कैसे बढ़ने से रोका जाए, उसकी एक ट्रिक बताती हैं.

मार्स मिशन के खर्द्याचे को कम करने के लिए विद्या की दी ट्रिक सुनकर अक्षय उनके आगे सर झुकाते हुए.
मार्स मिशन के खर्चे को कम करने के लिए विद्या की  ट्रिक सुनकर अक्षय उनके आगे सर झुकाते हुए.

>> ट्रेलर में खटकने वाली बात- दो हैं!

पहली बात, तापसी पन्नू का ड्राइविंग सीखने वाला सीन. अजीब सा है ये. झट से आकर गुजर जाता है. मगर आप इसे प्रोसेस करें, तो सोचेंगे. कि ये आया ही क्यों? तापसी ड्राइविंग सीखते समय गियर बदलते हुए घबरा जाती हैं और ‘कुछ’ कर बैठती हैं. बड़ा हल्का सीन लगता है ये. तापसी का किरदार फिल्म में उस साइंटिस्ट का है, जो मिशन की नेविगेशन और कम्युनिकेशन इंचार्ज हैं. हो सकता है ये सीन कॉमिक फील देने के लिए रखा गया होगा, मगर ये फिल्म के सब्जेक्ट से मैच नहीं होता. हो सकता है कइयों को ये पसंद भी आए.

ट्रेलर में तापसी पन्नू पर फिल्माया ये सीन निराश करता है.
ट्रेलर में तापसी पन्नू पर फिल्माया ये सीन निराश करता है.

दूसरी बात, अक्षय का वही पुराना ह्यूमर स्टाइल. जिसे हम सालों से देख रहे हैं. बिल्कुल वैसा ही, जैसा उनकी कई पुरानी फिल्मों में देख चुके हैं. इसे हर पॉसिबल जगह पर डाला गया है. डायलॉग्स से लेकर एक्सप्रेशन तक. कहने का मतलब ये नहीं है कि वैज्ञानिकों की फिल्म है तो उसमें मज़ाक नहीं हो सकता. मज़ाक ज़रूर हो सकता है मगर इतना प्रेडिक्टेबल और थकेला टाइप नहीं.

>>फिल्म की बेसिक रीविज़न

# फिल्म में अक्षय कुमार के साथ विद्या बालन, तापसी पन्नू, सोनाक्षी सिन्हा, कीर्ति कुल्हाड़ी और नित्या मेनन जैसी पांच एक्ट्रेस काम कर रही हैं. साथ में आखिरी बार ‘काशी इन सर्च ऑफ गंगा’ में नज़र आए शरमन जोशी भी दिखाई देंगे.

# इसे डायरेक्ट करेंगे जगन शक्ति. जगन इससे पहले ‘चीनी कम’, ‘पा’, ‘इंग्लिश विंग्लिश’ और ‘अकीरा’ जैसी फिल्मों में असिस्टेंट डायरेक्टर रह चुके हैं. ‘पैडमैन’, ‘शमिताभ’ और ‘हॉलिडे’ जैसी फिल्मों से बतौर असोसिएट डायरेक्टर जुड़े रहे हैं. आर बाल्कि और अक्षय कुमार के साथ खूब काम किया है. ‘मिशन मंगल’ से वो पहली बार डायरेक्टर बने हैं. फिल्म अक्षय और बाल्कि के प्रोडक्शन में बन रही है.

# इसकी शूटिंग नवंबर 2018 में शुरू हुई थी. फरवरी 2019 तक तापसी समेत और हीरोइनों ने अपना हिस्सा शूट कर लिया था. ‘मिशन मंगल’ 15 अगस्त, 2019 को रिलीज़ हो रही है. उस दिन जॉन अब्राहम की ‘बाटला हाउस’ भी रिलीज़ हो रही है. ‘सेक्रेड गेम्स 2’ भी उसी दिन नेटफ्लिक्स पर आएगी.

***


Video: Mission Mangal Trailer: स्पेस पर बनी पहली फिल्म, जिसके लीड में 5 धांसू एक्ट्रेस हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

पोस्टमॉर्टम हाउस

सेक्रेड गेम्स 2: रिव्यू

त्रिवेदी के बाद अब 'साल का सवाल', क्या अगला सीज़न भी आएगा?

फिल्म रिव्यू: बाटला हाउस

असल घटना से प्रेरित होते हुए भी असलियत के बहुत करीब नहीं है. लेकिन बहुत फर्जी होने की शिकायत भी इस फिल्म से नहीं की जा सकती.

फिल्म रिव्यू: मिशन मंगल

फील गुड कराने वाली फिल्म.

दीपक डोबरियाल की एक शब्दशः स्पीचलेस कर देने वाली फिल्म: 'बाबा'

दीपक ने इस फिल्म में अपनी एक्टिंग का एवरेस्ट छू लिया है.

फिल्म रिव्यू: जबरिया जोड़ी

ये फिल्म कंफ्यूज़ावस्था में रहती है कि इसे सोशल मैसेज देना है कि लव स्टोरी दिखानी है.

क्या जापान का ये आर्क ऐटम बम और सुनामी झेलने के बाद भी जस का तस खड़ा है?

क्या ये आर्क परमाणु बम, भूकंप और विशाल समुद्री लहरें झेल गया है?

फिल्म रिव्यू: ख़ानदानी शफ़ाखाना

'खानदानी शफाखाना' की सबसे दिलचस्प बात उसका नाम और कॉन्सेप्ट ही है.

ऐसी बवाल गैंग्स्टर फिल्म आ रही है कि आप दोस्तों से Netflix का पासवर्ड मांगते फिरेंगे

जिसने बनाया है, अनुराग कश्यप ने उसके पैर पकड़ लिए थे

जानिए कैसे खरीदते हैं यूट्यूब पर वीडियो के व्यूज़

इतने बड़े अचीवमेंट के बावजूद बादशाह को गूगल-यूट्यूब ने वो नहीं दिया, जो दुनियाभर के मशहूर सेलेब्रिटीज़ को दिया.

मंदाकिनी के झरने में नहाने वाले सीन को आलोचकों ने अश्लील नग्नता कहा तो राज कपूर ने ये जवाब दिया

वो तीन बातें जो मंदाकिनी के बारे में सब जानना चाहते हैं.